Home कोरोना वायरस विदेशों से लौटने वाले नागरिकों के लिए मोदी सरकार लेकर आई स्वदेस...

विदेशों से लौटने वाले नागरिकों के लिए मोदी सरकार लेकर आई स्वदेस योजना

746
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार विदेशों से लौटने वाले नागरिकों के लिए स्वदेस (स्किल्ड वर्कर्स अराइवल डेटाबेस फॉर एम्प्लॉयमेंट सपोर्ट) योजना लेकर आई है। कोरोना संकट के कारण देश वापस लौटने वाले कुशल लोगों का बेहतर उपयोग करने के लिए स्वदेस शुरू की गई है। इसमें वंदे भारत मिशन के तहत लौटने वाले नागरिकों का कौशल मानचित्रण (स्किल मैपिंग) किया जाएगा। यह कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय और विदेश मंत्रालय की एक संयुक्त पहल है। इसका मकसद भारतीय और विदेशी कम्‍पनियों की मांग को समझने और उसे पूरा करने के लिए उनके कौशल और अनुभव के आधार पर योग्य नागरिकों का एक डेटाबेस बनाना है।

एकत्रित जानकारी को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कंपनियों के साथ साझा किया जाएगा। लौटने वाले नागरिकों को एक ऑनलाइन स्‍वदेस कौशल कार्ड भरना होगा। कार्ड राज्य सरकारों, उद्योग संघों और नियोक्ताओं के साथ रोजगार के अवसर प्रदान करने में एक रणनीतिक ढांचा प्रदान करेगा।

केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री डॉ महेन्‍द्र नाथ पांडे ने कहा, “हमें खुशी है कि वंदे भारत मिशन के अंतर्गत विदेशों से लौटने वाले नागरिकों का कौशल मानचित्रण कराने के लिए हमने नागर विमानन मंत्रालय और विदेश मंत्रालय के साथ साझेदारी की है। माननीय प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा सभी के लिए सुरक्षा और विकास के दृष्टिकोण से प्रेरित, स्‍वदेस कौशल कार्ड के माध्यम से एकत्र किए गए आंकड़ों से नागरिकों को नौकरी की संभावनाएं दिलाने और मांग-आपूर्ति के अंतर को पाटने में मदद मिलेगी।”

दुनिया भर में कोरोना संकट के कारण हजारों श्रमिकों पर जबरदस्‍त आर्थिक प्रभाव पड़ा है। हजारों श्रमिकों को अपनी नौकरियां गंवानी पड़ी हैं और दुनिया भर में सैकड़ों कंपनियां बंद हो रही हैं। वंदे भारत मिशन के जरिए से देश लौटने वाले नागरिक रोजगार के अवसरों को लेकर अनिश्चितता का सामना कर सकते हैं। ऐसे में स्वदेस योजना उनके लिए फायदेमंद साबित होगा।

विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, “जब हमने वंदे भारत मिशन की शुरुआत की, तो हमने देखा कि हमारे बहुत से विदेशी कर्मचारी नौकरी के नुकसान के कारण भारत लौट रहे हैं,उनके पास अंतरराष्ट्रीय कौशल और अनुभव हैं जिसकी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजारों के लिए बहुत उपयोगिता है। हम इन श्रमिकों के डेटाबेस को इकट्ठा करने के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल बनाने के लिए एमएसडीईतक पहुंचे। स्‍वदेस कौशल कार्ड के बारे में जानकारी का प्रसार सुनिश्चित करने के लिए, एयर इंडिया और एयर इंडियन एक्सप्रेस द्वारा विमान के अंदर घोषणाएं की जा रही हैं, जो वंदे भारत मिशन के तहत उड़ानों का संचालन कर रही हैं। भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण और अन्य निजी हवाई अड्डों ने भी बैनर/स्टैंड और डिजिटल निर्देशक संकेतक लगाए हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हमारे विदेश से लौटने वाले सभी प्रवासियों को इस पहल के बारे में सूचित किया जा सके।

स्वदेस ऑनलाइन फॉर्म www.nsdcindia.org/swades पर उपलब्ध हैं। फॉर्म में कार्यक्षेत्र, नौकरी का शीर्षक, रोजगार, अनुभव के वर्षों से संबंधित विवरण शामिल हैं। फॉर्म भरने से संबंधित किसी भी प्रश्न के लिए नागरिकों को सहयोग देने के लिए एक टोल फ्री कॉल सेंटर सुविधा भी स्थापित की गई है। आप टोल फ्री नंबर 1800 123 9626 पर फोन कर ज्यादा जानकारी पा सकते हैं।

Leave a Reply