Home समाचार ह्यूस्टन में पीएम मोदी ने कहीं ये खास और विशेष बातें

ह्यूस्टन में पीएम मोदी ने कहीं ये खास और विशेष बातें

1279
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ह्यूस्टन स्थित एनआरजी स्टेडियम में स्वागत से लेकर संबोधन तक के बारे में जानिए खास 15 बातें। मोदी ने ह्यूस्टन में रह रहे भारतीय समुदाय को संबोधित करने के दौरान हाउडी मोदी के मतलब से लेकर उसका जवाब काफी संधे अंदाज में दिया। इसके साथ ही उन्होंने देश की अच्छी स्थिति से लेकर प्रगति तक के बारे में बताया।

  • Howdy Modi का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा भारत में सब कुछ अच्छा है, इस कार्यक्रम का नाम Howdy Modi है लेकिन अकेले मोदी कुछ नहीं है, यह 130 करोड़ भारतीय का सम्मान है।
  • आज हम एक नई हिस्ट्री के साथ नई केमिस्ट्री बनते देख रहे हैं।
  • विविधता में एकता ही हमारी धरोहर है, यही हमारी विशेषता है और यही हमारी शक्ति है। अलग-अलग धर्म और संप्रदाय इस धरती को अद्भुत बनाते हैं।
  • आज भारत का सबसे बड़ा और प्रचलित शब्द है विकास, आज भारत की सबसे बड़ी नीति है जन-भागीदारी ( public participation), आज भारत का सबसे बड़ा संकल्प है न्यू इंडिया।
  • हमारा लक्ष्य ऊंचा है, हमारी उपलब्धि और ऊंची है। पांच सालों में हमने जितना विकास किया है वह अकल्पनीय है। हमारा मुकाबला किसी और से नहीं बल्कि खुद से है।

  • पासपोर्ट वीजा में आने वाली दिक्कतें खत्म हो गई हैं, अब पासपोर्ट जल्दी बनकर घर आ जाता है।
  • हम वेलफेयर के साथ ही फेयरवेल भी देते हैं, पुराने कानूनों, दर्जनों टैक्स जाल को फेयरवेल दे दिया।
  • हम करप्शन को भी चैलेंज कर उसे भी फेयरवेल देने के लिए कदम उठा रहे हैं। हमने 8 करोड़ से भी ज्यादा फेक नेम को फेयरवेल दे दिया है।
  • 70 साल से बहुत बड़ी चुनौती बनी आर्टिकल 370 को भी हमने फेयरवेल दे दिया है। इससे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को समाना अधिकार और विकास से वंचित कर रखा था।
  • आर्टिकल 370 का लाभ अलगाववादियों और आतंकवादियों को मिल रहा था। भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं वे सारे अधिकार जम्मू-कश्मीर के लोगों को भी मिल गए हैं।
  • हमारी पार्लियामेंट के दोनों सदनों में घंटों चर्चा हुई, जिसे पूरी दुनिया ने देखा, राज्य सभा में सरकार को बहुमत नहीं होने के बावजूद हमारी संसद ने बहुमत से इसे पास कर दिया।

  • कुछ लोग भारत से नफरत को ही अपनी राजनीति का केंद्र बना लिया है, ये वही लोग हैं जो आतंकवाद को पालते पोसते हैं, अमेरिका में 9-11 हो या मुंबई में 26-11 उसके साजिशकर्ता कहां पाए जाते हैं ये सभी को पता है।
  • समय आ गया है कि आतंकवाद को बढ़ावा और पनाह देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए, इस लड़ाई में राष्ट्रपति ट्रंप आतंकवाद के खिलाफ मजबूती से खड़े हैं।
  • भारत आज चुनौतियों को टाल नहीं रहा बल्कि चुनौतियों से टकरा रहा है, थोड़े बहुत इनक्रीमेंटल सुधार नहीं बल्कि संपूर्ण समाधान कर रहा है।
  • आज भारत सीधे विदेशी निवेश के पसंदीदा ठिकानों में हैं। कॉरपोरेट टैक्स टैक्स कम होने से सकारात्मक संदेश गया है
  • ट्रंप मुझे टफ नेगोसिएटर कहते हैं लेकिन वे खुद ‘आर्ट ऑफ द डील’ में माहिर हैं मैं उनसे बहुत कुछ सीख रहा हूं।
  • आप भले ही वतन से दूर हैं, लेकिन आपके वतन की सरकार आप से दूर नहीं है।

अपने संबोधन के अंत में मोदी ने ह्यूस्टन में मौजूद भारतवासियों को यह कहकर मन मोह लिया कि भले ही आप वतन से दूर हैं लेकिन आपके वतन की सरकार आपसे दूर नहीं है, वह सदैव आपके साथ आपकी मदद करने के लिए तैयार है।

Leave a Reply