Home समाचार ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा देने वाली कांग्रेस के विधायक...

‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा देने वाली कांग्रेस के विधायक का दुष्कर्म को लेकर शर्मनाक बयान, सपा नेता भी नहीं हैं पीछे

3708
SHARE

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा बुलंद कर रही है। लेकिन प्रियंका वाड्रा को पहले पार्टी के अंदर मौजूद रावण और दुशासन से लड़ने की जरूरत है, जो महिलाओं का अपमान करते हैं। कर्नाटक विधानसभा के पूर्व स्पीकर और कांग्रेस विधायक रमेश कुमार ने दुष्कर्म को लेकर जो शर्मनाक बयान दिया है, वो किसी रावण और दुशासन की मानसिकता का परिचय देता है। इससे पता चलता है कि कांग्रेस महिलाओं के लिए सिर्फ घड़ियाली आंसू बहाती है, जबकि इसके नेताओं की मानसिकता महिला विरोधी है।

दरअसल कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश ने गुरुवार (16 दिसंबर, 2021) को एक बेहद शर्मनाक बयान दिया था। जिसमें उन्होंने कहा, ”जब आप रेप को नहीं रोक सकते तो लेटिए और मजे लीजिए।’ उन्होंने मौजूदा विधानसभा अध्यक्ष की स्थिति को लेकर यह टिप्पणी की। लेकिन इस तरह की बेशर्म टिप्पणी पूर्व में विधानसभा अध्यक्ष रह चुके एक विधायक ने विधानसभा के अंदर की। इस पर विवाद होना ही था, सो हुआ भी। विवाद के बाद केआर रमेश ने इस संबंध में बिना शर्त माफी मांग ली।

कांग्रेस विधायक की महिलाओं के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद बीजेपी नेता ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मुद्दे पर कहा कि एक तरफ कांग्रेस उत्तर प्रदेश में नारा देती है, ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’, दूसरी तरफ इस तरह की टिप्पणी। महिला सशक्तीकरण की बात करने से पहले ऐसे नेता को पार्टी से निकालें, फिर इस तरह के नारे दें।

सपा सांसद और अभिनेत्री जया बच्चन ने इस मुद्दे पर कहा, ‘अगर इस तरह की मानसिकता के लोग विधानसभा या संसद में बैठेंगे तो बदलाव कैसे होगा? हमें उन्हें ऐसी सजा देनी चाहिए, जो एक मिसाल बन जाए और आगे से कोई भी इस तरह की बयानबाजी करने की हिम्मत भी न जुटा पाए। यह बेहद भद्दा है, मैं इस बयान को सुनकर स्तब्ध हूं।’ जया बच्चन की यह टिप्पणी भी काफी हैरान करने वाली है, क्योंकि वो अपनी पार्टी के नेताओं के बयान भूल गई, जिनके शर्मनाक और अश्लील बयानों ने महिलाओं को अपमानित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

महिलाओं और खासकर रेप पर विवादित बयानों की फेहरिस्त लंबी है। आइए आपको दिखाते हैं कि किस तरह से कांग्रेस पार्टी महिलाओं के नाम पर सिर्फ नौटंकी करती है। नीचे दिए गए बयानों और कांग्रेस नेताओं की हरकतों से साफ हो जाएगा कि कांग्रेस की नजर में महिलाओं की क्या हैसियत है।

लड़कियां 15 साल में प्रजनन लायक हो जाती हैं- सज्जन सिंह वर्मा

कांग्रेस के नेता समय-समय पर महिला विरोधी अपने बयानों से सारी मर्यादाओं को तार-तार करते नजर आते हैं। जनवरी 2021 में मध्य प्रदेश कांग्रेस के नेता सज्जन सिंह वर्मा ने विवादित बयान दिया था। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लड़कियों की शादी की उम्र 21 साल किए जाने की बात पर उन्होंने कहा कि जब लड़कियां 15 साल में प्रजनन लायक हो जाती हैं तो शादी की उम्र 21 साल करने की क्या जरूरत है। 13 जनवरी, 2021 को भोपाल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि लड़कियों की बच्चे पैदा करने लायक उम्र 15 साल है। शादी की उम्र 18 साल है तो कौन सा बड़ा वैज्ञानिक या डॉक्टर हो गया शिवराज की शादी की उम्र 21 करेगा।

