Home समाचार सैकड़ों छात्र-छात्राओं के खान-पान और पढ़ाई-लिखाई की व्यवस्था करेगा अन्नपूर्णाधाम ट्र्स्ट : पीएम...

सैकड़ों छात्र-छात्राओं के खान-पान और पढ़ाई-लिखाई की व्यवस्था करेगा अन्नपूर्णाधाम ट्र्स्ट : पीएम मोदी

173
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानि मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात के अदालत में श्री अन्नपूर्णाधाम ट्रेट के छात्रावास एवं शिक्षा परिसर का उद्घाटन किया। इसी कार्यक्रम के दौरान उन्होंने जनसहायक ट्रस्ट के हीरामनी आरोग्यधाम का भूमिपूजन भी किया। अन्नपूर्णाधाम ट्रस्ट के छात्रावास एवं शिक्षा परिसर के अंतर्गत 150 कमरों का छात्रावास होगा। यहां पर करीब 600 छात्रों के रहने के साथ ही उनके खाने-पीने की सारी सुविधाएं दी जाएंगी। इस छात्रावास एवं शिक्षा परिसर के माध्यम से सैकड़ों छात्र-छात्राओं की शिक्षा की व्यवस्था की जाएगी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मां अन्नपूर्णा के इस पावन धाम में आस्था, अध्यात्म और सामाजिक दायित्वों से जुड़े बड़े अनुष्ठानों से जुड़ने का मुझे अवसर मिलता रहता है। मां के आशीर्वाद से ही इस बार भी आपके बीच रहने का मौका मिला है। समृद्धि व धनधान्य की देवी मां अन्नपूर्णा के प्रति हमारी अगाध आस्था रही है। पाटीदार समाज तो धरती मां से सीधे तौर पर जुड़ा रहा है।

कनाडा से ला पाए मां अन्नपूर्णा की मूर्ति

अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से चोरी की गई मूर्तियों को विदेशों से वापस लाने के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि कुछ महीने पहले मां अन्नपूर्णा की मूर्ति को हम कनाडा से काशी वापस ले आए हैं। मां अन्नपूर्णा माता की इस मूर्ति को दशकों पहले काशी से चुराकर विदेशों में पहुंचा दिया गया था। अपनी संस्कृति के ऐसे दर्जनों प्रतीकों को बीते सात-आठ साल में विदेशों से वापस लाया जा चुका है।

जिला अस्पताल में फुफ्त डायलिसिस शुरू

पीएम मोदी ने कहा कि आपके इस प्रकार के प्रयास से केंद्र सरकार द्वारा जिला अस्पतालों में शुरू की मुफ्त डायलिसिस की सुविधा के अभियान को और बल मिलेगा। इन सभी प्रयासों और सेवा-भाव के लिए आप सभी प्रशंसा के पात्र हैं। उन्होंने आगे कहा कि अन्नपूर्णाधाम ट्रस्ट के छात्रावास एवं शिक्षा परिसर के अंतर्गत 150 कमरों का छात्रावास होगा। यहां पर करीब 600 छात्रों के रहने-खाने समेत अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अलावा यूपीएससी, गुजरात पीएससी के लिए ट्रेनिंग, ई-लाइब्रेरी के साथ-साथ सम्मेलन कक्ष और कई अन्य सुविधाएं शामिल होंगी।

Leave a Reply