Home समाचार फिर इतिहास रचने की तैयारी, पद पर रहते हुए बाबा बैद्यनाथ की...

फिर इतिहास रचने की तैयारी, पद पर रहते हुए बाबा बैद्यनाथ की पूजा करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होंगे नरेन्द्र मोदी

362
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पुरानी लकीर को छोटा करने की जगह उसके सामने उससे बड़ी और नई लकीर खींचने के लिए जाने जाते हैं। प्रधानमंत्री मोदी 12 जुलाई को फिर इतिहास रचने जा रहे हैं। इस दिन प्रधानमंत्री मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री होंगे जो प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग की पूरे वैदिक रीति-रिवाज से पूजा अर्चना करेंगे। इससे पहले भी देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी यहां आकर चुनावी सभा कर चुके हैं लेकिन बाबा मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना नहीं की।

पीएम मोदी के स्वागत के लिए व्यापक तैयारियां

प्रधानमंत्री मोदी के प्रस्तावित देवघर दौरे को लेकर व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री के आगमन से एक दिन पहले यानि 11 जुलाई की शाम देवघर 1 लाख दियों से रोशन होगा। इसके साथ ही स्थानीय सांसद निशिकांत दुबे ने तमाम शहरवासियों से अपने घरों में भी एक दिया जलाने की अपील की है। प्रधानमंत्री के बाबा नगरी आगमन पर वैदिक परंपरा के अनुसार मन्त्रोच्चारण, भजन-कीर्तन के साथ ही पूरे रूट में 55 स्टॉल के ज़रिए पुष्पवर्षा की जाएगी। सांसद निशिकांत दुबे तैयारियों पर लगातार नजर बनाये रखे हैं। इसके लिए बीजेपी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ लगातार बैठकें कर रहे हैं।

पीएम मोदी के दौरे को यादगार बनाने की तैयारी

प्रधानमंत्री मोदी के दौरे को यादगार बनाने के लिए बाबा मंदिर प्रबंधन बोर्ड भी तैयारियां कर रहा हैं। सूत्रों के मुताबिक बाबा मंदिर पहुंचते ही सबसे पहले शंख ध्वनि से प्रधानमंत्री का स्वागत किया जाएगा। बताया यह भी जा रहा है कि मंदिर के गर्भगृह में प्रधानमंत्री अकेले पूजा अर्चना कर सकते हैं। इन सब के बाद बाबा मंदिर प्रबंधन की तरफ से प्रधानमंत्री मोदी को रेशम की धोती, लोटा और रुद्राक्ष के साथ ही मोमेंटो उपहार के तौर पर दिया जाएगा।

देवघर एयरपोर्ट और एम्स के 200 बेड का उद्घाटन 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने देवघर दौरे के दौरान विभिन्न योजनाओं की सौगात देंगे। प्रधानमंत्री मोदी सबसे पहले नवनिर्मित देवघर एयरपोर्ट का उद्घाटन करेंगे। इसी दिन यहां से इंडिगो की फ्लाइट यात्रियों को लेकर कोलकाता के लिए उड़ान भी भरेगी। देवघर से कोलकाता के लिए 76 सीटों वाली पहली इंडिगो फ्लाइट रवाना होगी। इसके अलावा एम्स के 200 बेड का ऑनलाइन उद्घाटन भी करेंगे। इसके बाद बाबा बैद्यनाथ मंदिर पहुंचेंगे। यहां करीब 45 मिनट तक रुकने के बाद प्रधानमंत्री मोदी देवघर कॉलेज मैदान के लिए प्रस्थान करेंगे और यहीं से लाखों लोगों को संबोधित करेंगे। 

 

Leave a Reply