इमरती देवी अब जलेबी बन गई हैं- सज्जन सिंह वर्मा

इसके पहले मध्य प्रदेश में हुए उपचुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी नेता सज्जन सिंह ने एक विवादित बयान दिया। सज्जन सिंह ने पूर्व मंत्री इमरती देवी पर निशाना साधते हुए कहा कि इमरती देवी अब ‘जलेबी’ बन गई हैं। दिग्विजय सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार (1998-2003) में कैबिनेट मंत्री रहे सज्जन सिंह के इस बयान से पार्टी की काफी फजीहत हुई।

कमलनाथ ने इमरती देवी को कहा आइटम
इसके पहले राहुल गांधी के करीबी और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी की महिला नेता इमरती के लिए जिस तरह के शब्दों का प्रयोग किया है वह पार्टी की महिलाओं के प्रति सोच को उजागर करती है। मध्य प्रदेश के डबरा में कांग्रेस उम्मीदवार सुरेश राजे के लिए प्रचार करने पहुंचे कमलनाथ ने कहा, ‘सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे साधे हैं। यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं, आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ‘यह क्या आइटम है’।

कांग्रेस नेता कमलनाथ ने महिलाओं को कहा सजावट का सामान
कमलनाथ ने इसके पहले विधानसभा चुनाव के दौरान भी महिलाओं की गरिमा को ठेस पहुंचाने वाला बयान दिया था। कमलनाथ महिलाओं को सजावट का सामान कहा था। दरअसल, पत्रकारों ने जब उनसे विधानसभा चुनाव में कम महिला प्रत्याशी उताने के बारे में सवाल पूछा तो, कमलनाथ ने कह दिया कि उन्होंने महिलाओं को सजावट और कोटे के आधार पर टिकट नहीं दिए गए हैं।  

अजय सिंह ने पारुल साहू को कहा- टिकाऊ माल
मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस के बड़े नेता अजय सिंह ने अपनी पार्टी की उम्मीदवार पारुल साहु को टिकाऊ माल कहा।

कांग्रेस दफ्तर में महिला कार्यकर्ता की पिटाई
उत्तर प्रदेश के देवरिया में 10 अक्तूबर, 2020 को कांग्रेस पार्टी कार्यालय में एक महिला कार्यकर्ता तारा यादव को वहां मौजूद पुरुष कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा। महिला कार्यकर्ता ने पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सचिन नायक के सामने उपचुनाव उम्मीदवार को रेप का आरोपी बताते हुए टिकट देने का विरोध किया था। इससे भड़के कार्यकर्ताओं ने महिला कार्यकर्ता को सबके सामने बुरी तरह पीटना शुरु कर दिया। महिला कार्यकर्ता के साथ आई तीन महिलाओं को भी जमकर पीटा गया।

नारायणसामी ने किरण बेदी को ‘राक्षस’ कहा
पुडुचेरी के कांग्रेसी मुख्यमंत्री नारायणसामी ने 31 अक्टूबर, 2019 को इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश की महिला उपराज्यपाल किरण बेदी को राक्षस कहा। नारायणसामी ने कहा, “केंद्र सरकार ने यहां एक ‘राक्षस’ को बिठाया हुआ है। हम मंत्री 24 घंटे काम करने को तैयार है, लेकिन वो सभी योजनाओं को रोक देती है। चाहें वो गरीबों को चावल बांटने की योजना हो या पर्यटन से जुड़े प्रोजेक्टों के लिए केंद्र सरकार से फंड लेना हो, वो दिल्ली जाती हैं और फंड आवंटन रूकवा देती हैं।”

सिद्धारमैया ने सरेआम खींची महिला की चुन्नी
कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के बड़े नेता सिद्धारमैया ने सरेआम एक महिला के साथ दुर्व्यवहार किया था। मैसूर में एक महिला सिद्धारमैया के पास उनके विधायक बेटे की शिकायत करने आई थी। महिला की शिकायत सुनते ही सिद्धारमैया भड़क गए और महिला से अभद्रता करने लगे। सिद्धारमैया ने मर्यादा की सभी सीमाओं को पार करते हुए महिला की चुन्नी खींच ली और गाली-गलौच करते हुए हाथापाई तक करने लगे।

