Home समाचार JNUSU का देशद्रोह फिर आया सामने- अगर आप मुस्लिम प्रताड़ित हैं, तभी...

JNUSU का देशद्रोह फिर आया सामने- अगर आप मुस्लिम प्रताड़ित हैं, तभी JNU में शरण देंगी अध्यक्ष आइशी घोष

1233
SHARE

जेएनयू में JNUSU (जेएनयू छात्रसंघ) का देशद्रोह एक बार फिर सामने आया है। जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने दंगा पीड़ितों को हिंदू-मुस्लिम में बांटते हुए एक विवादित ट्वीट किया है। दिल्ली दंगों में हिंदुओं को ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है, लेकिन आइशी घोष ने सिर्फ मुसलमानों को जेएनयू कैंपस में शरण देने की बात कही है। आइशी ने मुसलमानों से कहा है कि जेएनयू शरण लेने के लिए खुला है, आश्रय लेने के लिए यहां आ जाओ। आइशी ने अपने ट्वीट में एक पोस्टर शेयर कर दिल्ली दंगा को मुसलमानों के खिलाफ राज्य-प्रायोजित हिंसा बताते हुए सभी एकजुट होने की बात कही है। छात्रसंघ अध्यक्ष ने कहा है कि जेएनयू कैंपस और जेएनयूएसयू ऑफिस शरण लेने वालों के लिए खुला है, जो आना चाहते हैं हमसे सम्पर्क कर सकते हैं। जेएनयू को निजी संपत्ति की तरह बर्ताव करते हुए आइशी घोष ने इस ट्वीट में टुकड़े-टुकड़े गैंग के राणा अय्यूब, स्वरा भास्कर, कन्हैया कुमार, उमर खालिद और शाहीन बाग के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल को टैग किया है।

आइशी के इस ट्वीट के बाद लोगों का गुस्सा भड़क उठा है।

Leave a Reply