Home समाचार केजरीवाल ने दिल्ली को दुनिया की सबसे खराब स्वास्थ्य व्यवस्था बनाया

केजरीवाल ने दिल्ली को दुनिया की सबसे खराब स्वास्थ्य व्यवस्था बनाया

1054
SHARE

देश की राजधानी का तमगा दिल्ली को सिर्फ उसके नाम की वजह से नहीं मिला है बल्कि दिल्ली के पीछे उसका एक गौरवशाली इतिहास जुड़ा हुआ है लेकिन आज दिल्ली कराह रही है। पूरी दिल्ली आज कोरोना की राजधानी में तब्दील हो चुकी है। दिल्ली की स्वास्थ्य सेवाएं दुनिया की सबसे खराब व्यवस्था बन चुकी है और दिल्ली का मोहल्ला क्लिनिक एक बदनुमा दाग।

वुहान बना दिल्ली

ये गाना तो आपने जरूर सुना होगा ये दिल्ली है मेरी जान। आज उस दिल्ली को केजरीवाल ने बेजान कर दिया है। शंघाई बनाने का दावा करने वाले केजरीवाल ने दिल्ली को कोरोना का वुहान बना दिया है। जहां पूरा देश कोरोना से उबर रहा है वहीं आज भी पूरी दिल्ली कोरोना का हॉटस्पॉट बनी हुई है।

कोरोना संभालने में फेल केजरीवाल यूपी अव्वल

मात्र 1.9 करोड़ की जनसंख्या वाली दिल्ली में लगभग 21 करोड़ की आबादी वाले यूपी से ज्यादा कोरोना के मरीज है। दिल्ली में जहां मात्र 11 जिले है जो सभी कोरोना के रेड जोन में शामिल है वहीं यूपी के 75 जिलों में से मात्र 19 जिले ही रेड जोन में है। यूपी के 21 करोड़ लोगों के लिए मात्र 113 अस्पताल मौजूद है तो दिल्ली के 1.9 करोड़ जनता के लिए 39 अस्पताल और 300 मोहल्ला क्लिनिक चल रहे है।

मोहल्ला क्लिनिक का मॉडल फेल

जिन मोहल्ला क्लिनिक पर लोगों की जान बचाने का दारोमदार था आज उन्हीं मोहल्ला क्लिनिक पर कोरोना को फैलाने का आरोप है यही नहीं मोहल्ला क्लिनिक के आस-पास पसरी गंदगी के कारण लोगों ने मोहल्ला क्लिनिक से तौबा कर ली है।

दिल्ली से मजदूरों को भगाया

कोरोना के कारण दिल्ली में फंसे लगभग 10 लाख मजदूरों के लिए जैसे ही केंद्र ने फंड की घोषणा की वैसे ही केजरीवाल ने अपनी सोशल मीडिया की टीम का सहारा लेकर मजदूरों में अफवाह फैला दी और जिस कारण मजदूरों को दिल्ली छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा। मजदूरों के लिए मिले राहत पैकेज से केजरीवाल और चमचों की पौ बारह हो गई।

विकास का रास्ता भटक चुकी दिल्ली को केजरीवाल ने विनाश के रास्ते पर पटक दिया है। पूरी दिल्ली कोरोना के दंश से बिल-बिला रही है। दिल्ली की जनता को मरने के लिए छोड़कर दिल्ली का मालिक अपनी राजनीति चमकाने में लगा हुआ है।

 

Leave a Reply