Home नरेंद्र मोदी विशेष हमने पूर्वोत्तर के हर क्षेत्र को विकास की मुख्यधारा से जोड़ा है-...

हमने पूर्वोत्तर के हर क्षेत्र को विकास की मुख्यधारा से जोड़ा है- प्रधानमंत्री मोदी

1350
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मिजोरम में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि मिजोरम की जनता कांग्रेस की प्राथमिकता में नहीं है। देश अब ‘कांग्रेस की फूट डालो और शासन करो’ की नीति को समझ चुका है। यही वजह है कि अब वे दो-तीन राज्यों तक सीमित होकर रह गए हैं। केंद्र की हमारी सरकार विकास के लिए काम कर रही है। हमारा मकसद सबका साथ सबका विकास करना है। हम मिजो समाज को संविधान में मिले अधिकारों की भी रक्षा करेंगे।  

मिजोरम विधानसभा चुनाव 2018 के लिए प्रचार के दौरान लुंगलेई में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आपको याद होगा, कुछ महीने पहले कांग्रेस नेताओं ने पूर्वोत्तर के परम्परागत परिधान का अपमान किया था। पूर्वोत्तर के विभिन्न स्थानों पर मुझे जो परिधान दिए गए, उन्होंने उन्हें अजीबोगरीबबताया था। वे जब यहां आते हैं, तो काफी कुछ बोलते हैं, लेकिन उनकी असलियत यही है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “पिछले चार साल में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने भारतीय संस्कृति तथा परम्पराओं को दूर-दूर तक प्रसारित करने तथा उन्हें पहचान दिलाने के लिए काम किया है।  लेकिन मुझे गहरा दुख होता है, जब मैं कांग्रेस के नेताओं को उन्हीं परम्पराओं का अपमान करते हुए देखता हूं।

ट्रांसफॉर्मेशन थ्रू ट्रांसपोर्टेशन

मिजोरम से लेकर मध्य प्रदेश तक, छत्तीसगढ़ से लेकर राजस्थान तक कांग्रेस की यही कहानी है। भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद के आरापों से घिरी अपनी सरकार को बचाने के लिए कांग्रेस यहां भी इसी फॉर्मूले पर चल रही है।” उन्होंने आगे कहा कि भारत का संपूर्ण विकास तभी संभव है, जब हमारा ये पूर्वी हिस्सा विकसित होगा। भाजपा नॉर्थ ईस्ट के विकास के लिए समर्पित है। विशेष तौर पर कनेक्टिविटी, हाईवे, रेलवे, एयरवे, वॉटरवे और आईवे पर हमारा फोकस है। विकास के लिए ट्रांसफॉर्मेशन थ्रू ट्रांसपोर्टेशन का फॉर्मूला हमारा एजेंडा है।  

पूर्वोत्तर से अपने लगाव को दोहराते हुए पीएम मोदी ने कहा, “पिछले चार सालों में मैं 27 बार पूर्वोत्तर का दौरा कर चुका हूं। पिछले साल दिसंबर में मिजोरम में अपनी यात्रा के दौरान मैंने टूरियल हाइड्रो पावर प्लांट का उद्घाटन किया था। आज मैं भारतीय जनता पार्टी के लिए आपसे आशीर्वाद लेने आया हूं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने मिजोरम की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद में लिप्त होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कल्चर का उदाहरण न्यू लैंड यूज पॉलिसी भी है। इसके माध्यम से कांग्रेस ने अपने लोगों को सरकारी खजाने से पैसे बांटे हैं। इसका पूरा कच्चा चिट्ठा सीएजी ने खोला है।

बम-बंदूक से विकास की ओर बढ़ा चला है पूर्वोत्तर

पूर्वोत्तर के विकास को अपनी प्रतिबद्धता बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि एक्ट ईस्ट, एक्ट फास्ट फॉर इंडिया ईस्ट के मंत्र पर चलते हुए पिछले साढ़े चार वर्ष में हमने पूर्वोत्तर के हर क्षेत्र को विकास से जोड़ा है। भाजपा के प्रयासों को पूर्वोत्तर के लोगों ने सराहा और स्वीकार किया है। बम, बंदूक, बंद और ब्लॉकेड के दौर से अब पूर्वोत्तर बाहर निकल चुका है।

पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों के डबल इंजन ने नॉर्थ-ईस्ट के विकास की गति को बहुत बढ़ा दिया है। अब मिजोरम के लोगों की बारी विकास की इस मुख्यधारा से जुड़ने की है। जब शांति होती है तो विकास के नए द्वार खुलते हैं। हमारी सरकार ने पूर्वी एशिया के देशों के साथ अपने संबंध अच्छे बनाने के लिए पूर्वोत्तर को गेटवे बनाया।      

