Home कोरोना वायरस केजरीवाल ने की थी जरूरत से 4 गुना अधिक ऑक्सीजन की डिमांड,...

केजरीवाल ने की थी जरूरत से 4 गुना अधिक ऑक्सीजन की डिमांड, SC पैनल की रिपोर्ट में खुलासा, लोगों का भड़का गुस्सा

1073
SHARE

दिल्ली के विवादित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के झूठ और नौटंकी की पोल सुप्रीम कोर्ट के पैनल ने खोल दी है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित ऑक्सीजन ऑडिट टीम की रिपोर्ट में दिल्‍ली की अरविंद केजरीवाल सरकार पर गंभीर सवाल उठाए गए हैं। इस रिपोर्ट में ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर दिल्ली सरकार को कठघरे में खड़ा किया गया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित इस टीम की छानबीन में पाया गया है कि जब दिल्ली में 25 अप्रैल से 10 मई के बीच कोरोना वायरस की दूसरी लहर चरम पर थी, तब दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार ने जरूरत से चार गुना ज्‍यादा ऑक्‍सीजन की डिमांड की थी। और केजरीवाल सरकार की इस गैरजिम्मेदाराना हरकत से 12 राज्यों में ऑक्सीजन की सप्‍लाई प्रभावित हुई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एससी की ऑडिट टीम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि दिल्ली में बिस्तर क्षमता के हिसाब से 289 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन की आवश्यकता थी, जबकि दिल्ली सरकार द्वारा 1,140 एमटी ऑक्‍सीजन की मांग की गई थी। दिल्ली को अधिक ऑक्सीजन की सप्लाई की वजह से राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश जैसे कई राज्यों में मांग के अनुरूप ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं जा सकी।

ताज्जुब की बात यह है कि दिल्ली सरकार ऐसी किसी रिपोर्ट से ही इनकार कर रही है। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का कहना है कि फर्जी रिपोर्ट के आधार पर बखेड़ा खड़ा किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की इस हरकत पर लोगों का गुस्सा भड़क गया है। ट्वीटर पर #ArrestKejriwal टॉप ट्रेंड कर रहा है और बड़ी संख्या में लोग इसके लिए सीएम केजरीवाल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

Leave a Reply