Home समाचार क्‍वाड विश्व कल्‍याण, हिन्‍द-प्रशांत क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि में एक...

क्‍वाड विश्व कल्‍याण, हिन्‍द-प्रशांत क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि में एक सकारात्‍मक शक्ति- प्रधानमंत्री मोदी

238
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि क्‍वाड विश्व कल्‍याण, हिन्‍द-प्रशांत क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि में एक सकारात्‍मक शक्ति है। शु्क्रवार को क्वाड देशों- भारत, अमरीका, जापान और ऑस्‍ट्रेलिया के पहले वर्चुअल शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत इस क्षेत्र में सबके लिए सुरक्षा और विकास के विजन-सागर का पूरी तरह समर्थन करता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम अपने लोकतांत्रिक मूल्यों और एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लेकर हमारी प्रतिबद्धता के लिए एकजुट हैं। आज हमारे एजेंडे में टीका, जलवायु परिवर्तन और उभरती प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्र शामिल हैं, जो वैश्विक भलाई के लिए क्वाड को एक ताकत बनाते हैं।

उन्होंने कहा कि मैं इस सकारात्मक नजरिये को भारत के वसुधैव कुटुम्बकम के प्राचीन दर्शन के विस्तार के रूप में देखता हूं, जो पूरी दुनिया को एक परिवार मानता है। उन्होंने कहा कि हम अपने साझा मूल्यों को आगे बढ़ाने और एक सुरक्षित, स्थिर और समृद्ध हिंद-प्रशात को बढ़ावा देने के लिए पहले से कहीं अधिक साथ मिलकर काम करेंगे। आज का शिखर सम्मेलन बताता है कि क्वाड अब विकसित हो चुका है। यह अब क्षेत्र में स्थिरता का एक महत्वपूर्ण स्तंभ बना रहेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह संगठन हिन्द-प्रशांत क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि के लिए काम करेगा। उन्होंने कहा कि क्वाड देशों ने कोविड-19 वैक्सीन की सुरक्षा तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए ऐतिहासिक भागीदारी शुरू की है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जापान, अमरीका और ऑस्ट्रेलिया की सहायता से भारत की विशाल वैक्सीन उत्पादन क्षमता का विस्तार किया जाएगा ताकि हिन्द-प्रशांत क्षेत्र के देशों की सहायता की जा सके। श्री मोदी ने कहा कि क्वाड सम्मेलन के अवसर पर उनकी अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मारिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशीहिडे सुगा के साथ उपयोगी बातचीत हुई।

Leave a Reply