Home समाचार शिवसेना के इस दोहरे रवैये पर उठे सवाल -फ्री कश्मीर स्लोगन का...

शिवसेना के इस दोहरे रवैये पर उठे सवाल -फ्री कश्मीर स्लोगन का बचाव और महिला सुरक्षा का सवाल उठाने पर कार्रवाई

808
SHARE

शिवसेना की दोहरी नीति एक बार फिर सामने आ गई है। शिवसेना के लोगों ने POK वाले बयान को लेकर अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में राजद्रोह का मामला दर्ज करने की बात कही गई है। एक तरफ शिवसेना कंगना रनौत के बयान को लेकर पुलिस में शिकायत कर रही है। वहीं दूसरी तरफ जनवरी 2020 में मुबंई में ‘फ्री कश्मीर’ को लेकर प्रदर्शन किया गया था तब शिवसेना के सांसद संजय राउत ने उसका बचाव किया था। तब संजय राउत ने कहा था कि ‘फ्री कश्मीर’ वाले पोस्टर के माध्यम से कश्मीर में इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं के साथ-साथ अन्य मुद्दों पर लगे प्रतिबंध से मुक्ति चाहते हैं। शिवसेना का यह दोगलपन पर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

 

आपको बता दूं कि बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत लगातार अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को इंसाफ दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रही हैं और यह बात महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना पार्टी को रास नहीं आ रही है, लिहाजा शिवसेना के नेता कंगना को धमकी दे रहे हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कंगना को मुंबई न आने की धमकी दी और फिर संजय राउत ने कैमरे के सामने कंगना रनौत के खिलाफ बेहद ही गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया। संजय राउत ने धकमी देते हुए अभिनेत्री कंगना रनौत को हरामखोर तक कह डाला।

‘हरामखोर से मेरा तात्पर्य नॉटी’ 

कंगना रनौत के खिलाफ अपशब्द कहने पर हो रहे बवाल को देखते हुए  संजय राउत ने सफाई दी है। उन्होंने कहा,”मेरे कहने का गलत मतलब निकाला गया। कंगना नॉटी है थोड़ी, मैंने देखे हैं उसके बयान वगैरह। अक्सर ऐसे बोलती रहती है। कंगना नॉटी गर्ल है। मेरी भाषा में मैं उसे बेईमान कहना चाह रहा था और ऐसा कहने के लिए हम उस शब्द (हरामखोर) का इस्तेमाल करते हैं।” 

 

Leave a Reply