राहुल के दफ्तर में महिला से अश्लील हरकत
महिलाओं के प्रति कांग्रेस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की नीच सोच का पता कुछ दिन एक बार फिर लगा था। हाल ही में कांग्रेस के नेताओं पर दिल्ली में राहुल गांधी के दफ्तर में ही सोशल मीडिया सेल में काम करने वाली महिला से अभद्र व्यवहार का मामला सामने आया था। महिला ने इसकी शिकायत दिल्ली पुलिस कमिश्नर से की थी। इस मामले में राहुल गांधी ने पार्टी स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं की। हालांकि, बाद में आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जाहिर है कि जब कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी समेत पार्टी के दूसरे बड़े नेता ही महिलाओं से दुर्व्यवहार करते रहे हों, उन पर अभद्र टिप्पणियां करते रहे हों तो फिर नीचे के कार्यकर्ता भी इसमें अपनी शान समझेंगे।

राहुल गांधी – क्या संघ की शाखाओं में महिलाएं छोटे कपड़े (शॉर्ट्स) पहने दिखती हैं।
राहुल गांधी ने 10 अक्टूबर,2017 को वडोदरा में महिलाओं को लेकर अमर्यादित बयान दिया। उन्होंने पूछा था कि क्या संघ की शाखाओं में महिलाएं छोटे कपड़े (शॉर्ट्स) पहने दिखती हैं। इस बयान पर महिलाओं ने आपत्ति जताई थी।

दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस सांसद को टंच माल कहा
कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने 27 जुलाई,2013 को इंदौर में अपनी पार्टी की सांसद मीनाक्षी नटराजन पर sexist remark दिया। उन्होंने नटराजन को टंच माल कहकर संबोधित किया था।

शशि थरूर ने मिस वर्ल्ड का मजाक उड़ाया
मानुषी छिल्लर के मिस वर्ल्ड बनने पर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने उन्हें चिल्लर कह कर मजाक उड़ाया। 19 नवंबर, 2017 को ट्विट कर उन्होंने लिखा, ‘हमारी मुद्रा का विमुद्रीकरण करना कितनी बड़ी भूल थी! बीजेपी को इस बात का अहसास होना चाहिए कि भारतीय मुद्रा का विश्व भर में वर्चस्व है, देखिए हमारी चिल्लर भी मिस वर्ल्ड बन गई है.’

अभिजीत मुखर्जी – दिन में प्रदर्शन और रात में मेकअप से पुतकर पब में जाएंगी
कांग्रेस सांसद और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पुत्र अभिजीत मुखर्जी ने भी महिलाओं के मेकअप और पहनावे को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी। 28 दिसंबर, 2012 को दिल्ली में निर्भया गैंगरेप कांड के बाद महिला प्रदर्शनकारियों का मजाक उड़ाते हुए अभिजीत ने कहा था कि ये महिलाएं अब प्रदर्शन कर रही हैं और रात को मेकअप से पुतकर पब में जाएंगी। हालांकि उनकी इस टिप्पणी पर उनकी बहन शर्मिष्ठा मुखर्जी ने ही आपत्ति जताई थी, जिसके बाद उन्होंने भी माफी मांगी।

बोत्सा सत्य नारायण – रेप से बचने के लिए औरतें घर पर रहें
27 दिसंबर, 2012 को दिल्ली गैंगरेप मामले में कांग्रेस के आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने कहा था कि रेप से बचने के लिए औरतों को घर के अंदर ही रहना चाहिए।

दामादोर राउत की अभद्र टिप्पणी
कांग्रेस के पूर्व मंत्री दामोदर राउत ने कांग्रेस प्रवक्ता सुलोचना दास पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कहा था कि मुझे पता है किसे खुश करके आप कांग्रेस की प्रवक्ता बनी हैं।

