Home समाचार कोरोना को लेकर सतर्क रहने की जरूरत, जब तक दवाई नहीं, तब...

कोरोना को लेकर सतर्क रहने की जरूरत, जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं- प्रधानमंत्री मोदी

285
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक बार फिर कहा है कि कोरोना को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। प्रधानमंत्री मोदी कोरोना को लेकर बढ़ती लापरवाही के बीच देशवासियों को एक नया मंत्र देते हुए कहा कि ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “ये बात मैं बार-बार कहता हूं, जरूर याद रखिए, मुझे विश्‍वास है आप याद रखेंगे। इतना ही नहीं मेरी बात मानेंगे भी, देखिए जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं याद रहेगा। दो गज़ की दूरी, मास्क है ज़रूरी, इस मंत्र को भूलना नहीं है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने 12 सितंबर को मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत बने 1.75 लाख घरों के गृह प्रवेश कार्यक्रम का उद्घाटन करते वक्त ये बात कही। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अब मध्य प्रदेश के पौने दो लाख ऐसे परिवार, जो आज अपने घर में प्रवेश कर रहे हैं, जिनका गृह-प्रवेश हो रहा है, उनको भी मैं बहुत बधाई देता हूं, शुभकामनाएं देता हूं। उन्होंने कहा कि इस बार आप सभी की दीवाली, आप सभी के त्योहारों की खुशियां कुछ और ही होगी। कोरोना काल नहीं होता तो आज आपके जीवन की इतनी बड़ी खुशी में शामिल होने के लिए, आपके घर का एक सदस्य, आपका प्रधानसेवक आपके बीच होता।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना काल में तमाम रुकावटों के बीच देशभर में 18 लाख घरों का काम पूरा किया गया। उसमें 1 लाख 75 हजार घर अकेले मध्य प्रदेश में ही पूरे किए गए हैं। इस दौरान जिस गति से काम हुआ है, वो भी अपने आप में एक रिकॉर्ड है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक घर बनाने में औसतन 125 दिन लगते हैं, लेकिन कोरोना के समय में इस योजना के तहत घरों को सिर्फ 45 से 60 दिन में ही बनाकर तैयार कर दिया गया। आपदा को अवसर में बदलने का ये सबसे अच्छा उदाहरण है।

Leave a Reply