Home विपक्ष विशेष सीएम ममता बनर्जी का बंगाल में ‘खेला होबे दिवस’ मनाने का ऐलान,...

सीएम ममता बनर्जी का बंगाल में ‘खेला होबे दिवस’ मनाने का ऐलान, राजनीतिक हिंसा के इस जश्न को लेकर लोगों में गुस्सा

614
SHARE

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के दौरान अपने चर्चित नारे खेला होबे के नाम पर राज्य में ‘खेला होबे दिवस’ मनाने का निर्णय लिया है। इतना ही नहीं तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद ममता बनर्जी ने राज्य में विभिन्न फुटबॉल क्लबों को 50,000 फुटबॉल बांटने की भी घोषणा की है। जाहिर है कि ममता बनर्जी और उनकी पार्टी के नेताओं ने खेला होबे नारे को एक धमकी की तरह इस्तेमाल किया था और इसका प्रयोग भाजपा के खिलाफ लोगों को भड़काने के लिए किया गया था।

लेकिन आप यह जान लीजिए कि पश्चिम बंगाल में ‘खेला होबे दिवस’ का स्पोर्ट्स से कोई लेनादेना नहीं है। असल में ये चुनाव में TMC की जीत का जश्न मनाने से भी ज्यादा राज्य में मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजनों के साथ एक क्रूर मजाक है, जिन्हें टीएमसी के गुंडों ने अपना शिकार बनाया था। चुनाव बाद टीएमसी की हिंसा में बड़ी संख्या में भाजपा समर्थकों को अपना घर-बार छोड़कर पलायन करना पड़ा।

आंकड़ों की मानें तो 2 मई के बाद बंगाल में हुई हिंसा की करीब 15 हजार घटनाएं हुई। इसमें 25 लोगों की मौत हो गई थी और करीब सात हजार महिलाओं के साथ बदसलूकी की गई थी। सिक्किम हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस रहे प्रमोद कोहली की अगुवाई वाली फैक्ट फाइंडिंग टीम की रिपोर्ट में यह पाया गया था। इतना ही नहीं कुछ खतरनाक अपराधी, माफिया डॉन और आपराधिक गिरोह, जो पहले से ही पुलिस रिकॉर्ड में थे, ने राजनीतिक संरक्षण पाकर इन घातक हमलों को अंजाम दिया।

राजनीतिक हिंसा के पर्याय बन चुके खेला होबे नारे को एक दिवस के रूप में मनाने की सीएम ममता बनर्जी की घोषणा लोगों में गुस्सा फूट पड़ा है।-

Leave a Reply