Home समाचार किसानों की आय दोगुनी करने के लिए तेजी से उठाये जा रहे...

किसानों की आय दोगुनी करने के लिए तेजी से उठाये जा रहे हैं कदम : Global Potato Conclave में पीएम मोदी

326
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए गुजरात के गांधीनगर में आयोजित Global Potato Conclave को संबोधित किया है। Global Potato Conclave को पहली बार दिल्ली से बाहर गुजरात में आयोजित कियाा गया है।

इस अवसर पर किसानों, वैझानिको और सभी Stakeholders को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह खुशी की बात है कि अगले तीन दिनों में आप सभी पूरे विश्व के Food और Nutrition की डिमांड से जुड़े महत्वपूर्ण पहलुओं पर चर्चा करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि इस कॉन्कलेव की खास बात ये भी है कि यहां Potato Conference, Agri Expo और Potato Field Day, तीनों एक साथ हो रहे हैं। गुजरात में इस कॉन्क्लेव का होना काफी अहम है क्योंकि ये राज्य Potato की Productivity के लिहाज़ से देश का पहले नंबर का राज्य है।

पीएम मोदी ने कहा कि साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को लेकर तेज़ी से कदम उठाए जा रहे हैं। किसानों के प्रयास और सरकार की पॉलिसी के कॉम्बिनेशन का ही परिणाम है कि अनेक अनाजों और दूसरे खाने के सामान के उत्पादन में भारत दुनिया के टॉप-3 देशों में है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि फूड प्रोसेसिंग से जुड़े सेक्टर को प्रमोट करने के लिए केंद्र सरकार ने भी अनेक कदम उठाए हैं। चाहे इस सेक्टर को 100 फीसदी FDI के लिए खोलने का फैसला हो या फिर पीएम किसान संपदा योजना के माध्यम से वैल्यू एडिशन और वैल्यू चेन डेवलपमेंट में मदद समेत हर स्तर पर कोशिश की जा ही है।

पीएम मोदी ने कहा कि इस महीने के शुरुआत में एक साथ 6 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 12 हजार करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर करके एक नया रिकॉर्ड भी बनाया गया है। उन्होंने कहा कि किसान और उपभोक्ता के बीच के Layers और उपज की बर्बादी को कम करना हमारी प्राथमिकता है। इसके लिए परंपरागत कृषि को बढ़ावा दिया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का जोर कृषि टेक्नॉलॉजी आधारित स्टार्ट अप्स को प्रमोट करने पर भी है ताकि स्मार्ट और प्रिसिजन एग्रीकल्चर के लिए ज़रूरी किसानों के डेटाबेस और एग्री स्टैक का उपयोग किया जा सके। 

किसानों व वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि  एग्रीकल्चर सेक्टर में आधुनिक बायोटेक्नॉलॉजी, Artificial Intelligence, Block chain, Drone Technology, ऐसी हर नई टेक्नॉलॉजी का कैसे बेहतर उपयोग हो सकता है, इसको लेकर भी आपके सुझाव और समाधान अहम रहेंगे। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी में कोई भूखा और कुपोषित ना रहे, इसकी भी एक बड़ी जिम्मेदारी आप सभी के कंधों पर है। 

Leave a Reply