Home समाचार आज बिहार में गुंडागर्दी हार रही है, कानून का राज वापस लाने...

आज बिहार में गुंडागर्दी हार रही है, कानून का राज वापस लाने वाले फिर जीत रहे हैं: प्रधानमंत्री मोदी

275
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार में एक बार फिर एनडीए सरकार बनने का भरोसा जताया है। बिहार के अररिया और सहरसा में चुनावी जनसभाओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आरजेडी और कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए कहा कि NDA के विरोध में जो लोग खड़े हैं, वो इतना कुछ खाने-पीने के बाद अब फिर से बिहार को लालच भरी नजरों से देख रहे हैं। लेकिन बिहार की जनता जानती है कि कौन बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है और कौन अपने परिवार के विकास के लिए। आज बिहार में परिवारवाद हार रहा है, जनतंत्र फिर जीत रहा है। आज बिहार में रंगबाजी और रंगदारी हार रही है, विकास फिर जीत रहा है। आज बिहार में अहंकार हार रहा है, परिश्रम फिर जीत रहा है। आज बिहार में घोटाला हार रहा है, लोगों का हक फिर जीत रहा है। आज बिहार में गुंडागर्दी हार रही है, कानून का राज वापस लाने वाले फिर जीत रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा अररिया की रैली में कहा, “आज बिहार के लोगों ने देश ही नहीं, पूरे विश्व को एक संदेश दिया है। कोरोना के इस संकट काल में, जब दुनिया भर में हड़कंप मचा है, बिहार के लोग अपने घरों से निकल रहे हैं, इतनी बड़ी संख्या में मतदान कर रहे हैं। यह पूरे विश्व के लिए बहुत भरोसा जगाने वाली बात है। ऐसे कठिन समय में, इतनी तैयारी के साथ, सारी सावधानियों के साथ चुनाव कराने के लिए मैं चुनाव आयोग को बधाई देता हूं। हमारे जो सुरक्षाबलों के लोग हैं, जो प्रशासन के लोग हैं, जो चुनाव प्रक्रिया को सुनिश्चित करा रहे हैं, वे भी बहुत अभिनंदन के पात्र हैं। पहले चरण के मतदान के बाद, और अभी जो शुरुआती जानकारी मिल रही है उसके बाद एक बात साफ है- बिहार में फिर एक बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है। बिहार की पवित्र भूमि ने ठान लिया है कि इस नए दशक में बिहार को नई ऊंचाई पर पहुंचाएंगे। बीता दशक बिहार की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए था। अब यह दशक बिहार की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए है।“

पीएम मोदी ने कहा, “बीते दशक में बिहार में हर घर में बिजली पहुंची, अब यह दशक बिहार को चौबीसों घंटे जगमगाने का है। बीते दशक में बिहार में घर-घर गैस कनेक्शन पहुंचा, अब यह दशक बिहार के घरों में पाइप से गैस पहुंचाने का है। बीते दशक में बिहार के हर घर में शौचालय की सुविधा पहुंची। अब यह दशक बिहार के हर गरीब को पक्की छत देने का है। बीते दशक में शहर और गांव में सड़कों की स्थिति सुधरी, अब यह दशक नए एयरपोर्ट, वाटरपोर्ट देने का है। बीते दशक में जंगलराज के प्रभावों को कम किया गया, अब यह दशक बिहार की नई उड़ान का है, नई संभावनाओं का है। बिहार को जब फिर इस बार डबल इंजन की ताकत मिलेगी, तो यहां का विकास पहले से भी तेज गति से होगा।“

केंद्र सरकार और राज्य सरकार की विकास से जुड़ी उपलब्धियों की चर्चा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र पर चलते हुए आज एनडीए सरकार बिना किसी भेदभाव लोगों के हितों के लिए काम कर रही है। आज बिना किसी भेदभाव बिहार के 74 लाख से ज्यादा किसानों के बैंक खातों में सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा रहे हैं। यहां अररिया के भी 2 लाख किसानों को यह मदद मिली है। बिना किसी भेदभाव बिहार की लगभग 90 लाख गरीब बहनों-बेटियों को गैस का मुफ्त कनेक्शन दिया गया है। यहां अररिया में भी साढ़े तीन लाख से ज्यादा महिलाओं को इसका लाभ मिला है। बिना किसी भेदभाव बिहार में सवा करोड़ से ज्यादा शौचालय बनवाए गए हैं। यहां अररिया में भी 4 लाख से ज्यादा शौचालय बने हैं। बिना किसी भेदभाव आज बिहार के हर गरीब को आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा मिली है।

