Home समाचार वॉशिंगटन पहुंचे पीएम मोदी, एयरपोर्ट से होटल तक जोरदार स्वागत, बारिश में...

वॉशिंगटन पहुंचे पीएम मोदी, एयरपोर्ट से होटल तक जोरदार स्वागत, बारिश में भी खड़े रहे लोग, 7 वर्षों में सातवां अमेरिका दौरा

655
SHARE

अंतरराष्ट्रीय कूटनीति के बाहुबली और लोगों के प्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार (23 सितंबर, 2021) को अपने तीन दिवसीय अमेरिकी दौरे के लिए वॉशिंगटन पहुंचे। यहां पर प्रधानमंत्री मोदी का जोरदार स्वागत देखने को मिला। एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत के लिए भारतीय और अमेरिकी अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय के लोग भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री मोदी के पहुंचते ही भारतीय समुदाय के लोगों ने नारा लगाना शुरू कर दिया। उनके प्रति लोगों में दीवानगी इस कदर थी कि एक झलक देखने के लिए बारिश की परवाह किए बिना इंतजार करते रहे।

प्रधानमंत्री मोदी भी लोगों से मिलने के लिए खासतौर पर अपनी गाड़ी से उतर कर लोगों तक पहुंचे। इस दौरान लोगों में उनसे हाथ मिलाने की होड़ लग गई। एयरपोर्ट से लेकर होटल तक प्रधानमंत्री मोदी का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री मोदी को अपने बीच पाकर भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लोग काफी उत्साहित है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी का भी यह पहला बड़ा विदेश दौरा है।

पीएम मोदी के नेतृत्व में महाशक्ति के रूप में उभर रहा भारत

इस दौरे के अगले दो दिनों में प्रधानमंत्री मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से मिलेंगे। इस दौरान क्वाड मीटिंग में हिस्सा लेंगे और शीर्ष कंपनियों के सीईओ से मुलाकात कर भारत में आर्थिक उपलब्धियों को उनके सामने रखेंगे। जानकार मानते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत पूरे अंतरराष्ट्रीय पटल पर बड़े खिलाड़ी के रूप में उभर रहा है। विश्व की बड़ी ताकत बनने की तरफ अग्रसर भारत के प्रधानमंत्री का यह दौरा एक नया और बड़ा कदम है।

बाइडेन के साथ भी बनेगी पीएम मोदी की केमिस्ट्री

प्रधानमंत्री मोदी का यह सातवां अमेरिका दौरा है। लेकिन बदली वैश्विक परिस्थितियों को देखते हुए यह दौरा काफी अहम माना जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के साथ राष्ट्रपति बाइडेन की पहली आमने-सामने मुलाकात होगी। इस दौरान दोनों के बीच एक अलग केमिस्ट्री बनना संभव है। प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ मिल कर भारत व अमेरिकी रिश्तों को गहराई देने की जो कोशिश शुरू की थी, वह पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल में नई ऊंचाई पर पहुंची थी। उक्त दोनों के साथ प्रधानमंत्री मोदी के व्यक्तिगत संबंध भी बने थे, जिसका असर साफ तौर पर द्विपक्षीय रिश्तों पर भी दिखाई देता है। विदेशी नेताओं के साथ एक खास केमिस्ट्री विकसित कर द्विपक्षीय रिश्तों को आगे बढ़ाना प्रधानमंत्री मोदी की कूटनीति का एक अहम हिस्सा है।

Leave a Reply