Home समाचार फंस गए कॉमेडियन कुणाल कामरा, कोर्ट की अवमानना का चलेगा केस, एटॉर्नी...

फंस गए कॉमेडियन कुणाल कामरा, कोर्ट की अवमानना का चलेगा केस, एटॉर्नी जनरल वेणुगोपाल ने दी सहमति

323
SHARE

बड़बोले कॉमेडियन कुणाल कामरा की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कुणाल कामरा पर अवमानना के मुकदमे के लिए सहमति दे दी है। जर्नलिस्ट अर्नब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट से जमानत दिए जाने के बाद कामरा ने सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस मामले मेंं श्रीरंग काटनेशवारकर ने अवमानना कार्रवाई के लिए लेटर पिटिशन भेजा था। इस पर गौर करने के बाद अटॉर्नी जनरल ने सहमति दी ही।

अटॉर्नी जनरल ने कहा है, ‘लोग समझते हैं कि कोर्ट के बारे में कुछ भी कह सकते है। मैंने ट्वीट देखे। आपराधिक अवमानना का मामला बनता है।’ उन्होंने कहा है कि फ्रीडम ऑफ स्पीच का मतलब देश की सर्वोच्च अदालत की गरिमा को ठेस को पहुंचाना नहीं है।

अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा कि कुणाल कामरा ने जो ट्वीट की है वह बेहद आपत्तिजनक है और ऐसे में कुणाल कामरा के खिलाफ अदालत के अवमानना की कार्यवाही शुरू हो सकती है। अटॉर्नी जनरल ने कहा है कि आजकल देखने को मिल रहा है कि लोग सीधे तौर पर सुप्रीम कोर्ट की निंदा करने लगे हैं। लोग समझते हैं कि अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर वह सीधे सुप्रीम कोर्ट और उसके जजों की निंदा कर सकते हैं।

दरअसल रिपब्लिक टीवी के एडीटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी की अंतरिम जमानत के बाद कुणाल कामरा ने सुप्रीम कोर्ट के बारे में कई अपमानजनक ट्वीट किए। कुणाल ने पहला ट्वीट किया, “जिस गति से सुप्रीम कोर्ट राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों को ऑपरेट करती है, उसको देखकर लगता है महात्मा गांधी के फोटो को हरीश साल्वे के फोटो से बदलने का वक्त आ गया है।”

कामरा ने दूसरे ट्वीट में आदेश देने वाले जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ के लिए अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। ट्वीट करते हुए कामरा ने लिखा, ‘डीवाई चंद्रचूड़ एक फ्लाइट अटेंडेंट हैं जो प्रथम श्रेणी के यात्रियों को शैम्पेन ऑफर कर रहे हैं क्योंकि वो फास्ट ट्रैक्ड हैं, जबकि सामान्य लोगों को यह भी नहीं पता कि वो कभी चढ़ या बैठ भी पाएंगे, सर्व होने की तो बात ही छोड़िए।’

 

 

 

Leave a Reply