Home समाचार मुस्लिम महिलाओं ने तैयार की पीएम और सीएम के नाम की राखी,...

मुस्लिम महिलाओं ने तैयार की पीएम और सीएम के नाम की राखी, पीएम मोदी की मजबूती के लिए मांगी दुआ

766
SHARE

अयोध्या में राम मंदिर की समर्थक मुस्लिम महिलाओं में भूमि पूजन को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है। मुस्लिम महिलाओं ने रक्षासूत्र तैयार किया है, जिसे 5 अगस्त को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के माध्यम से रामलला को भेंट करेंगी। यही नहीं ये महिलाएं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए भी रक्षा सूत्र तैयार कर रही हैं। 

राम मंदिर निर्माण में मुस्लिमों का भी होगा योगदान- महिलाएं

मुस्लिम महिलाओं का मानना है कि 5 अगस्त को ऐतिहासिक दिन होगा और इस दिन मुस्लिम भाइयों का भी राम मंदिर के लिए योगदान होना चाहिए। रक्षा सूत्र तैयार करने वाली नाज़ वानों, रिहाना बानो,शाहीन खान अंजुम बेगम, खुशबू खान, सीमा खान,ने कहा कि हम रक्षासूत्र प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंचाना चाहते हैं। इसे अपने हाथों से उनके नाम से तैयार किया है।

“पीएम मोदी के हाथों को और मजबूती मिले” 

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के अवध प्रांत के संयोजक डॉ अनिल सिंह के मुताबिक मुस्लिम महिलाएं प्रधानमंत्री मोदी, सीएम योगी आदित्यनाथ और आरएसएस के डॉक्टर इंद्रेश कुमार के नाम की राखी अपने हाथों से बना रही है। मंगल गीत गाकर अल्लाह से दुआ मांग रही हैं कि देश की अखंडता उन्नति के लिए प्रधानमंत्री मोदी के हाथों को और मजबूती मिले। 

मंदिर निर्माण से मुस्लिम महिलाओं में उत्साह

राम मंदिर के निर्माण से ये मुस्लिम महिलाएं बहुत खुश नजर आ रही हैं। उनका मानना है कि मंदिर-मस्जिद विवाद खत्म होने के बाद अब अयोध्या एक नई दिशा की तरफ बढ़ेगी। जहां लोगों को रोजगार तो मुहैया होगा ही हिंदू-मुस्लिम की प्रेम और एकता भाईचारा बरकरार रहेगी।

मुस्लिम भी भगवान श्री राम के नाम पर जलाएंगे दीप 

डॉ अनिल सिंह ने बताया कि “तीन तलाक “को समाप्त कर नारी सशक्तिकरण में एक बड़ा कदम उठाया गया। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को सभी ने शालीनता से स्वीकार किया। अब हिंदू-मुसलमान मिलकर राम मंदिर निर्माण करेंगे। मंच के मंजूर अहमद फौजी शहीद हाजी सईद अहमद ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी हम लोगों के लिए इतना कुछ कर रहे हैं। ऐसे में जब वे राम मंदिर की आधारशीला 5 अगस्त को रखेंगे तो हम लोग भी भगवान श्री राम के नाम पर दीप जलाएंगे।

अंतरराष्ट्रीय मानक पर होगा अयोध्या का विकास 

प्रधानमंत्री मोदी के राममंदिर निर्माण की आधारशिला रखने के कार्यक्रम से अयोध्या के मुस्लिम समाज के लोग भी उत्साहित हैं। करीब 8 हजार की आबादी वाले इस शहर के कई मुस्लिम परिवारों से बात करने पर लोगों ने बताया कि वे इस बात को लेकर खुश हैं कि अयोध्या का विकास अंतरराष्ट्रीय मानक पर शुरू होगा। जिससे अयोध्या अब केंद्र व प्रदेश के विकास एजेंडे को लेकर फोकस मे रहेगी।

देश-विदेश से काफी संख्या में आएंगे पर्यटक 

मंदिर में मालाओं को तैयार करने वाले करीब दो सौ लोग बेगमपुरा मोहल्ले में फूलों की खेती करते है। इनके रोजगार को भी पंख लगेगे। स्थानीय लोगों के मुताबिक अब मंदिर बनने के बाद देश-विदेश से पर्यटकों की भारी भीड़ यहां आएगी। जिससे उनके रोजगार को भी बढ़ावा मिलेगा। मंदिरों और अयोध्या के विकास से काम और मिलेगा।

विश्व स्तरीय पर्यटन नगरी का मिलेगा दर्जा

बाबारी मस्जिद के मुद्दई मो. इकबाल अंसारी कहते हैं कि अयोध्या मे छोटे रोजगारी ही ज्यादा है। जिसमें दर्जी, टैक्सी और कार ड्राइवर व मैकेनिक की संख्या काफी है। प्रधानमंत्री मोदी के अयोध्या के लिए बड़ी योजनाए देंगे। ऐस मे यह विश्व स्तरीय पर्यटन नगरी का दर्जा मिलेगा। तो रोजगार के लिए यहां के मुस्लिम समाज के लोगों को बाहर नहीं जाना पड़ेगा।

Leave a Reply