Home नरेंद्र मोदी विशेष मोदी@72 : जन्मदिन के खास मौके पर पीएम मोदी ने कूनो नेशनल...

मोदी@72 : जन्मदिन के खास मौके पर पीएम मोदी ने कूनो नेशनल पार्क में छोड़े 8 चीते, 70 साल का इंतजार हुआ खत्म

171
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज अपना 72वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस खास मौके पर प्रधानमंत्री मोदी मध्य प्रदेश के श्योपुर पहुंचे, जहां उन्होंने इतिहास रचते हए 70 साल के इंतजार को खत्म किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कूनो नेशनल पार्क को आठ चीतों की सौगात दी। इस दौरान नामीबिया से आए 8 चीतों ने भारत की सरजमीं पर पहला कदम रखा। यहां प्रधानमंत्री के लिए 10 फीट ऊंचा प्लेटफॉर्मनुमा मंच बनाया गया था। इसी मंच के नीचे पिंजरे में चीते थे। प्रधानमंत्री मोदी ने लीवर के जरिए बॉक्स को खोला। चीते बाहर आते ही अनजान जंगल में थोड़ा सा सहमे भी। इधर-उधर नजरें घुमाईं और चहलकदमी करने लगे। 

पिंजरे से चीतों के बाहर आते ही प्रधानमंत्री मोदी ने उनका ताली बजाकर स्वागत किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ फोटो भी क्लिक किए। 500 मीटर चलकर प्रधानमंत्री मोदी मंच पर पहुंचे थे। उनके साथ राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी थे। उन्होंने चीता मित्र दल के सदस्यों से भी बात की। 

प्रधानमंत्री मोदी भी 10.30 बजे कूनो नेशनल पार्क पहुंच गए। प्रधानमंत्री सेना के हेलीकॉप्टर से कूनो अभयारण्य के लिए रवाना हुए थे। सुबह 10 बजे चिनूक हेलीकॉप्टर से चीतों को यहां लाया गया। ग्वालियर एयरबेस से विशेष चिनूक हेलीकॉप्टर से चीतों को कूनो पहुंचाया गया। इससे पहले चीतों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। सभी चीते पूरी तरह फिट मिले। ग्वालियर एयरबेस पर चीतों के साथ आए एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर लाेरी मारकर सहित पूरे दल से केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुलाकात की। 

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी मध्य प्रदेश के ग्वालियर में भारतीय वायु सेना स्टेशन पर पहुंचे। जहां मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और अन्य नेताओें ने प्रधानमंत्री मोदी की आगवानी की।

गौरतलब है कि पांच मादा और तीन नर चीतों को लेकर विमान ने नामीबिया से उड़ान भरी थी। नामीबिया से भारत लाने के लिए विमान में विशेष माप वाले पिंजरे बनाए गए थे। करीब 11 घंटे की यात्रा करके ये चीते शनिवार सुबह ग्वालियर में उतरे। ग्वालियर से इन्हें विशेष चिनूक हेलीकॉप्टर से मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क लाने ले जाया गया।

Leave a Reply