Home समाचार मुक्त, स्वतंत्र और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र क्वाड देशों का साझा लक्ष्य- प्रधानमंत्री...

मुक्त, स्वतंत्र और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र क्वाड देशों का साझा लक्ष्य- प्रधानमंत्री मोदी

198
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार, 24 मई को टोक्यो में क्वाड शिखर सम्मेलन को संबोधित किया। अपने प्रारंभिक भाषण में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि क्वाड ने बहुत कम समय में विश्‍व पटल पर एक महत्‍वपूर्ण स्‍थान बना लिया है। उन्‍होंने कहा कि आज क्‍वाड का दायरा काफी व्यापक और स्वरूप प्रभावी हो गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आपसी विश्‍वास और क्‍वाड देशों का दृढ़ संकल्‍प लोकतांत्रिक शक्तियों को नई ऊर्जा और उत्‍साह दे रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि क्‍वाड स्‍तर पर आपसी सहयोग के साथ मुक्‍त, स्‍वतंत्र और समावेशी हिंद प्रशांत क्षेत्र को निरंतर प्रोत्‍साहन मिल रहा है। उन्‍होंने कहा कि सभी क्‍वाड देशों का यही साझा लक्ष्‍य है।

शिखर सम्मेलन में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना महामारी के दौरान क्वाड देशों के बीच सहयोग को लेकर कहा कि कोरोना संकट काल में विपरित परिस्थितियों के बावजूद वैक्सीन डिलीवरी, सप्लाई, आपदा प्रबंधन और आर्थिक सहयोग जैसे कई क्षेत्रों में आपसी सहयोग को बढ़ाया है। इससे हिंद प्रशांत क्षेत्र में शांति, समृद्धि और स्थिरता सुनिश्चित हो रही है।

शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी के अलावा अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन, जापान के प्रधानमंत्री फ्यूमियो किशिदा और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज शामिल रहे। प्रधानमंत्री मोदी ने ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री अल्‍बनीज को चुनाव जीतने पर बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि शपथ लेने के 24 घंटे बाद क्‍वाड सम्‍मेलन में उनका क्‍वाड मैत्री की ताकत और संगठन के प्रति उनकी प्रतिबद्धता का परिचायक है।

उन्होंने कहा कि क्वाड इंडो-पेसिफिक क्षेत्र के लिए एक रचनात्मक एजेंडा लेकर चल रहा है। इससे क्वाड की छवि एक ‘Force for Good’ के रूप में और भी सुदृढ़ होती जाएगी।

 

Leave a Reply