राज्यसभा में सुशील कुमार शिंदे की अभद्र टिप्पणी
राज्यसभा में चर्चा के दौरान सुशील कुमार शिंदे ने एसपी सांसद जया बच्चन पर कहा था कि…बहन यह गंभीर मामला है इसे गंभीरता से सुनो, यह कोई फिल्म का विषय नहीं है।

श्रीप्रकाश जायसवाल का विवादित बयान
श्रीप्रकाश जायसवाल ने पाकिस्तान पर टी-20 की जीत पर कहा था ..जैसे जैसे समय के साथ जीत की खुशी कम हो जाती है वैसे ही समय के साथ पत्नी के चार्म में भी कमी आ जाती है।

शीला दीक्षित – महिलाओं का ज्यादा एडवेंचरस नहीं होना चाहिए
2008 में युवा पत्रकार सौम्या विश्वनाथन की हत्या के बाद एक सवाल के जवाब में दिल्ली की तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा था: “महिलाओं को ज़्यादा एडवेंचरस नहीं होना चाहिए।” तब हेडलाइंस टुडे में काम करने वाली सौम्या विश्वनाथन दफ्तर से घर लौट रही थीं जब वसंत कुंज में उन्हें कार में गोली मारी गई थी।

NSUI अध्यक्ष पर महिला कार्यकर्ता ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया
25 जून, 2018 को छत्तीसगढ़ में NSUI की एक कार्यकर्ता ने राहुल गांधी को चिट्ठी लिखकर NSUI अध्यक्ष फैरोज खान के ऊपर महिलाओं के साथ शारीरिक शोषण का आरोप लगाया। महिला कार्यकर्ता ने लिखा कि फैरोज राजनीतिक तरक्की के लिए महिलाओं को शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करता है।

राहुल गांधी की मौजदूगी में पत्रकार मौसमी सिंह के साथ बदसलूकी
13 अप्रैल, 2018 को जब कठुआ कांड को लेकर राहुल गांधी ने इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला तो एक टीवी पत्रकार मौसमी सिंह के साथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी की। आजतक की पत्रकार मौसमी सिंह ने रो रोकर अपनी बदसलूकी के बारे में जानकारी दी।

प्रदर्शन के दौरान महिलाओं के साथ पुरुष कार्यकर्ताओं ने की छेड़खानी
मुंबई में 15 अप्रैल, 2018 को कठुआ और उन्नाव बलात्कार के विरोध में कांग्रेस पार्टी के प्रदर्शन में शामिल महिला कार्यकर्ताओं ने पार्टी इकाई को लिखित में दिए शिकायत में कहा कि कैंडल मार्च के दौरान पुरुष सहयोगियों ने उनके साथ भीड़ का फायदा उठाया है और उनके साथ बदसलूकी की।

सत्यदेव कटारे – जब तक महिला तिरछी नजर से नहीं देखेगी, पुरुष नहीं छेड़ेगा
24 अप्रैल, 2013 को भिंड में कांग्रेस के पूर्व मंत्री सत्यदेव कटारे ने विवादित बयान दिया। कटारे ने कहा कि जब तक महिला तिरछी नजर से नहीं देखेगी, तब तक पुरूष उसे नहीं छेड़ेगा।

संजय निरुपम का स्मृति इरानी पर विवादित बयान
कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने बीजेपी सांसद स्मृति ईरानी को पैसे के लिए ठुमके लगाने वाली कहा था। एक टीवी बहस के दौरान उन्होंने ईरानी पर ये अमर्यादित टिप्पणी की थी।

रेणुका चौधरी – रेप तो चलते रहते हैं
रेप जैसे जघन्य अपराध को लेकर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता रेणुका चौधरी ने बुलंदशहर में विवादित बयान दिया। रेणुका ने कहा कि “रेप तो चलते ही रहते हैं (रेप इज कॉमन)।”

कांग्रेस नेता का दलित महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक बयान
कानपुर प्रदेश उपाध्यक्ष और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजाराम पाल ने 4 नवंबर, 2016 को मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा, “पार्टी में दलित महिलाओं से भेदभाव नहीं किया जाता है। इन महिलाओं को हमारे घर के अंदर ही नहीं, बेडरूम तक आने की इजाजत है। यहां ऐसी कोई महिला नहीं है, जो हमारे बेडरूम तक न आई हो।”

