Home पोल खोल अब कांग्रेस के करीबी हर्ष मंदर का वीडियो आया सामने, दिल्ली हिंसा...

अब कांग्रेस के करीबी हर्ष मंदर का वीडियो आया सामने, दिल्ली हिंसा से पहले किया भड़काने का काम

1234
SHARE

दिल्ली हिंसा के मामले में अब कांग्रेस के करीबी हर्ष मंदर का वीडियो सामने आया है। यूपीए कार्यकाल में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सलाह देने के लिहाज से गठित की गई नेशनल एडवाइजरी काउंसिल के पूर्व सदस्य हर्ष मंदर इस वीडियो में लोगों को सीएए, सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ भड़काते दिख रहे हैं। हर्ष मंदर ने 16 दिसंबर को जामिया मिलिया में लोगों को भड़काने का काम किया। इस वीडियो में मंदर कह रहे हैं कि ये लड़ाई सुप्रीम कोर्ट में भी नहीं जीती जाएगी, क्योंकि हमने सुप्रीम कोर्ट को देखा है- एनआरसी के मामले में, अयोध्या के मामले में, कश्मीर के मामले में, । सुप्रीम कोर्ट ने इंसानियत, समानता और सेक्युलरिज्म की रक्षा नहीं की है। वहां हम कोशिश जरूर करेंगे। हमारा सुप्रीम कोर्ट है, लेकिन फैसला न संसद में, न सुप्रीम कोर्ट में होगा, ये फैसला सड़कों पर होगा। इस देश का क्या भविष्य होगा, आप सभी नौजवान हैं, आप अपने बच्चों को किस तरह का देश देना चाहते हैं। ये फैसला कहां होगा? ये सड़कों पर होगा। सड़कों पर होगा और हम सब सड़कों पर निकले हैं।

दिल्ली में सीएए विरोधी एक प्रदर्शन के दौरान 19 दिसंबर, 2019 को उन्हें हिरासत में भी लिया गया था। नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में मंदर ने कहा था कि अगर कैब पास हुआ तो वो सविनय अवज्ञा की राह पर चलेंगे और खुद को मुस्लिम के रूप में पंजीकृत करवा लेंगे। मंदर ने लोगों से कहा था कि वे भी कैब के विरोध में इस सविनय अवज्ञा से जुड़ें।

आपके लिए यह जानना भी जरूरी है कि द हिंदू के अनुसार अजमल कसाब और याकूब मेमन जैसे आतंकियों के लिए दया याचिका दायर करने वालों में हर्ष मंदर भी शामिल थे।

इसके पहले जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वह कह रहा है कि हम वादा करते हैं कि 24 फरवरी को जब डोनाल्ड ट्रंप भारत आएंगे तो हम ये बताएंगे कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री और हिंदुस्तान की सरकार हिंदुस्तान को बांटने का काम कर रही है। महात्मा गांधी के उसूलों की धज्जियां उड़ा रही है। ये बताएंगे कि हिंदुस्तान की आवाम, हिंदुस्तान के हुक्मरानों के साथ लड़ रही है और अगर यहां के हुक्मरान देश को बांटना चाहती है तो यहां की आवाम देश को जोड़ने के लिए तैयार है। हम तमाम लोग सड़कों पर उतरकर आएंगे।

देखिए वीडियो-

महाराष्ट्र के अमरावती में दिया गया यह भाषण राष्ट्रपति ट्रंप के भारत दौरे से ठीक पहले 17 फरवरी का है। ट्रंप के आने के बाद उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगे भड़क गए थे।

Leave a Reply