Home समाचार भारतीय सेना को पर्यावरण संरक्षण के लिए लेबनान में मिला प्रथम पुरस्कार

भारतीय सेना को पर्यावरण संरक्षण के लिए लेबनान में मिला प्रथम पुरस्कार

584
SHARE

भारतीय सेना के पराक्रम को दुनिया ने एक बार फिर सराहा है। संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन में लेबनान में तैनात भारतीय सेना को पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रथम पुरस्कार मिला है। भारतीय सेना के जवानों ने संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के तहत लेबनान में तैनाती के बात से ही यहां शांति स्थापना में सराहनीय कार्यय किए हैं।

भारतीय जवानों ने यहां पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी काफी काम किए हैं। मिशन के दौरान जवानों ने यहां बड़े पैमाने पर पौधारोपण का काम किया है। जवानों ने लेबनान में स्वच्छता अभियान के साथ प्लास्टिक रीसाइक्लिंग, ग्रीन हाउस निर्माण और कूड़ा फैलाने पर सख्ती जैसे अनेक काम किए हैं। इसकों लेकर लेबनान में भारतीय जवानों की काफी सराहना हो रही है।

लेबनान में संयुक्त राष्ट्र अंतरिम बल के प्रमुख मेजर जनरल स्टेफनो डेल कोल पुरस्कार के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इस बार कुल सात टीमों को पर्यावरण पुरस्कार दिए गए हैं। भारतीय टीम इसमें सबसे आगे रही है। पर्यावरण संरक्षण के लिए सालाना पुरस्कार की घोषणा पिछले साल दिसंबर में की गई थी।

इस समय दुनियाभर में 13 जगहों पर यूएन शांति मिशन चल रहे हैं। इसमें भारतीय सैनिकों का योगदान हमेशा सबसे बेहतर रहा है। भारत संयुक्‍त राष्‍ट्र के शांति अभियानों में सबसे ज्‍यादा सैनिकों का योगदान करने वाले देशों में से एक है।

भारतीय शांति सैनिकों को संयुक्‍त राष्‍ट्र का प्रतिष्ठित पदक
पिछले साल दिसंबर, 2019 में दक्षिण सूडान में तैनात लगभग 850 भारतीय शांति सैनिकों को समर्पण और बलिदान के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र का प्रतिष्ठित पदक प्रदान किया गया था। भारतीय शांति सैनिकों ने संघर्षग्रस्‍त दक्षिण सूडान में शांति बनाए रखने में उत्‍कृष्‍ट योगदान दिया। भारतीय जवानों ने स्‍थानीय समुदायों की सहायता करने के लिए अपने कर्तव्‍य से भी बढ़कर काम किया।

Leave a Reply