Home समाचार राजस्थान में दलित बीजेपी सांसद के घर पर हमला, हमलावरों की धमकी,...

राजस्थान में दलित बीजेपी सांसद के घर पर हमला, हमलावरों की धमकी, “न अंबेडकर बचाएगा और न मोदी और शाह, यह तो सिर्फ एक ट्रेलर है, अगली बार तेरे अंदर गोलियां भर देंगे”

460
SHARE

दलितों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ घड़ियाली आंसू बहाने वाले कांग्रेस नेता राहुल और प्रियंका राजस्थान को भारत का हिस्सा नहीं मानते हैं। इसलिए उन्होंने कांग्रेस शासित राज्य में दलितों के उत्पीड़न की घटनाओं पर चुप्पी साध रखी है। प्रदेश की गहलोत सरकार में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो चुके है कि वे अब खुलेआम बीजेपी के दलित महिला सांसद के घर पर हमला कर रहे हैं और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का नाम लेकर चुनौती दे रहे हैं।

राजस्थान में बेखौफ अपराधियों ने बीती रात भरतपुर की बीजेपी सांसद रंजीता कोली के आवास पर गोलीबारी की। हमलावरों ने रंजीता कोली के घर पर तीन गोलियां चलाईं। इसके बाद सांसद की तस्वीर वाले पोस्टर पर क्रॉस का निशान लगाकर उसपर जिंदा कारतूस चिपका दिया। साथ ही साथ एक धमकी भरा लेटर छोड़ा। इस लेटर में लिखा है, “दलित है, दलित बनकर रह। सारी सांसद गिरी निकाल देंगे। पहले तो एक बार छोड़ दिया तो नहीं मानी। औकात में रह, तेरे को न तो अंबेडकर बाबा साहब बचाएगा और न मोदी और शाह। हवा में उड़ रही है न तू। यह तो सिर्फ एक ट्रेलर है। अगली बार तेरे अंदर गोलियां भर देंगे।”

सांसद रंजीता ने बताया कि वो रात में खाना खाने के बाद 12 बजे के करीब सोने की तैयारी कर रही थी। इसी दौरान नीचे से तेज आवाज आई। ऐसा लगा किसी ने फायर किया हो। अचानक हुई इस आवाज से वो घबड़ा गई और खुद देखने के लिए नीचे गईं। जैसे ही उन्होंने घर का गेट खोला तो सामने ही धमकी भरा पोस्टर लगा हुआ मिला। पोस्टर पर गोलियां भी चिपकी हुई थीं। गोलीबारी की इस घटना के बाद से सांसद और उनके परिजन दहशत में हैं। रंजीता कोली की तबीयत लगातार बिगड़ रही है। बताया जा रहा है कि हमले के वक्त सांसद के घर पर उनके दोनों गनमैन मौजूद नहीं थे। हमले की जांच करने मौके पर पहुंची पुलिस को तीन खाली कारतूस मिले। हमलावरों का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है।

इस घटना के बाद बीजेपी ने कांग्रेस की गहलोत सरकार पर निशाना साधा। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया ने ट्वीट कर कहा, “राजस्थान की बिगड़ती कानून व्यवस्था के प्रतिदिन अनेक उदाहरण देखने को मिल रहे हैं; सांसद जैसे जनप्रतिनिधियों पर बार बार जानलेवा हमला हो रहा है; भरतपुर सांसद श्रीमती रंजीता कोली के घर पर हमला; आखिर राज्य के गृहमंत्री कब तक सोते रहेंगे; कानून व्यवस्था न सम्भले तो इस्तीफा दें।”

गौरतलब है कि बीजेपी सांसद रंजीता कोली पर दूसरी बार हमला किया गया है। इससे पहले 27 मई, 2021 को भी एक हमला किया गया था। उस समय वह धरसोनी गांव में कम्युनिटी हेल्थ सेंटर का दौरा करने पहुंची थी। हमले के बाद की तस्वीरों में देखा गया था कि उनकी गाड़ी के शीशे टूट गए थे और सीट पर ईंट-पत्थर भी थे। रंजीता कोली पहली बार भरतपुर की सांसद बनी हैं। उनका ताल्लुक भरतपुर के राजनीतिक परिवार से है। रंजीता के ससुर गंगाराम कोली दो बार भरतपुर के सांसद रह चुके हैं।

Leave a Reply