केरल के कांग्रेस नेता का विवादित बयान
28 मार्च, 2017 – केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अंतरिम अध्यक्ष बनाए जाने के बाद एमएम हसन ने कहा कि मासिक धर्म अपवित्र होता है और महिलाओं को उन दिनों में किसी भी पूजा या इबादत की जगह पर नहीं जाना चाहिए।

सुभाष चौधरी बलात्कार मामला
हरियाणा कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुभाष चौधरी पर अक्टूबर, 2017 में दिल्ली के तुगलग रोड पुलिस स्टेशन पर रेप का एक मुकदमा दर्ज हुआ। आरोप है कि सुभाष चौधरी ने कांग्रेस के राज्यसभा सांसद के घर की नौकरानी के साथ दुष्कर्म किया। मामला चर्चा आने के बाद भी, इस मामले में राहुल गांधी ने चुप्पी साध ली। तब वह कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थे।

शिमला का गुड़िया गैंगरेप कांड
हिमाचल प्रदेश में शिमला का जघन्य गुड़िया गैंग रेप कांड काफी दिनों तक लोगों को विचलित किए हुए था। इस मामले में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में बनी राज्य सरकार के मुखिया वीरभद्र सिंह ने जो बयान दिया वह बहुत ही आपत्तिजनक था। उन्होंने कहा था कि ऐसा कोई देश या प्रदेश नहीं है, जहां अपराध नहीं होता।

सैन्य अफसर की पत्नी ने किया अहमद पटेल पर बलात्कार का केस
वर्ष 2005 में सेना के एक अफसर की पत्नी सुनीता सिंह ने दिल्ली पुलिस से शिकायत की कि कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने उसके साथ बलात्कार किया। पीड़िता का कहना था कि वह पति की पिटाई से परेशान होकर घर से भाग गई और दिल्ली में राष्ट्रीय महिला आयोग में न्याय की गुहार लगाने आई थी। राष्ट्रीय महिला आयोग ने उसे नारी निकेतन भेज दिया। नारी निकेतन से राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य यास्मीन अबरार उसे अपने साथ घर ले गईं। उसी के घर में कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने उसके साथ बलात्कार किया।

शादी लाल बत्रा बलात्कार मामला
27 सितंबर, 2016 – दिल्ली में राज्यसभा सांसद के खिलाफ रेप का यह मामला दर्ज किया गया। पेशे से वकील एक महिला ने हरियाणा से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य शादीलाल बत्रा के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराया।

विधायक पर रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने का केस
22 जुलाई, 2017 – केरल के कांग्रेस विधायक एम विंसेंट को रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया। केरल पुलिस के अनुसार, 51 वर्षीय महिला ने विधायक के खिलाफ रेप के आरोप लगाए। घटना के बाद महिला ने सुसाइड की भी कोशिश की थी।

विधायक हेमंत कटारे बलात्कार मामला
2 फरवरी, 2018 – मध्यप्रदेश के भिंड जिले के अटेर विधानसभा क्षेत्र के विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ दुष्कर्म और अपहरण का प्रकरण दर्ज हुआ है। कटारे के खिलाफ एक महिला और उसकी बेटी प्रयांशु सिंह के द्वारा अलग-अलग दर्ज कराई गई। शिकायतों के आधार पर अपहरण और दुष्कर्म का अलग-अलग थानों में प्रकरण दर्ज किया गया है।

बिहार कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष ने यौन शोषण के आरोप के बाद दिया इस्तीफा
23 फरवरी, 2017 – बिहार कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष ब्रजेश पांडे पर एक नाबालिग ने यौन शोषण का आरोप लगाया, जिसके बाद उन्हें इस्तीफा देना पड़ा।

कर्नाटक के कांग्रेस नेता पर यौन शोषण का आरोप
सितंबर, 2015 – कर्नाटक में कांग्रेस के बड़े नेता B S Thammaiah पर Karnataka Kodava Sahitya Academy की अध्यक्ष ने यौन शोषण का आरोप लगाया। उन्होंने कांग्रेस नेता के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया। महिला अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस नेता की हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई थी, जिसे डिलीट कर दिया गया।

