Home समाचार यौनशोषण को लेकर कांग्रेस पार्टी का इतिहास

यौनशोषण को लेकर कांग्रेस पार्टी का इतिहास

3748
SHARE

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और इसके अन्य नेता बलात्कार की चुनिंदा घटनाओं को लेकर कैंडल मार्च निकालते हैं, जगह-जगह प्रदर्शन करते हैं। लेकिन प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता अपनी ही पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं के साथ मौका मिलते ही बदसलूकी और छेड़खानी पर उतर आते हैं। इस बदमिजाज और बदनियती की आदत कांग्रेसियों की सालों पुरानी है, उसकी एक लंबी फेहरिस्त है। हालांकि पहली बार हुआ है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष की पहल पर आयोजित कैंडल मार्च में पार्टी अध्यक्ष की मौजूदगी में एसपीजी सुरक्षा प्राप्त प्रियंका वाड्रा भी इस बदसलूकी शिकार हुई। 

यौनशोषण घटना नंबर 1 – कैंडल मार्च के दौरान प्रियंका गांधी के साथ बदसलूकी 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में इंडिया गेट पर 12 मार्च की आधी रात को कैंडल मार्च निकाला गया। इस कैंडल मार्च में राहुल गांधी के साथ प्रियंका वाड्रा और रॉबर्ट वाड्रा भी शामिल हुए। इस दौरान प्रियंका वाड्रा के साथ धक्का-मुक्की और बदसलूकी हुई। 

यौनशोषण घटना नंबर 2 – राहुल गांधी की मौजदूगी में पत्रकार मौसमी सिंह के साथ बदसलूकी
बलात्कार की घटनाओं पर राजनीति करने के लिए कैंडल मार्च निकालने वाले कांग्रेस का चरित्र महिलाओं के प्रति कैसा रहता है। उसका एक उदाहरण आजतक की पत्रकार मौसमी सिंह का वो वीडियो है जिसमें रो-रोकर मौसमी सिंह बता रही है की जब राहुल गांधी की महिला बचाओ कैंडल मार्च में वह मीडिया कवरेज के लिए गई तो इनके साथ कांग्रेस के लोगों ने क्या किया।

यौनशोषण घटना नंबर 3 – प्रदर्शन के दौरान महिलाओं के साथ पुरुष कार्यकर्ताओं ने की छेड़खानी
मुंबई में 15 अप्रैल, 2018 को कठुआ और उन्नाव बलात्कार के विरोध में कांग्रेस पार्टी के प्रदर्शन में शामिल महिला कार्यकर्ताओं ने पार्टी इकाई को लिखित में दिए शिकायत में कहा कि कैंडल मार्च के दौरान पुरुष सहयोगियों ने उनके साथ भीड़ का फायदा उठाया है और उनके साथ बदसलूकी की।

कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर छेड़खानी और बदसलूकी करने का आरोप कोई नया नहीं है। रेप की घटनाओं का एक पूरा इतिहास है, कांग्रेस पार्टी में। उदाहरण स्वरूप कुछ घटनाओं का जिक्र यहां कर रहे हैं –

यौनशोषण घटना नंबर 4 – सुभाष चौधरी बलात्कार मामला
हरियाणा कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुभाष चौधरी पर अक्टूबर, 2017 में दिल्ली के तुगलग रोड पुलिस स्टेशन पर रेप का एक मुकदमा दर्ज हुआ। आरोप है कि सुभाष चौधरी ने कांग्रेस के राज्यसभा सांसद के घर की नौकरानी के साथ दुष्कर्म किया। मामला चर्चा आने के बाद भी, इस मामले में राहुल गांधी ने चुप्पी साध ली। तब वह कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थे।

यौनशोषण घटना नंबर 5 – शिमला का गुड़िया गैंगरेप कांड
हिमाचल प्रदेश में शिमला का जघन्य गुड़िया गैंग रेप कांड काफी दिनों तक लोगों को विचलित किए हुए था। इस मामले में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में बनी राज्य सरकार के मुखिया वीरभद्र सिंह ने जो बयान दिया वह बहुत ही आपत्तिजनक था। उन्होंने कहा था कि ऐसा कोई देश या प्रदेश नहीं है, जहां अपराध नहीं होता। रेप और मर्डर जैसी घटनाएं होती रहती है लेकिन मीडिया इस मामले को जिस तरह दिखा रहा है उससे लगता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था चरमरा गई हो। इस मामले में आजतक राहुल गांधी के मुंह से बोल नहीं फूटे।

यौनशोषण घटना नंबर 6 – सैन्य अफसर की पत्नी ने किया अहमद पटेल पर बलात्कार का केस
वर्ष 2005 में सेना के एक अफसर की पत्नी सुनीता सिंह ने दिल्ली पुलिस से शिकायत की कि कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने उसके साथ बलात्कार किया। पीड़िता का कहना था कि वह पति की पिटाई से परेशान होकर घर से भाग गई और दिल्ली में राष्ट्रीय महिला आयोग में न्याय की गुहार लगाने आई थी। राष्ट्रीय महिला आयोग ने उसे नारी निकेतन भेज दिया। नारी निकेतन से राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य यास्मीन अबरार उसे अपने साथ घर ले गईं। उसी के घर में कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने उसके साथ बलात्कार किया। इस घटना के बाद भी, कांग्रेस में अहमद पटेल पर कोई कार्रवाई नहीं हुई और आज तक इस पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी चुप हैं।

यौनशोषण घटना नंबर 7 – शादी लाल बत्रा बलात्कार मामला
दिल्ली में राज्यसभा सांसद के खिलाफ रेप का यह सनसनीखेज मामला दर्ज किया गया। पेशे से वकील एक महिला ने हरियाणा से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य शादीलाल बत्रा के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। इस मामले में आज तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जुबान पर ताला बंद है।

रेप की घटना नंबर 8 – विधायक पर रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने का केस
केरल के कांग्रेस विधायक एम विंसेंट को रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया था। केरल पुलिस के अनुसार, 51 वर्षीय महिला ने विधायक के खिलाफ रेप के आरोप लगाए हैं। घटना के बाद महिला ने सुसाइड की भी कोशिश की थी।

यौनशोषण घटना नंबर 9 – विधायक हेमंत कटारे बलात्कार मामला
मध्यप्रदेश के भिंड जिले के अटेर विधानसभा क्षेत्र के विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ दुष्कर्म और अपहरण का प्रकरण दर्ज हुआ है। कटारे के खिलाफ एक महिला और उसकी बेटी प्रयांशु सिंह के द्वारा अलग-अलग दर्ज कराई गई शिकायतों के आधार पर अपहरण और दुष्कर्म का अलग-अलग थानों में प्रकरण दर्ज किया गया है। 

यौनशोषण घटना नंबर 10 – देश की सबसे वीभत्स घटना, अजमेर रेप केस
यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष फारुख चिश्ती, उपाध्यक्ष नफीस चिश्ती और संयुक्त सचिव अनवर चिश्ती ने देश का सबसे खौफनाक यौन शोषण की वारदात को अंजाम दिया था। इन तीनों ने मिलकर स्कूल की सैकड़ों बच्चियों का यौनशोषण किया था। यौनशोषण से पीड़ित बच्चियों में ज्यादातर बच्चियां हिन्दु समुदाय की थी। मामला उजागर होने के बाद, 8 स्कूली बच्चियों ने आत्महत्या कर ली।

Leave a Reply