Home विशेष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस विशेष : ‘‘माई लाइफ माई योगा‘ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता...

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस विशेष : ‘‘माई लाइफ माई योगा‘ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता में लोगों ने लिया बढ़-चढ़कर हिस्सा, दिखा जबरदस्त उत्साह

592
SHARE

पिछले कई वर्षों से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सार्वजनिक स्थानों पर योग के हजारों कार्यक्रम होते रहे हैं। लेकिन कोरोना संकट काल में सामूहिक भागीदारी उचित नहीं है। इसलिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 31 मई, 2020 को अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में ‘माई लाइफ माई योगा’ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता की घोषणा की और लोगों से इसमें भाग लेने की अपील की। प्रधानमंत्री मोदी ने इस प्रतियोगिता के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस -2020 को मनाने और लोगों को अपने घर पर ही, पूरे परिवार के साथ योग का अभ्यास करने को प्रोत्साहित किया।  

प्रधानमंत्री मोदी की अपील के बाद इस प्रतियोगिता में भागीदारी को लेकर लोगों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। इस प्रतियोगिता में फिल्म अभिनेता से लेकर बुजुर्गों, युवाओं, महिलाओं और बच्चों ने हिस्सा लिया, जिससे यह एक जन आंदोलन बन गया। लोगों ने अपने-अपने वीडियो बनाकर हैशटैग #MyLifeMyYogaINDIA के साथ ट्वीटर और इंस्टाग्राम पर अपलोड किया। आपको भी दिखाते हैं कि लोगों ने किस तरह से इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया।

इस प्रतियोगिता ने योग की उपचारात्मक और चिकित्सीय क्षमता के साथ-साथ लोगों के जीवन पर योग के उल्‍लेखनीय प्रभावों के बारे में भी वैश्विक स्‍तर पर जागरूकता बढ़ाने में व्‍यापक योगदान दिया। इस बार योग संस्‍थानों, योग स्टूडियो, योग प्रोफेशनलों के साथ ही प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया जैसे विभिन्न प्लेटफॉर्मों के माध्यम से ब्लॉगिंग प्रतियोगिता के बारे में जागरूक किया गया।

बता दें कि ब्लॉगिंग प्रतियोगिता MyGov.gov.in जैसे विभिन्न डिजिटल प्लेटफॉर्मों पर शुरू की गई, जो 15 जून, 2020 को समाप्त हुई। वीडियो प्रतियोगिता के लिए प्रतिभागियों द्वारा प्रविष्टियों को तीन श्रेणियों के तहत प्रस्तुत किया गया, जिनमें युवा (18 वर्ष से कम आयु), वयस्क (18 वर्ष से अधिक उम्र) और योग प्रोफेशनल शामिल थे और इसके साथ ही ये श्रेणियां पुरुष एवं महिला प्रतिभागियों के लिए अलग-अलग तय की गई थी। इस तरह से कुल छह श्रेणियों में विभाजित किया गया था। भारत के प्रतिभागियों के मामले में प्रथम, द्वितीय और तृतीय पुरस्कार पाने वालों को प्रत्येक श्रेणी के लिए 1 लाख रुपये, 50,000 रुपये और 25,000 रुपये का पुरस्कार निर्धारित गए है, जबकि वैश्विक पुरस्कार 2500 डॉलर, 1500 डॉलर और 1000 डॉलर है।

 

Leave a Reply