Home समाचार फहमीदा हसन पहले स्थानीय मस्जिद में नमाज पढ़कर दिखा दें, फिर पीएम...

फहमीदा हसन पहले स्थानीय मस्जिद में नमाज पढ़कर दिखा दें, फिर पीएम आवास पर अनुमति मांगे, सोशल मीडिया में उठी आवाज

188
SHARE

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पढ़ने का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच एनसीपी की नेता फहमीदा हसन खान ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री आवास के बाहर हनुमान चालीसा के साथ धार्मिक पाठ करने की अनुमति मांगी है। उन्होंने पत्र में लिखा, ‘मैं आपसे फहमीदा हसन खान कांदिवली मुंबई महाराष्ट्र से अनुरोध करती हूं कि मुझे भारत के प्रधानमंत्री आदरणीय नरेन्‍द्र मोदी जी के आवास के बाहर नमाज, हनुमान चालीसा, नवकार मंत्र और गुरु ग्रंथ पढ़ने की अनुमति प्रदान की जाए। कृपया मुझे इसके लिए दिन और समय भी बताएं।’

फहमीदा का कहना है कि अगर हिंदुत्व को जगाकर देश से महंगाई व बेरोजगारी कम हो सकती है और देश को फायदा होता है तो वह प्रधानमंंत्री मोदी के घर के बाहर सर्वधर्म पाठ करना चाहती हैं। फहमीदा हसन खान की इस मांग पर सोशल मीडिया में भी जबरदस्त प्रतिक्रिया व्यक्त की जा रही है। लोगों का कहना है कि फहमीदा मौजूदा विवाद में अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही हैं। अगर वो नमाज पढ़ने के प्रति इतनी गंभीर है, तो उन्हें पहले स्थानीय मस्जिद में नमाज पढ़ना चाहिए, उसके बाद प्रधानमंत्री आवास के सामने अनुमति मांगनी चाहिए। 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी के आवास के सामने नमाज और हनुमान चालीसा पढ़ने की इजाजत मांगने वाली महिला फहमीदा हसन खान वर्तमान में महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल एनसीपी के मुंबई-उत्तर के जिला कार्यकारी अध्यक्ष हैं। उन्होंने अपनी पार्टी के लेटर हेड पर गृह मंत्री अमित शाह के लिए लिखा है कि वह प्रधानमंत्री मोदी के आवास के सामने हर धर्म की पूजा करना चाहती हैं। जिसमें हनुमान चालीसा और नमाज भी होगी।

 

Leave a Reply