पीएम मोदी ने कहा, “बिहार के विकास का सपना बिहार में कनेक्टिविटी सुधार कर ही पूरा किया जा सकता है। बेहतर कनेक्टिविटी अपने साथ उद्यम, उद्योग और रोजगार के नए अवसर, तीनों साथ लेकर आती है। यही वजह है कि अटल जी के समय, इस इलाके में सड़क संपर्क सुधारने पर बहुत ध्यान दिया गया था। यही वजह है कि जब पीएम पैकेज का ऐलान किया गया था, तो उसमें सबसे ज्यादा जोर बिहार में कनेक्टिविटी सुधारने पर दिया गया। फारबिसगंज-जोगबनी रोड हो या फारबिसगंज-सीतामढ़ी रोड, ऐसे अनेक हाइवे के निर्माण और चौड़ीकरण पर इस क्षेत्र में एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च किए जा रहे हैं। जोगबनी-विराट नगर और अररिया-गलगलिया जैसी नई रेल लाइनों के आधुनिकीकरण पर यहां साढ़े 5 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का निवेश किया जा रहा है। पूर्णिया में एयरपोर्ट के विस्तारीकरण की प्रक्रिया भी चल रही है। मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि बिहार की कनेक्टिविटी को लेकर जितना काम आज हो रहा है, उतना बिहार में कभी नहीं हुआ। हमें इन कामों को रुकने नहीं देना है।“ नवनिर्मित कोसी महासेतु की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा- कनेक्टिविटी को लेकर हमारे प्रयासों का एक बड़ा प्रमाण है- कोसी महासेतु। दशकों पहले कोसी का पुराना पुल टूटने के बाद फिर कोसी पर पुल बन नहीं पाया था। दशकों से मिथिलांचल बंटा हुआ था। अब कोसी महासेतु के निर्माण के बाद यह पूरा क्षेत्र फिर एक हुआ है। यह महासेतु अब लोगों का समय भी बचा रहा है और पैसा भी।

सहरसा में दूसरी चुनावी रैली को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा, “रेलवे व्यवस्था में बिहार, देश की आत्मनिर्भरता का बहुत बड़ा केंद्र है। आज बिहार की बदौलत भारत बहुत ज्यादा शक्तिशाली रेल इंजन बनाने वाले दुनिया के बड़े देशों में शामिल हो चुका है। आधुनिक और तेज रफ्तार ट्रेनों के निर्माण में भी बिहार की बड़ी भूमिका है। मधेपुरा की फैक्ट्री ने तेज चलने वाली मालगाड़ियों के लिए इस कोरोना काल में भी बहुत काम किया है। आज जब पूरी दुनिया की कंपनियां मेक इन इंडिया के लिए भारत आ रही हैं, तो इसका बहुत बड़ा लाभ बिहार को भी मिलने वाला है। जिस तरह बिहार में कनेक्टिविटी बढ़ रही है, गांव-गांव सड़क पहुंचाने, इंटरनेट पहुंचाने का काम हो रहा है, उससे बिहार के विकास को और गति मिलने वाली है।“

मतदाताओं से बड़ी संख्या में मतदान की अपील करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “मैं बिहार के हर युवा से, एनडीए के सभी कार्यकर्ताओं से आग्रह करूंगा कि पूरी ताकत लगा दीजिए। हमें पूरी शक्ति के साथ एक-एक वोटर तक पहुंचना है, एनडीए के संकल्पों को, बिहार के लिए हमारे रोडमैप को उन तक पहुंचाना है। इस बार वोटिंग के भी और जीत के भी सभी पुराने रिकॉर्ड तोड़ने हैं। भाजपा, जेडीयू, हम पार्टी और वीआईपी पार्टी के हर उम्मीदवार के पक्ष में पड़ा हर वोट, इस दशक को बिहार के नाम करेगा। एनडीए की होने वाली रिकॉर्ड जीत बिहार के युवाओं की आकांक्षाओं की जीत होगी।“

Leave a Reply