Home समाचार हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ के बाद माफी का नाटक- है हिम्मत...

हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ के बाद माफी का नाटक- है हिम्मत अल्लाह का मजाक उड़ाने की?

1599
SHARE

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर पहले हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ करो फिर हो-हंगामा या विरोध होने पर माफी मांग लो। अभी तक इसी तरह हिंदू धर्म को अपमानित करने वाले फिल्मकार एक बार फिर अमेजन प्राइम की वेब सीरीज तांडव से जरिए हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचा माफी मांग मामले को रफा-दफा करना चाह रहे हैं। लेकिन बॉलीवुड में जारी इस प्रचलन से देश के बहुसंख्यक लोग दुखी हैं और उनका साफ कहना है कि ये अब और नहीं चलेगा। तांडव के डायरेक्टर अली अब्बास जफर के माफी मांगने और मामले को रफा-दफा करने की मांग पर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने साफ कहा है कि तांडव को हटाना ही पड़ेगा।

अली अब्बास जफर के माफी के बाद भी इस बार लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ है। अली अब्बास जफर की माफी पर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने सवाल किया है कि क्या वो अपनी फिल्मों में इस तरह से अल्लाह का भी मजाक बना सकते हैं। कपिल मिश्रा के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए कंगना ने लिखा, “माफ़ी मांगने केलिये बचेगा कहां? ये तो सीधा गला काट देते हैं, जिहादी देश फ़तवा निकाल देते हैं लिब्रु मीडिया वर्चुअल लिंचिंग कर देती है, तुम्हें ना सिर्फ़ जान से मार दिया जाएगा बल्कि उस मौत को भी जस्टिफ़ाई किया जाएगा, बोलो अली अब्बास जफर है हिम्मत अल्लाह का मज़ाक़ उड़ाने की ?”

कंगना ने इससे पहले ट्वीट कर सीरीज को ‘हिंदू फोबिक, एट्रोसियस और ऑब्जेक्शनेबल करार दिया। एक ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कंगना रनौत ने लिखा, “समस्या सिर्फ हिंदू फोबिक कॉन्टेंट की नहीं है, बल्कि यह रचनात्मक रूप से खराब है। हर लेवल पर आपत्तिजनक है, इसलिए जानबूझकर विवादस्पद सीन रखे गए हैं। उन्हें न सिर्फ आपराधिक इरादों के लिए बल्कि दर्शकों को टॉर्चर करने के लिए जेल में डाल देना चाहिए।”

वेब सीरीज तांडव में हिंदू धर्म और दलितों को लेकर आपत्तिजनक बातें की गई हैं। वेब सीरीज में हिंदू धर्म को अपमानित करने की कोशिश की गई है। देखिए वीडियो

सोशल मीडिया पर यूजर्स का कहना है कि तांडव में जानबूझकर ऐसा कंटेंट डाला गया है जिससे जातिगत हिंसा को बढ़ावा मिले। देखिए वीडियो- 

एक दिन पहले ही तांडव को लेकर गुस्सा जाहिर करते हुए दलित नेता हरी मांझी ने ट्वीट कर कहा कि मुस्लिम फिल्मकार कभी हलाला और बुर्का प्रथा पर फिल्म क्यों नहीं बनाते। आखिर बार-बार हिन्दू आस्था का मजाक क्यों उड़ाते हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मुझे मेरे एक जानने वाले ने बताया की “तांडव” करके कोई वेबसिरीज़ है जिसमें हिंदुओं को आपस में लड़ाने का काम किया है। ये सैफ़ अली खान और अन्य मुस्लिम ऐक्टर कभी अपने धर्म पर क्यूँ नहीं फ़िल्म बनाते,मै देता हूँ स्क्रिप्ट… सिया-सुन्नी, सुन्नत, ट्रिपल तलाक़, हलाला, बुर्का प्रथा’

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भी ट्वीट कर कहा, ‘ये अली अब्बास, सैफ अली खान, आरिफ, जीशान को अपने खुद के धर्म से इतनी नफरत क्यो हैं। बचपन से जिस धर्म का पालन कर रहे हो कभी उस पर भी बनाओ फ़िल्म, बनाओ ना भाई जान।’

कपिल मिश्रा ने साफ कहा  कि जिस धर्म में पैदा हुए हो उस धर्म पर भी फिल्म बना कर दिखाओ ना… देखिए कपिल मिश्रा का वीडियो-

 

 

Leave a Reply