Home चुनावी हलचल खड़गपुर की चुनावी रैली में जमकर बरसे प्रधानमंत्री मोदी, कहा दीदी ने...

खड़गपुर की चुनावी रैली में जमकर बरसे प्रधानमंत्री मोदी, कहा दीदी ने बंगाल को बर्बाद कर दिया

335
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए एक बार फिर ममता बनर्जी पर करारा हमला  किया। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों के साथ निर्ममता की और बंगाल को बर्बाद कर दिया है। दीदी ने बंगाल के लोगों के सपनों को चूर- चूर कर के रख दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले कांग्रेस, फिर लेफ्ट और अब ममता दीदी ने बंगाल का विकास रोक दिया। इसके चलते पिछले 50- 55 वर्षों से बंगाल का विकास डाउन हो गया है। पीएम ने बंगाल के लोगों से अपील करते हुए कहा कि आपने सभी को मौका देकर देख लिया है। हम आपसे सिर्फ 5 साल मांगते हैं, हम बंगाल में 70 साल की बर्बादी को मिटा कर दिखा देंगे। उन्होंने कहा कि हम बंगाल के हर क्षेत्र को विकास की नई ऊंचाई पर पहुंचाना चाहते हैं। हम सिर्फ बंगाल में कमल ही नहीं खिलाना चाहते, बल्कि बंगाल के लोगों का भविष्य उज्ज्वल बनाना चाहते हैं।

श्री मोदी ने कहा कि जहां-जहां राज्यों में बीजेपी सरकारें हैं, वहां केंद्र और बीजेपी की राज्य सरकार मिलकर डबल इंजन की ताकत के साथ जनता-जनार्दन की सेवा में लगे हुए हैं। बंगाल में भी दिल्ली की ताकत और बंगाल की ताकत दोनों इंजन एक दिशा में लगेंगे, तब जाकर के बंगाल बर्बादी से बाहर निकलेगा। हम सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र के साथ काम कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल में बीजेपी सरकार आने के बाद कानून का राज स्थापित किया जाएगा। पश्चिम बंगाल को अब पढ़ाई, कमाई, दवाई, सिंचाई और सुनवाई सुनिश्चित करने वाली सरकार चाहिए। भाजपा की डबल इंजन सरकार चाहिए। केंद्र सरकार के प्रयास पूरी तरह से तभी जमीन पर उतर पाएंगे, जब यहां भी भाजपा सरकार बनेगी। डबल इंजन की सरकार यहां ज्यादा रोजगार, ज्यादा उद्योगों के निर्माण के अवसर बनाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज बंगाल का गरीब पूछ रहा है कि उसको आयुष्मान भारत के तहत मुफ्त इलाज की सुविधा का लाभ क्यों नहीं मिलता? आज बंगाल का किसान पूछ रहा है उसको किसान सम्मान निधि के हजारों रुपए क्यों नहीं मिले? शहरों में रेहड़ी-ठेला चलाने वाले गरीब पूछ रहा है कि उनको पीएम स्वनिधि के तहत आर्थिक मदद सही से क्यों नहीं मिली? बंगाल की बहनें पूछ रही हैं कि हर घर जल पहुंचाने के लिए टीएमसी सरकार को जो पैसा दिल्ली से भेजा था, वो पैसा ये सरकार तिजोरी में रखकर के क्यों बैठ गईं? आज बंगाल का गरीब पूछ रहा है कि क्यों ममता सरकार ने लाखों गरीबों को पक्के घर से वंचित रखा? उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से बीते वर्षों में बंगाल के लिए 33 लाख पक्के घर स्वीकृत किए गए हैं। इनमें से लाखों घर अब भी पूरे नहीं हो पाए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “गरीब का जीवन तब सुधरता है, जब जीवन और कारोबार दोनों सरल होता है, रोजगार के अवसर बनते हैं। खड़गपुर सहित पश्चिम बंगाल के अनेक शहरों में आत्मनिर्भर भारत के महत्वपूर्ण सेंटर बनने की भरपूर संभावनाएं हैं। इन संभावनाओं पर भी टीएमसी सरकार ने लगातार चोट पहुंचाई है, प्रहार किया है। एक तरफ देश निरंतर सिंगल विंडो सिस्टम की तरफ बढ़ रहा है, ताकि कारोबारी को, उद्यमी को यहां-वहां भटकना ना पड़े। लेकिन पश्चिम बंगाल में एक अलग प्रकार का सिंगल विंडो सिस्टम है, देशवासियों को अभी इसके बारे में पता नहीं है। ये सिंगल विंडो है- भाइपो विंडो। पश्चिम बंगाल में इस विंडो से गुजरे बिना कुछ नहीं हो सकता।“

रैली के अंत में पीएम मोदी ने कहा कि यह चुनाव सिर्फ विधायक, मंत्री और मुख्यमंत्री को बदलने का ही नहीं है, बल्कि शोनार बांग्ला के निर्माण का है। पीएम मोदी ने जनसभा में उपस्थि लोगों से कहा कि हर बूथ पर भारी संख्या में भाजपा के लिए मतदान हो, ये संकल्प लेकर हमें यहां से निकलना है। इस बार जोर से छाप, कमल छाप। कमल छाप पर पड़ा एक-एक वोट डबल इंजन सरकार के लिए होगा, शोनार बांग्ला के निर्माण के लिए होगा।

Leave a Reply