Home पोल खोल किसान को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोपी शिवसेना सांसद ओमप्रकाश राजे...

किसान को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोपी शिवसेना सांसद ओमप्रकाश राजे निम्बालकर की गिरफ्तारी कब होगी उद्धव ठाकरे?

1149
SHARE

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी को दो साल पुराने एक मामले में गिरफ्तार किया है। महाराष्ट्र पुलिस की दलील है कि 2018 में एक शख्स ने अर्नब गोस्वामी को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था। लेकिन इसी तरह का एक मामला शिवसेना के सांसद ओमप्रकाश राजे निम्बालकर पर पर भी है।

महाराष्ट्र में एक किसान दिलीप धवले ने अप्रैल, 2019 में आत्महत्या की थी और अपने सुसाइड नोट में शिवसेना सांसद ओमप्रकाश राजे निम्बालकर पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था। इस किसान का परिवार अभी भी न्याय का इंतजार कर रहा है। अर्नब की गिरफ्तारी के बाद अब मृतक किसान के परिवार ने सीएम उद्धव ठाकरे से मांग की है कि जिस तत्परता से पुलिस ने रिपब्लिक भारत के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी के खिलाफ की है, उसी तरह से उन्हें भी न्याय दिलाया जाए।

आपको बता दें कि उस्मानाबाद पुलिस ने किसान को आत्महत्या के लिए उकसाने और धोखाधड़ी के कथित आरोपों में शिवसेना के सांसद ओमप्रकाश राजे निम्बालकर और 56 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उस्मानाबाद के तडवाले गांव के रहने वाले किसान धवले ने दो सुसाइड नोट छोड़े थे, एक ढोकी पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर के पास, और दूसरा मतदाताओं को संबोधित करते हुए। उन्होंने लिखा कि मिल को समय पर ऋण चुकाने में विफल रहने के बाद उनकी जमीन को तीन बार नीलाम किया गया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सूखे के कारण उन्होंने ऐसा कदम उठाया। अब आत्महत्या करने वाले किसान की पत्नी वंदना धवले ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से की मांग की है कि दिलीप धवले की आत्महत्या के लिए जिम्मेदार शिवसेना सांसद ओमप्रकाश राजे और अन्य आरोपियों को तत्काल अरेस्ट किया जाना चाहिए।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दिलीप धवले की पत्नी वंदना धवले ने कहा कि लोकसभा चुनावों के दौरान उद्धव ठाकरे ने उन्हें इंसाफ दिलाने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि उनके पति ने इसलिए आत्महत्या करनी पड़ी, क्योंकि उनके साथ आर्थिक धोखाधड़ी हुई थी, जिसके चलते उन्हें अपमान का सामना करना पड़ा था। धवले के परिवार का कहना है कि घटना के 5 महीने बाद इस संबंध में मामला दर्ज किया गया था और मामला दर्ज किए जाने के बाद एक साल पूरे हो चुके हैं लेकिन पुलिस ने अभी तक चार्जशीट दायर नहीं की है। 

मृतक किसान दिलीप धवले के परिवार ने इस पर आशा जताई कि जिस तरह मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नायक परिवार का कष्ट जानने के बाद तत्काल प्रभाव से कार्रवाई की है, ठीक उसी तरह मुख्यमंत्री इस मामले में भी तत्काल प्रभाव से कार्रवाई का आदेश देंगे।  वहीं, शिवसेना नेता ओमप्रकाश राजे निम्बालकर ने इस तरह के सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। लेकिन सोशल मीडिया पर लोग ठाकरे सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाल रहे हैं और सांसद निम्बालकर को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं। देखिए कैसे-