Home समाचार एक दिन में टीकाकरण के टूटे सभी रिकॉर्ड, बीजेपी शासित राज्यों में...

एक दिन में टीकाकरण के टूटे सभी रिकॉर्ड, बीजेपी शासित राज्यों में दी गई 70% डोज, तो 30% डोज में सिमटे विपक्ष शासित सभी राज्य

431
SHARE

देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी टीकाकरण अभियान नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 जून, 2021 को देश के सभी लोगों को मुफ्त टीके लगाने की नई टीकाकरण नीति को लागू कर दिया। इस नीति का व्यापक असर देखने को मिला। यह दिन टीकाकरण महाभियान के लिए ऐतिहासिक रहा, जब एक दिन में सबसे अधिक डोज देने का विश्व रिकॉर्ड कायम हो गया। सिर्फ एक दिन में 86.16 लाख से अधिक डोज दी गईं, जो अब तक की सबसे अधिक संख्या है। भारत में इससे पहले सर्वाधिक 48 लाख से अधिक डोज एक अप्रैल को लगाई गई थीं। भारत ने एक दिन में वैक्सीन के जितने डोज लगाए, उतनी तो दुनिया के 92 देशों की आबादी भी नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने रिकॉर्ड तोड़ टीकाकरण पर खुशी जाहिर करते हुए जहां कोरोना से लड़ाई में टीके को सबसे मजबूत हथियार बताया, वहीं टीका लगवाने वाले और अग्रिम पंक्ति के कोरोना वॉरियर्स को बधाई दी।

 बीजेपी शासित राज्य अव्वल, विपक्ष शासित राज्य फिसड्डी

को-विन पोर्टल से उपलब्ध आंकड़े काफी हैरान करने वाले हैं। सोमवार को जितना टीकाकरण हुआ, उनमें से 70 प्रतिशत डोज बीजेपी शासित राज्यों में दी गई। बाकी 30 प्रतिशत डोज में विपक्ष शासित सभी राज्य सिमट गए। बीजेपी शासित मध्य प्रदेश ने रिकॉर्ड बना दिया। वहां एक दिन में करीब 16.69 लाख वैक्सीन डोज दी गई। वहीं, पंजाब, झारखंड, छत्तीसगढ़, दिल्ली जैसे प्रदेशों में वैक्सीन की 1-1 लाख डोज भी नहीं दी जा सकी। तृणमूल कांग्रेस शासित प. बंगाल ने तो यह कहते हुए हिस्सा लेने से ही इनकार कर दिया कि उसके पास वैक्सीन की पर्याप्त डोज नहीं है। टीकाकरण करने वाले टॉप पांच राज्यों में भी विपक्ष शासित कोई राज्य शामिल नहीं है। इससे ट्विटर पर टीकाकरण की नसीहतें देने वाले और वैक्सीन की कमी को लेकर प्रोपेगैंडा करने वालों की पोल खुल गई है। इनका टीकाकरण और लोगों की जान बचाने से कोई लेनादेना है।

टीकाकरण में सबसे आगे बीजेपी शासित राज्य

 पहले 5 में भी शामिल नहीं है विपक्षी राज्य

राज्य टीकाकरण
मध्य प्रदेश 16.69 लाख
कर्नाटक 11.11 लाख
उत्तर प्रदेश 7.15 लाख
बिहार 5.19 लाख
गुजरात 5.09 लाख
हरियाणा 4.93 लाख

स्रोत : को-विन पोर्टल (21 जून, 2021)

Leave a Reply