Home समाचार हरियाणा की बीजेपी सरकार गिराने की बड़ी साजिश, किसान नेता गुरनाम सिंह...

हरियाणा की बीजेपी सरकार गिराने की बड़ी साजिश, किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी और कांग्रेस के बीच टिकट और 10 करोड़ रुपये में हुई डील

750
SHARE

किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस पूरी तरह बेनकाब हो चुकी है। अपनी सियासी साजिशों को अंजाम देने के लिए कांग्रेस किसान आंदोलन को ढाल बना रही है। इस आंदोलन की आड़ में हरियाणा की बीजेपी सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए कांग्रेस और किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी के बीच 10 करोड़ रुपये में समझौता हुआ है। वहीं गुरनाम सिंह चढूनी ने राजनीतिक दलों के साथ दिल्ली में एक सम्मेलन किया था, जिसमें बीजेपी को छोड़कर बाकी विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने हिस्सा लिया था।

सूत्रों के मुताबिक संयुक्त किसान मोर्चा ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उन्हें सस्पेंड कर दिया है। संयुक्त किसान मोर्चा की सबसे मुख्य 7 सदस्यीय कमेटी से भी चढूनी को बाहर रखा गया है। जांच पूरी होने तक संयुक्त किसान मोर्चा की आंतरिक बैठकों और केंद्र सरकार के साथ होने वाली बैठक से चढ़ूनी बाहर रखा गया है। चढूनी 19 जनवरी को केंद्र सरकार से होने वाली बैठक में शामिल नहीं होंगे। 

दरअसल रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक हुई, जिसमें हरियाणा भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी पर आंदोलन को राजनीति का अड्डा बनाने, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेताओं को बुलाने और दिल्ली में सक्रिय हरियाणा के एक कांग्रेस नेता से आंदोलन के नाम पर करीब 10 करोड़ रुपये लेने के गंभीर आरोप लगे। इसके अलावा चढूनी पर कांग्रेसी टिकट के बदले हरियाणा सरकार को गिराने की साजिश करने का आरोप भी लगा।

इस डील के खुलासे के बाद आंदोलनकारी किसान नेताओं में फूट दिखाई दे रही है। बैठक की अध्यक्षता कर रहे किसान नेता शिव कुमार कक्का ने बताया कि बैठक में मोर्चा के सदस्य उन्हें तुरंत मोर्चे से निकालना चाहते थे। लेकिन आरोपों की जांच को 5 सदस्यों की कमेटी बनाई गई जो 20 जनवरी को रिपोर्ट देगी। उसी आधार पर फैसला लिया जाएगा।

 

Leave a Reply