Home समाचार कोरोना संकट : पीएम मोदी ने पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री...

कोरोना संकट : पीएम मोदी ने पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री के साथ ही विपक्षी दलों के नेताओं से की बात

995
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश की बागडोर संभालने के बाद ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ का मंत्र दिया था। कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भी प्रधानमंत्री मोदी ने इसी मंत्र को अपना हथियार बनाया है। चाहे विश्व के दूसरे देशों के राष्ट्राध्यक्ष हो या भारत के विपक्षी दल के साथ ही अन्य निजी और सामाजिक संगठन। प्रधानमंत्री मोदी हर वर्ग को एक मंच पर लाने की कोशिश में जुटे हैं। इसी एकजुटता के प्रयास को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार के पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री से बात की। इसके अलावा उन्होंने विपक्षी दलों के नेताओं से भी बात की।

पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री से बात
प्रधानमंत्री कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को सबसे पहले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को फोन कर कोरोना के मुद्दे पर बात की। इसके बाद उन्होंने प्रतिभा पाटिल से भी बात की। इसके साथ ही उन्होंने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और एच डी देवेगौड़ा को भी फोन मिलाया।

विपक्षी नेताओं को लगाया फोन
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से प्रधानमंत्री मोदी की बातचीत हुई । उनके अलावा समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव, तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, बीजू जनता दल सुप्रीमो और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक, डीएमके चीफ एम के स्टालिन और तेलंगाना के सीएम केसीआर से भी फोन पर बात की। उन्होंने अकाली दल के सीनियर नेता प्रकाश सिंह बादल को भी फोन मिलाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने दी जानकारी, मांगा सुझाव  
जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी ने सभी को कोरोना वायरस से बचाव के लिए अब तक उठाए गए कदमों के बारे में बताया और साथ ही कोरोना से निपटने के लिए उनके सुझाव भी मांगे। 

8 अप्रैल को ऑल पार्टी मीटिंग
प्रधानमंत्री मोदी ने 8 अप्रैल को ऑल पार्टी मीटिंग भी बुलाई है। इसमें भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कोरोना वायरस पर चर्चा होनी है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री आठ अप्रैल को सुबह 11 बजे सदन में उन विभिन्न पार्टियों के नेताओं से बातचीत करेंगे, जिनके लोकसभा और राज्यसभा में पांच या इससे अधिक सदस्य हैं। चर्चा में पहले ममता बनर्जी के शामिल नहीं होने की खबर आई थी, अब मीटिंग से पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें फोन कर लिया। अब हो सकता है कि ममता 8 अप्रैल को मीटिंग में शामिल हों।
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी खेल जगत, बिजनेस जगत, मनोरंजन जगत के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बातचीत की। उनसे लोगों को जागरूक करने की अपील की, साथ ही पीएम केयर्स फंड के लिए अपील की। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी अगल-अलग देशों के शीर्ष नेताओं से भी फोन पर बाचतीच कर रहे हैं।

 

Leave a Reply