Home समाचार गेम-चेंजर साबित होगी पीएम गति शक्ति योजना, देश की विकास यात्रा में...

गेम-चेंजर साबित होगी पीएम गति शक्ति योजना, देश की विकास यात्रा में आएगी तेजी

390
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का लक्ष्य सत्ता में बने रहना नहीं, बल्कि विकास के जरिए आम लोगों के जीवन और देश में सकारात्मक बदलाव लाना है। प्रधानमंत्री मोदी इस लक्ष्य को तेजी से पूरा करने के लिए बड़े और चुनौतीपूर्ण फैसले ले रहे हैं। इसी क्रम में प्रधानमंत्री मोदी 13 अक्टूबर, 2021 को एक नई योजना ‘पीएम गति शक्ति’ को लॉन्च करने जा रहे हैं। यह योजना देश के लिए गेंम चेंजर साबित होने जा रही है, क्योंकि देश की विकास यात्रा को तेज़ी से आगे बढ़ाने के लिए इसमें कई नवीन और क्रांतिकारी पहल की गई है। इसमें देश के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए 100 लाख करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली समग्र और एकीकृत योजना तैयार की गई है। इसका मकसद विकास से जुड़े हर डिपार्टमेंट को एक साथ लेकर चलना है।

इस योजना के तहत केंद्रीय एजेंसियों, राज्य एजेंसियों, शहरी स्थानीय निकायों और निजी क्षेत्र के बीच प्रभावी ढंग से समन्वय स्थापित किया जाएगा, ताकि किसी काम में कोई रुकावट न आए। इसके तहत चुनिंदा भौगोलिक क्षेत्रों में सिंगल नोडल एजेंसी को विकास की ज़िम्मेदारी सौंपी जाएगी। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने 15 अगस्त, 2021 को इस योजना की घोषणा करते हुए कहा था कि इसमें विकास कार्य से जुड़े 16 विभागों को शामिल किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से देश में विश्वस्तरीय इंफ्रास्ट्रक्चर की नींव रखी जाएगी। इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश बढ़ने से न केवल अर्थव्यवस्था में मांग पैदा होगी, बल्कि यह विकास को टिकाऊ, न्यायसंगत और समावेशी बनाएगा।

पीएम गति शक्ति से कैसे मिलेगी रफ्तार ?

  • विकास की बाधाओं को दूर किया जाएगा।
  • विकास प्रोजेक्ट्स को तुरंत मंजूरी मिलेगी।
  • लागत दक्षता के साथ काम जल्दी पूरा होगा।
  • विकास प्रोजेक्ट्स में बेहतर समन्वय होगा।
  • लोकल निर्माताओं को प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में हॉलिस्टिक अप्रोच होगा।

पीएम गति शक्ति से बदलेगी तस्वीर

  • करोड़ों युवाओं को रोजगार मिलेगा।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर का चहुमुखी विकास होगा।
  • देश का संतुलित विकास संभव होगा।
  • इससे नए-नए उद्योगों का विकास होगा।
  • मेड इन इंडिया प्रोडक्ट्स को बढ़ावा मिलेगा।
  • नए इकोनॉमिक जोन विकसित किए जाएंगे।
  • देश की अर्थव्यवस्था को ज्यादा गति मिलेगी।

Leave a Reply