Home समाचार डीएमके प्रमुख स्टालिन के बेटे ने पीएम मोदी पर लगाया झूठा आरोप,...

डीएमके प्रमुख स्टालिन के बेटे ने पीएम मोदी पर लगाया झूठा आरोप, सुषमा और जेटली की बेटियों ने दिया करारा जवाब

703
SHARE

तमिलनाडु में 6 अप्रैल को होने वाले मतदान से पहले सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। इसी बीच डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने ऐसा बयान दिया है, जिससे विवाद खड़ा हो गया है। उदयनिधि ने दावा किया है कि सुषमा स्वराज और अरुण जेटली की मृत्यु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उन्हें प्रताड़ित किए जाने और उन पर दबाव बनाए जाने के कारण हुई। उदयनिधि के इस बयान पर दोनों की बेटियों ने तगड़ा पलटवार किया है। 

उदयनिधि स्टालिन ने 1 अप्रैल, 2021 को प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि सुषमा स्वराज नाम की एक महिला हुआ करती थी। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बनाए गए दबाव के कारण उनकी मृत्यु हुई। अरुण जेटली नाम के एक व्यक्ति हुआ करते थे। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा प्रताड़ित किए जाने के कारण उनकी मृत्यु हुई। उन्होंने प्रधानमंत्री पर वेंकैया नायडू को भी साइडलाइन करने का आरोप लगाया। नायडू फ़िलहाल भारत के उप-राष्ट्रपति हैं।

उदयनिधि के आरोपों का करारा जवाब सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज और अरुण जेटली की बेटी सोनाली जेटली बख्शी ने दिया। बांसुरी स्वराज ने ट्वीट कर कहा, ‘उदयनिधि जी, कृप्या मेरी माता के नाम का इस्तेमाल अपने चुनावी प्रोपगैंडा के लिए न करें। आपके बयान पूरी तरह गलत हैं। पीएम मोदी मेरी माता का पूरी तरह सम्मान करते थे। मुश्किल वक्त में पीएम मोदी और बीजेपी ने हमारा साथ दिया है। आपके बयान से हमें ठेस पहुंची है।’

वहीं, पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की बेटी सोनाली जेटली ने भी उदयनिधि पर पलटवार किया। सोनाली ने ट्वीट कर कहा, “उदयनिधि जी मुझे पता है कि आप पर चुनाव का दबाव है। लेकिन अगर आप मेरे पिता का अपमान करते हैं, तो मैं चुप नहीं रहूंगी। मेरे पिता और पीएम मोदी के बीच अच्छे संबंध थे। मैं प्रार्थना करती हूं कि आप उनकी दोस्ती को समझ सकें।” 

गौरतलब है कि सुषमा स्वराज की मृत्यु 6 अगस्त, 2019 को कार्डियक अटैक के कारण हुई थी। AIIMS दिल्ली में उनका इलाज चल रहा था। वो प्रथम मोदी सरकार में विदेश मंत्री थीं। प्रथम मोदी सरकार में भारत के वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली की मृत्यु 24 अगस्त, 2019 को हुई थी। उन्हें कई बीमारियाँ थीं।

उधर उदयनिधि स्टालिन तमिल फिल्म इंडस्ट्री में बतौर अभिनेता और निर्माता है। साथ ही राजनीति में भी सक्रिय हैं। डीएमके ने उन्हें पार्टी के यूथ विंग का सेक्रेटरी बना रखा है। इससे पहले 2012 में उन्होंने बतौर लीड अभिनेता एक रोमांटिक फिल्म से डेब्यू किया था। वो 15 फिल्मों में दिख चुके हैं।  

Leave a Reply