Home समाचार पीएम मोदी की पहल को सार्क देशों से मिल रहा समर्थन, बांग्लादेश...

पीएम मोदी की पहल को सार्क देशों से मिल रहा समर्थन, बांग्लादेश ने की सार्क आपात कोष के लिए 1.5 मिलियन डॉलर की घोषणा

266
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सार्क देशों के साथ मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने की पहल की थी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सार्क देशों के नेताओं से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि आपस में एकजुट होकर हम दुनिया के सामने एक उत्‍कृष्‍ट उदाहरण पेश कर सकते हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने सार्क कोरोना आपात कोष बनाने की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री मोदी के इस पहल को सार्क देशों का व्यापक समर्थन मिल रहा है।  

बांग्लादेश ने दक्षिण एशिया में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को काबू में करने के लिए सार्क कोरोना आपात कोष में 1.5 मिलियन डॉलर (करीब 11.34 करोड़ रुपये) के योगदान का एलान किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने गत दिनों इस आपात कोष की स्थापना का प्रस्ताव करते हुए भारत की तरफ से प्रारंभिक तौर पर 10 मिलियन डॉलर (करीब 75 करोड़ रुपये) की मदद की पेशकश की थी।

बांग्लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन ने बताया कि प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सार्क सचिव के पक्ष में राशि का अनुमोदन कर दिया है। उन्होंने कहा कि दक्षिण एशियाई सहयोग संगठन (दक्षेस) सचिव से बात हुई है। राशि हस्तांतरण की प्रक्रिया जारी है और इसके बारे में भारत को बता दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि भारत के बाद आपात कोष में नेपाल और अफगानिस्तान एक-एक मिलियन अमेरिकी डॉलर (करीब 7.56 करोड़ रुपये) के योगदान का एलान कर चुके हैं। मालदीव ने दो लाख और भूटान ने एक लाख डॉलर देने की बात कही है। 

सार्क देशों में कोरोना से संक्रमण

  1. पाकिस्तान में कोरोना के अबतक 799 मामलों की पुष्टि हुई है। कोरोना से जहां 5 लोगों की मौत हुई है, वहीं 6 लोगों को इस वायरस से मुक्ति मिली है।
  2. भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित लोगों की संख्या 429 हो गई है। वहीं मरने वालों की संख्या 8 हो गई है।
  3. अफगानिस्तान में भी कोरोना का संक्रमण तेजी सै फैल रहा है। वहां अबतक 40 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है।
  4. श्रीलंका में अबतक कुल 81 लोग संक्रमित पाए गए हैं, जबकि तीन लोगों को कोरोना संक्रमण से मुक्ति मिली है।
  5. बांग्लादेश में अबतक कुल 27 लोगों में संक्रमण पाया गया है। जबकि वहां दो लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं तीन लोगों को कोरोना के संक्रमण से मुक्ति मिली है। भारत ने वुहान में रह रहे 23 बांग्लादेशी छात्रों का भी रेस्क्यू किया था, इसके लिए बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने पीएम मोदी का शुक्रिया कहा था।
  6. मालदीव में अबतक 13 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। वहीं तीन लोगों को इस संक्रमण से मुक्ति मिली है।  
  7. नेपाल में कोरोना का संक्रमण अभी कम है। वहां अबतक सिर्फ एक शख्स में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। 
  8. भूटान में कोरोना का अबतक सिर्फ 2 कन्फर्म केस सामने आए हैं। भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग ने कहा कि ऐसे समय में सार्क देशों का नजदीक आना जरूरी है। रात-दिन हम अलर्ट मोड पर हैं। सभी संदिग्ध लोगों पर हमारी नजर है। लोगों को अलग रखा जा रहा है।

सार्क देशों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मोदी सरकार ने सार्क देशों की मदद के लिए एहतियात के तौर पर कई कदम उठाए हैं। कोरोना वायरस से निटपने के लिए डॉक्टरों की एक रैपिड रेस्पांस टीम गठित की गई है। इन डॉक्टरों के पास इमरजेंसी किट के साथ-साथ सभी जरूरी उपकरण है। यह टीम हमेशा सार्क देशों की सहयता के लिए तैयार है। इसके साथ ही इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस गठित की गई है, ताकि कोरोना संक्रमित लोगों की पहचान की जा सके। इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस सॉफ्टवेयर सार्क के सहयोगी देशों को देने की पेशकश की गई है।

 

Leave a Reply