अजमेर रेप केस
कुख्यात अजमेर रेप कांड के 26 साल बाद मुख्य आरोपी यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष फारुख चिश्ती, उपाध्यक्ष नफीस चिश्ती और संयुक्त सचिव अनवर चिश्ती के खिलाफ यौन शोषण का गंभीर मामला दर्ज हुआ। आरोप है कि इन तीनों ने मिलकर स्कूल की सैकड़ों बच्चियों का यौनशोषण किया था। यौनशोषण से पीड़ित बच्चियों में ज्यादातर बच्चियां हिन्दु समुदाय की थी। मामला उजागर होने के बाद, 8 स्कूली बच्चियों ने आत्महत्या कर ली।

NSUI नेता ने बलात्कार की पीड़ित की जगह बलात्कारी का दिया साथ
अप्रैल, 2018 – दिल्ली में गायब 10 साल की बच्ची के साथ जब मदरसा में बलात्कार होने की खबर सामने आई तो NSUI नेता ने ट्वीट कर विवादित टिप्पणी की। उत्तराखंड में NSUI के सोशळ मीडिया कोऑर्डिनेटर गौरव भारती बलात्कारी को सपोर्ट किया।

यूथ कांग्रेस के नेता पर बलात्कार का आरोप
27 दिसंबर, 2017 – आनंदपुर साहिब में एक महिला ने यूथ कांग्रेस के नेता डॉक्टर आचार शर्मा पर यौन शोषण का आरोप लगाया। महिला ने कहा कि डॉक्टर ने क्लिनिक में उनके साथ यौन शोषण किया।

अभिषेक मनु सिंघवी का सीडी कांड
2012 में अभिषेक मनु सिंघवी का सीडी कांड पहली बार सबके सामने आया। इसमें किसी कोर्ट जैसे चैम्बर में सिंघवी एक महिला वकील के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए दिखाई दे रहे हैं। साथ ही सिंघवी महिला वकील को कह रहे हैं कि वे उसे जज बना देंगे।

राजस्थान के कांग्रेसी मंत्री पर नौकरी देने के लिए यौन उत्पीड़न का आरोप
2013 – राजस्थान में कांग्रेस के पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर पर 35 साल की एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया। महिला ने कहा कि बाबूलाल नागर ने सरकारी नौकरी देने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया।

हरियाणा के कांग्रेस मंत्री पर यौन उत्पीड़न का आरोप
2012 – हरियाणा के कांग्रेस मंत्री गोपाल कांडा के खिलाफ एयर होस्टेस गीतिका शर्मा ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। गीतिका गोपाल कांडा के MLDR airlines में ही कार्यरत थी। आरोप लगाने के बाद गीतिका ने 5 अगस्त 2012 को खुदकुशी कर ली।

राजस्थान का भंवरी देवी कांड
2011 भंवरी देवी सेक्स स्कैंडल में राजस्थान के कांग्रेसी नेता और कैबिनेट मंत्री महिपाल मदरेणा पर आरोप लगा। मदरेणा के खिलाफ भंवरी देवी के अपहरण, बलात्कार और फिर हत्या करने का आरोप लगा।

नारायण दत्त तिवारी का सेक्स स्कैंडल
कांग्रेस के दिग्गज नेता नारायण दत्त तिवारी पर राजभवन में ही तीन महिलाओं के साथ सैक्स का वीडियो एक तेलुगु न्यूज चैनल ने ब्रॉडकास्ट कर दिया। इसके बाद उन्हें राज्यपाल का पद छोड़ना पड़ा। नारायण दत्त तिवारी के खिलाफ ही एक शख्स ने पिता होने का दावा किया था, जो बाद में डीएनए टेस्ट के बाद न्यायालय ने भी सही पाया।

महिलाओं के सम्मान के साथ खिलवाड़ करने में समाजवादी पार्टी के नेता भी कांग्रेस नेताओं से पीछे नहीं है। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और पार्टी के अन्य नेताओं के बयान सुनकर आपका माथा शर्म से झुक जाएगा…