पीएम मोदी ने 27 मई 2016 के दिन को मिजोरम के लिए ऐतिहासिक बताया, जब उन्होंने राज्य को ब्रॉड गेज रेल लाइन से जोड़ने के प्रोजेक्ट का लोकार्पण करते हुए सिलचर से भैरावी रोजाना पैसेंजर गाड़ी को हरी झंडी दिखायी थी। उन्होंने कहा कि 5000 करोड़ की लागत की भैरावी से सैरांग को जोड़ने वाली रेल लाइन प्रोजेक्ट को भी एक-डेढ़ साल में पूरा कर लिया जाएगा। कनेक्टिविटी, हाइवे, रेलवे, एयरवे, वाटरवे, आईवे पर हमारा फोकस है। पीएम मोदी ने बताया कि उनकी सरकार पूर्वोत्तर के विकास के लिए 90,000 करोड़ रुपये खर्च कर रही है। पिछले चार वर्षों में 1000 किलोमीटर रेल लाइन को ब्रॉड गेज में बदला जा चुका है। 50,000 करोड़ की लागत से 15 नई रेल लाइनें बिछाई जा रही हैं। पूर्वोत्तर के हर राज्य की राजधानी को ब्रॉड गेज से जोड़ने का काम चल रहा है।

गति और प्रगति दोनों पर ध्यान

पीएम मोदी ने कहा,“भाजपा की सरकार गति और प्रगति दोनों पर ध्यान देती है। जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, तो पूर्वोत्तर में हर साल 100 किलोमीटर रेल लाइन बिछाई जाती थी या ब्रॉड गेज में बदली जाती थी, लेकिन हमारी सरकार के समय में यह काम तीन गुना ज्यादा गति से हो रहा है। नॉर्थ ईस्ट में नए एयरपोर्ट भी बनाए जा रहे हैं। पुराने एयरपोर्ट या हेलीपैड को अपग्रेड किया जा रहा है, उनको उड़ान योजना से जोड़ा जा रहा है। 5000 किलोमीटर से ज्यादा लंबाई के नेशनल हाइवे बन रहे हैं। करीब 5000 करोड़ रुपये के टेलीकॉम प्रोजेक्ट चल रहे हैं। सिर्फ मिजोरम में पिछले चार वर्षों में पौने दो सौ किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग बनाए गए हैं। इसके साथ ही, 200 किलोमीटर स्टेट हाइवे को नेशनल हाइवे में बदला गया है। मिजोरम के 50 बड़े सड़क प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार 8,000 करोड़ रुपये खर्च कर रही है। इन विकास कार्यों से रोजगार के हजारों अवसर भी बन रहे हैं।”

पीएम मोदी ने कहा कि मिजोरम सरकार केंद्र की ओर से दिए गए 250 करोड़ रुपये को खर्च नहीं कर पाई है, और जो कुछ राशि खर्च की गई है, उसका हिसाब भी नहीं दिया गया है। राज्य सरकार ठेके में जमकर भाई-भतीजावाद चलाती है। मिजोरम के ज्यादातर प्रोजेक्ट तय समय से पीछे चल रहे हैं। गांव-गांव में लोग बिजली की कटौती से परेशान हैं। यहां बिजली पैदा करने की बहुत संभावना है, फिर भी यहां के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। कांग्रेस की नीयत ठीक होती तो टूरियम डैम कब का बन चुका होता।  अटल जी की सरकार ने 1998 में मंजूरी दी थी। कांग्रेस इस प्रोजेक्ट को लटकाती रही, लेकिन हमने पिछले साल दिसंबर में इसे जनता को समर्पित भी कर दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि उज्ज्वला योजना से लाभान्वित होने वाले देश के 6 करोड़ परिवारों में 25 हजार परिवार मिजोरम के हैं। जनधन खाता खोलने वाले 32 करोड़ लोगों में 3 लाख लोग मिजोरम के हैं। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से लाभ लेने वाले 20 करोड़ लोगों में से सवा लाख लोग मिजोरम के हैं।  

पीएम मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश के 6 करोड़ गरीब परिवारों को घर बनाकर उसकी चाबी सौंप दी गई है, लेकिन मिजोरम की कांग्रेस सरकार गरीबों के लिए घर बनाने में केंद्र की इस योजना में कोई सहायता नहीं कर रही है। पीएम मोदी ने कांग्रेस की भ्रष्टाचारी और भाई-भतीजेवाद वाली सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए 28 नवंबर को होने वाले मतदान में बीजेपी के उम्मीदवारों के लिए मतदान करने की अपील की।     

 

Leave a Reply