Home नरेंद्र मोदी विशेष दिल्ली के हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन की मुलाकात,...

दिल्ली के हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन की मुलाकात, पीएम मोदी बोले- भारत-रूस की दोस्ती अंतरराज्यीय मित्रता का अनूठा और विश्वसनीय मॉडल

303
SHARE

दिल्ली के हैदराबाद हाउस में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच मुलाकात हुई। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रूस का सहयोग मिला है। रक्षा क्षेत्र में पहले से ही सहयोग मिल रहा है और रणनीतिक साझेदारी मजबूत होती जा रही है। इससे दोनों देशों के बीच रिश्ते मजबूत हुए हैं। इस मौके पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध बढ़ रहे हैं और मैं भविष्य की ओर देख रहा हूं। हम भारत को एक महान शक्ति, एक मित्र राष्ट्र और समय की कसौटी पर खरे उतरने वाले मित्र के रूप में देखते हैं।

दुनिया में कई चीजें बदलीं, पर भारत-रूस की दोस्ती कायम रही
पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ दशकों में दुनिया में कई प्रकार के भू-राजनीतिक समीकरण सामने आए हैं, लेकिन भारत और रूस की दोस्ती कायम रही। पिछले कई दशकों में भारत-रूस मित्रता Constant रही है। दोनों देशों ने निसंकोच सहयोग दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और रूस के बीच संबंध वास्तव में अंतरराज्यीय मित्रता का एक अनूठा और विश्वसनीय मॉडल है। आर्थिक मोर्चे पर हम और मजबूत हुए हैं। रक्षा क्षेत्र में भी हम काफी आगे निकल चुके हैं।

30 बिलियन डॉलर ट्रेड और 50 बिलियन डॉलर के निवेश का लक्ष्य
पीएम मोदी ने कहा कि आर्थिक क्षेत्र में भी हमारे रिश्तों को आगे बढ़ाने के लिए हम एक दीर्घकालिक दृष्टि अपना रहे हैं। हमने 2025 तक 30 बिलियन डॉलर ट्रेड और 50 बिलियन डॉलर के निवेश का लक्ष्य रखा है। आज हमारे बीच हुए विभिन्न समझौतों से इसमें मदद मिलेगी। मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत कोर डेवलपमेंट और को-प्रोडक्शन से हमारा रक्षा सहयोग और मज़बूत हो रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड से उत्पन्न चुनौतियों के बावजूद, भारत-रूस संबंधों की वृद्धि की रफ्तार में कोई बदलाव नहीं आया है। हमारी विशेष रणनीतिक साझेदारी लगातार मजबूत होती जा रही है।

 

 

 

‘हमेशा कसौटी पर खरा उतरने वाला दोस्त है भारत’ 
रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध बढ़ रहे हैं और मैं भविष्य की ओर देख रहा हूं। हम भारत को एक महान शक्ति, एक मित्र राष्ट्र और समय की कसौटी पर खरे उतरने वाले मित्र के रूप में देखते हैं। पुतिन ने कहा कि अभी रूस थोड़ा और निवेश आ रहा है जिससे आपसी निवेश लगभग 38 बिलियन पहुंच गया है। हम सैन्य और तकनीकी क्षेत्र में बहुत सहयोग करते हैं जैसा कोई अन्य देश नहीं करता। हम भारत में उच्च तकनीक विकसित करने के साथ-साथ उत्पादन भी करते हैं।

आतंकवाद को लेकर चिंतित होना स्वाभाविक : राष्ट्रपति पुतिन
रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि स्वाभाविक रूप से हम हर उस चीज के बारे में चिंतित हैं जिसका आतंकवाद से लेना-देना है। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई भी मादक पदार्थों की तस्करी और संगठित अपराध के खिलाफ लड़ाई है। हम अफगानिस्तान की स्थिति और वहां के हालात के बारे में चिंतित हैं। रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि हम सहयोगी हैं और बहुत महत्वपूर्ण चीजों पर साथ काम कर रहे हैं जिसमें ऊर्जा क्षेत्र, अंतरिक्ष सहित उच्च तकनीक शामिल हैं। आज हमने यहां जिन प्रोग्राम पर बात की है उन्हें पूरी तरह से लागू किया जाएगा जिसमें भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों की ट्रेनिंग शामिल है।

 

Leave a Reply