Home नरेंद्र मोदी विशेष हिंदुस्तान में इज्जत, शोहरत,दौलत मिलने के बाद भी नसीरूद्दीन शाह को डर...

हिंदुस्तान में इज्जत, शोहरत,दौलत मिलने के बाद भी नसीरूद्दीन शाह को डर क्यों लग रहा है?

1519
SHARE

लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही अवॉर्ड वापसी गैंग ने देश में असहिष्णुता का हल्ला मचाना शुरू कर दिया है। इसका मकसद है मोदी सरकार को बदनाम कर दुनिया के सामने भारत की भद पिटवाना। मशहूर एक्टर नसीरूद्दीन शाह इस हल्ले की नमाज पढ़ने वाले नए मुल्ला बनकर उभरे हैं। जिस देश ने बिना उनका मजहब पूछे नसीरूद्दीन को इतना मान-सम्मान दिया, उस देश पर उन्होंने बिना किसी कारण के असहिष्णुता बढ़ने का आरोप लगाया और कहा कि उनको इस देश में रहने में डर लग रहा है।

दरअसल असहिष्णुता के हल्ले के सिलसिले पर नजर डालें तो एक पैटर्न साफ पता चलता है। इसके तहत पूर्व राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने महीनों पहले असहिष्णुता का राग अलापना शुरू कर दिया। फिर महबूबा मुफ्ती ने भारतवासियों को असहिष्णु ना होने की नसीहत दी और अब नसीरूद्दीन शाह ने असहिष्णुता-असहिष्णुता का शोर मचा दिया। ये बयान आते ही कांग्रेस, आरजेडी समेत कई विपक्षी दल और लुटियंस मीडिया का एक धड़ा इसे सही बताने पर तुल गया है। इसके पहले जावेद अख्तर और दीया मिर्जा समेत बॉलीवुड की कई हस्तियां किसी और बहाने से मोदी सरकार को निशाना बना चुकी हैं। जाहिर है, नसीरूद्दीन का बयान मोदी विरोधी साजिशों की अगली कड़ी है। इसके पहले 2015 में भी हमने इसी तरह की हायतौबा देखी थी, जो बिहार चुनाव बाद अचानक शांत हो गई।

लेकिन देश के ज्यादातर लोग नसीरूद्दीन शाह के इस बयान पर गुस्सा है। वो पूछ रहे हैं कि नसीरूद्दीन शाह को तब डर क्यों नहीं लगा जब 1984 में हजारों सिखों की मॉब लिंचिंग हुई थी? अगर भारत मुसलमानों के लिए इतना ही असुरक्षित है तो अवैध मुस्लिम बांग्लादेशी और म्यांमार से रोहिंग्या मुस्लिम क्यों लगातार भारत में घुसपैठ कर रहे हैं?

नसीरूद्दीन शाह का बयान 

“हवा में जहर फैल चुका है, इस जिन्न को बोतल में बंद करना मुश्किल होगा। मुझे मेरे बच्चों के लिए डर लगता है कि कभी कोई उनको कहीं रोक कर उनसे पूछने लगे कि बताओ, तुम हिंदू हो या मुस्लिम?”                     नसीरूद्दीन शाह, अभिनेता

Leave a Reply