Home समाचार राजस्थान में छुपाये जा रहे हैं कोरोना से मौत के आंकड़े, क्या...

राजस्थान में छुपाये जा रहे हैं कोरोना से मौत के आंकड़े, क्या गहलोत सरकार से इस्तीफा मांगेंगे राहुल गांधी ?

464
SHARE

राहुल गांधी और कांग्रेस दूसरों पर आरोप लगाने से पहले अपने शासित राज्यों की सच्चाई से रू-ब-रू हो जाते, तो शायद केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकारों को नसीहत देने की हिमाकत नहीं करते। राजस्थान में वैक्सीन की बर्बादी के बाद अब कोरोना से हुई मौतों के आंकड़ों को छुपाया जा रहा है। धौलुपर में जिले के चम्बल मुक्तिधाम सेवा समिति के मुताबिक मार्च से लेकर 15 जून, 2021 तक कोरोना से कुल 307 मौतें हुई हैं। वहीं सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक कोरोना की पहली लहर में 29 और दूसरी लहर में 19 मौतें हुई हैं यानि कुल 48 मौतें कोरोना से हुई हैं। इसी तरह शिक्षा विभाग के सूत्रों के मुताबिक कोविड ड्यूटी के दौरान 18 लोगों की मौत कोरोना से हुई, लेकिन तीन ही कर्मियों की कोरोना से मौत दिखाई गई।

दरअसल गहलोत सरकार ने मृतकों के परिजनों को आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। सरकार के आदेश के बाद अब सिर्फ 48 मृतक के परिवारों को ही आर्थिक सहायता मिलेगी। जिनका नाम रिकॉर्ड में नहीं है उन्हें आर्थिक मदद नहीं मिलेगी। ऐसे में अब उन लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा जिसके परिवार के सदस्य की मौत कोरोना से हुई लेकिन ये सरकारी रिकॉर्ड में दर्ज नहीं है। इसके अलावा गहलोत सरकार ने इलाज की रिपोर्ट में भी गड़बड़ियां कीं। पीड़ितों का कहना है कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत के बाद उनके डेथसर्टिफेकट में निगेटिव लिखकर दिया जाता है। लेकिन दूसरों से नैतिकता के आधार पर इस्तीफा मांगने वाले राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य नेताओं ने गहलोत सरकार के इस अमानवीय कृत्य पर चुप्पी साध रखी है।

कांग्रेस शासन में मौत के आंकड़ों में गड़बड़ी

  • चम्बल मुक्तिधाम सेवा समिति का दावा : मार्च में 53, अप्रैल में 128, मई में 108 और 15 जून, 2021 तक 18 मौतें हुईं, यानि साढ़े तीन महीने में कुल 307 मौतें हुईं।
  • सरकारी रिकॉर्ड का दावा : कोरोना की पहली लहर में 29 और दूसरी लहर में 19 मौतें हुई हैं. यानि कुल 48 मौतें कोरोना से हुई हैं।

गहलोत सरकार पर गंभीर आरोप

  • आंकड़े छिपाने के लिए धीमी गति से जांच की गई।
  • बिना किसी प्रोटोकॉल के शव परिजोनों को सौंपा गया।
  • इलाज की रिपोर्ट में कई गड़बड़ियां और खामियां पायी गईं।
  • कोरोना पॉजिटिव मरीज के डेथसर्टिफेकट में निगेटिव लिखा जाता है।

Leave a Reply