“लड़के हैं, कभी-कभी लड़कों से गलतियां हो जाती हैं” – मुलायम 

जब-जब रेप या महिलाओं पर टिप्पणियों का मुद्दा होगा तो सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का नाम सबसे पहले आएगा। मुलायम ने रेप के आरोपियों के बचाव में एक बार यहां तक बोल दिया, ‘लड़के हैं, कभी-कभी लड़कों से गलतियां हो जाती हैं। कभी-कभी फंसाने के लिए भी लड़कों पर ऐसे आरोप लगा दिए जाते हैं।’

‘बलात्कार जैसी कोई चीज नहीं’ – तोता राम यादव

समाजवादी पार्टी के नेता तोता राम यादव अपने नेताजी का सच्चा अनुयाई। उन्होंंने बयान दिया था, ‘बलात्कार जैसी कोई चीज नहीं होती है, ये लड़का और लड़की दोनों की आपसी सहमति से होता है।’ तोताराम 2015 में मैनपुरी में जिला जेल का निरीक्षण करने गए थे, तभी सवाल पूछ लिया गया। हाजिरजवाब तोताराम ने तो अलग ही सवाल खड़े कर दिए, साथ में एक्सपर्ट राय भी, “क्या है बलात्कार? ऐसी कोई चीज नहीं है। लड़के और लड़कियों की आपसी सहमति से होते हैं बलात्कार।”  

आजम खान ने बताया जयाप्रदा के अंडरवियर का रंग 

उत्‍तर प्रदेश की रामपुर संसदीय सीट से समाजवादी पार्टी के उम्‍मीदवार व सीनियर नेता आजम खान ने 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी उम्‍मीदवार एवं फिल्‍म एक्‍ट्रेस जयप्रदा को लेकर बेहद आपत्‍त‍िजनक और शर्मनाक बयान दिया था। आजम खान ने उनकी उम्‍मीदवारी पर रामपुर में कहा, ” जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्‍व करवाया..उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में ही पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है।”

कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के अलावा कई ऐसे नेता हैं, जो महिला विरोधी मानसिकता रखते हैं और समय-समय पर अपने शर्मनाक बयानों से महिलाओं का अपमान करते हैं… 

“वोट की इज्जत आपकी बेटी की इज्जत से ज्यादा बड़ी” – शरद यादव

बिहार की राजनीति का बड़ा चेहरा और वर्तमान में एलजेडी नेता शरद यादव भी अपने बयानों से चर्चा में रह चुके हैं। उन्होंने एक बार कहा था, ‘वोट की इज्जत आपकी बेटी की इज्जत से ज्यादा बड़ी होती है। अगर बेटी की इज्जत गई तो सिर्फ गांव और मोहल्ले की इज्जत जाएगी लेकिन अगर वोट एक बार बिक गया तो देश और सूबे की इज्जत चली जाएगी।’ इससे पहले शरद यादव ने जून 1997 में लोकसभा में महिला आरक्षण बिल पर बहस बहस के दौरान कहा था, “इस बिल से सिर्फ पर कटी औरतों को फायदा होगा।”

‘लड़कियों की स्कर्ट छोटी होती जा रही’ – चिरंजीत चक्रवर्ती

टीेएमसी नेता चिरंजीत चक्रवर्ती भी रेप को लेकर आपत्तिजनक बयान दे चुके हैं। उन्होंने एक बार कहा था, ‘रेप के लिए कुछ हद तक लड़कियां भी जिम्मेदार हैं। उनकी स्कर्ट दिन पर दिन छोटी होती जा रही है।’

“ममता ने रेप की कीमत तय की हुई है” – अनिसुर रहमान

साल 2012 में ही पश्चिम बंगाल में चुनावी सभा में सीपीएम के नेता अनिसुर रहमान ने सीएम ममता बनर्जी के बारे में कहा था कि ममता ने रेप की कीमत तय की हुई है। अनिसुर इतने पर ही नहीं रुके थे। उन्होंने ये भी कहा था कि हम ममता दीदी से पूछना चाहते हैं कि उन्हें कितना मुआवजा चाहिए, रेप के लिए वो कितना पैसा लेंगी।

 

Leave a Reply