Home पोल खोल सीएम गहलोत ने राहुल गांधी को दिया समझदारी का ‘सर्टिफिकेट’…बोले- राहुल बहुत...

सीएम गहलोत ने राहुल गांधी को दिया समझदारी का ‘सर्टिफिकेट’…बोले- राहुल बहुत समझदार हैं पर लोग ही उन्हें समझ नहीं पा रहे हैं….अपने विभाग में भ्रष्टाचार पर दिखे बेबस

531
SHARE

दुनिया या सोशल मीडिया चाहे कुछ भी कहे, लेकिन राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को ‘सर्टिफिकेट’ दे दिया है, वह भी बहुत समझदार होने का…..सीएम अशोक गहलोत को ऐसा क्यों कहना पड़ा, यह तो वही जाने, लेकिन उनके समझदारी वाले ‘सर्टिफिकेट’ की चर्चा कांग्रेसजनों मे भी खूब हो रही है। सीएम का कहना है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को लोग समझ नहीं पा रहे हैं। मैं दस महीने उनके साथ रहा हूं। असल में वह बहुत ही समझदार हैं।

राहुल गांधी, बीजेपी और आरएसएस को खत्म नहीं करना चाहते
सीएम अशोक गहलोत ने राहुल की समझदारी का जो तर्क दिया, वह भी सुन लीजिए। गहलोत ने कहा कि किसी ने उनसे सवाल किया था कि आप भी भाजपा मुक्त की बात क्यों नहीं करते ? तो उन्होंने कहा था कि बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) खत्म नहीं होने चाहिए। हम उनसे विचारधारा के आधार पर लड़ेंगे, हमारी उनके साथ दुश्मनी नहीं है। दरअसल, भाजपा ने पहले पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी और स्वर्गीय राजीव गांधी को बदनाम करने का प्रयास किया। इनकी रणनीति कांग्रेस के नंबर एक के नेता पर हमले की रहती है। वही राहुल गांधी के साथ हो रहा है।

जहां पर कांग्रेस की सरकारें, वहां पर आपसी घमासान ज्यादा
यह भी दिलचस्प है कि गहलोत कह तो ऐसे रहे हैं कि राहुल बीजेपी और आरएसएस को खत्म ही नहीं करना चाहते, जैसे यदि वो चाहने लग जाएंगे तो ये दोनों खत्म हो जाएंगे। राहुल गांधी और कांग्रेस मिलकर राज्यों में अपनी सरकारों तक को नहीं बचा पा रहे हैं। एक के बाद एक राज्यों में कांग्रेस की सरकारें धराशायी हो रही हैं। जहां कुछ राज्यों में कांग्रेस की सरकारें बची भी हैं तो वहां सत्ता के लिए सियासी घमासान मचा हुआ है।

मेरे विभाग में भी भ्रष्टाचार हो सकता है, यह सब जगह
गहलोत राजस्थान में भ्रष्टाचार पर भी बेबस नजर आए। सरकारी कामकाज में फैले भ्रष्टाचार को लेकर गहलोत ने कहा कि भ्रष्टाचार कहां नहीं है, सभी जगह है। ऐसा एक विभाग भी नहीं है, जहां भ्रष्टाचार न हो। और तो और जो विभाग मेरे पास हैं, उनके लिए भी मैं नहीं कह सकता हूं कि वहां पर भ्रष्टाचार नहीं है।

गुजरात के लोग राजस्थानियों से ज्यादा शराब पीते हैं
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना है कि अब तो भाजपा वाले कहने लगे हैं कि विपक्ष मजबूत होना चाहिए। मीडिया से एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राज्य में शराबबंदी नहीं हो सकती है। उन्होंने कहा कि मैं गुजरात कांग्रेस का प्रभारी रहा हूं. वहां घर-घर में शराब मिलती है। वहां के लोग यहां से ज्यादा शराब पीते हैं।

 

Leave a Reply