Home समाचार पीएम मोदी ने उत्तराखंड को दी 18 हजार करोड़ रुपये की सौगात,...

पीएम मोदी ने उत्तराखंड को दी 18 हजार करोड़ रुपये की सौगात, कहा-परियोजनाएं इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने में अहम भूमिका निभाएंगी

218
SHARE

उत्‍तराखंड समेत पांच राज्‍यों में विधानसभा चुनावों के प्रचार का बिगुल बज चुका है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार (04 दिसंबर, 2021) को देहरादून में 18 हजार करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इसके बाद उन्होंने परेड मैदान में जनसभा को संबोधित भी किया। इस दौरान रैली में शामिल होने के लिए कार्यकर्ताओं की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में ही प्रदेशवासियों का दिल जीत लिया। प्रधानमंत्री ने गढ़वाली भाषा में अपने संबोधन की शुरुआत कर प्रदेशवासियों की कुशलक्षेम पूछी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उत्तराखंड का विकास डबल इंजन की सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।
पिछले पांच सालों में उत्तराखंड के विकास के लिए 1 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की परियोजनाएं स्वीकृत की है। राज्य सरकार इन्हें तेजी से जमीन पर उतार रही है। इसीलिए आज यहां 18 हजार करोड़ से ज्यादा की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ये परियोजनाएं इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने में अहम भूमिका निभाएंगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि अब बद्रीनाथ जी की यात्रा पहले से सुरक्षित और सुगम हो जाएगी। बेहतर सुविधा मिलने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। 

जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने पिछली सरकारों पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि 10 साल तक इंफ्रास्ट्रक्चर के नाम पर देश में घोटाले किए गए। आज उसकी भरपाई करने में सरकार लगी हुई है। इसके साथ ही उन्होंने साफ किया कि आज की सरकार किसी के भी दवाब में काम नहीं करती है। प्रधानमंत्री मोदी ने तंज सकते हुए कहा कि पिछली सरकारों ने हर स्तर पर सेना का मनोबल गिराने की कोशिश की। सभी राजनीतिक दलों की एक ही कोशिश रही है कि जनता को सरकार पर कैसे आश्रित बना कर रखा जाए। लेकिन बीजेपी ने इससे अलग रास्ता चुना है।

जनसभा को संबोधित करने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले परेड मैदान में प्रदर्शनी का अवलोकन किया, जिसके बाद उन्होंने करोड़ों की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री ने जिन योजनाओं का शिलान्यास किया, उनमें 8600 करोड़ की लागत से बनने वाला दिल्ली-देहरादून आर्थिक गलियारा (इकोनॉमिक कॉरिडोर) भी शामिल है। जिन योजनाओं का लोकार्पण हुआ उनमें 120 मेगावाट की व्यासी जलविद्युत परियोजना मुख्य है।

प्रधानमंत्री मोदी ने इन योजनाओं का किया लोकार्पण

120 मेगावाट की व्यासी जलविद्युत परियोजना (लागत 1777 करोड़ रुपये)

-आल वेदर रोड परियोजना में देवप्रयाग से श्रीकोट तक सड़क का चौड़ीकरण (257.34 करोड़ रुपये)

-आल वेदर रोड परियोजना में ब्रह्मपुरी से कौडियाला तक चौड़ीकरण व डक्ट निर्माण (248.22 करोड़ रुपये)

-आल वेदर रोड परियोजना के तहत लामबगड़ में भूस्खलन क्षेत्र का उपचार (107.68 करोड़ रुपये)

-आल वेदर रोड परियोजना में साकनीधार, श्रीनगर व देवप्रयाग में भूस्खलन क्षेत्रों का उपचार (75.9 करोड़ रुपये)

-हिमालयन कल्चर सेंटर (67 करोड़ रुपये)

-स्टेट आफ आर्ट परफ्यूमरी एंड एरोमा लैबोरेट्री देहरादून (40 करोड़ रुपये)

इन योजनाओं का हुआ शिलान्यास

-175 किमी लंबा दिल्ली-देहरादून आर्थिक गलियारा (8600 करोड़ रुपये)

-दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे हरिद्वार, हलगोवा, बहादराबाद तक जुड़ाव (2082 करोड़ रुपये)

-हरिद्वार रिंग रोड: मनोहरपुर से कांगड़ी (1602 करोड़ रुपये)

-लक्ष्मणझूला के निकट सेतु निर्माण (69.263 करोड़ रुपये)

-देहरादून-पांवटा साहिब (1695 करोड़ रुपये)

-नजीबाबाद-कोटद्वार एनएच का चौड़ीकरण (86 करोड़ रुपये)

-बदरीनाथ धाम में आधारभूत सुविधाओं का विकास (220 करोड़ रुपये)

-गंगोत्री-यमुनोत्री धाम में आधारभूत सुविधाओं का विकास (54 करोड़ रुपये)

-हरिद्वार मेडिकल कालेज (538 करोड़ रुपये)

-देहरादून में जलापूर्ति, सड़क व ड्रेनेज सिस्टम (724 करोड़ रुपये)

-चाइल्ड फ्रेंडली सिटी प्रोजेक्ट देहरादून (58 करोड़ रुपये)

Leave a Reply