Home समाचार विश्व भारती शांतिनिकेतन के भूखंडों पर अवैध कब्जा करने वालों में नोबेल...

विश्व भारती शांतिनिकेतन के भूखंडों पर अवैध कब्जा करने वालों में नोबेल विजेता अमर्त्य सेन भी!

1248
SHARE

दुनिया भर में मशहूर विश्व भारती विश्वविद्यालय- शांतिनिकेतन से हैरान करने वाली खबर आ रही है। खबर है कि विश्व भारती विश्वविद्यालय के दर्जनों भूखंडों पर अवैध कब्जा कर लिए गए हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने वालों में नोबेल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन का नाम भी शामिल है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार विश्व भारती विश्वविद्यालय ने पश्चिम बंगाल सरकार को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि इसके दर्जनों भूखंडों को निजी पार्टियों के पक्ष में गलत तरीके से नामांतरित किया गया है। विश्वविद्यालय द्वारा तैयार की गई अवैध कब्जे वाले लोगों की सूची में प्रोफेसर अमर्त्य सेन का भी नाम शामिल है। 

विश्वविद्यालय ने आरोप लगाया है कि सरकार के रिकॉर्ड ऑफ राइट (आरओआर) में स्वामित्व की गलत रिकॉर्डिंग के कारण, विश्वविद्यालय की जमीन को अवैध रूप से नामांतरित  कर दिया गया है और निजी पार्टियों ने रेस्तरां, स्कूल और अन्य व्यवसायों को इस जमीन पर शुरू कर दिया है। अमर्त्य सेन के मामले में, विश्वविद्यालय ने कहा कि विश्व भारती द्वारा उनके दिवंगत पिता को कानूनी तौर पर पट्टे पर दी गई 125 डेसीमल जमीन के अलावा, 13 डेसीमल जमीन पर उनका कब्जा है। इस मामले पर सेन ने कहा कि विश्व भारती भूमि की जिस जमीन पर हमारा घर स्थित है, वह एक लंबी अवधि के पट्टे पर है, जो अभी समाप्त होने वाला नहीं है।

विश्व भारती के भूखंडों पर अवैध कब्जे को लेकर सोशल मीडिया पर अमर्त्य सेन टॉप ट्रेंड कर रहे हैं…

Leave a Reply