Home समाचार फेक न्यूज फैलाते पकड़ी गई ‘ऑल्ट न्यूज’ की सह-संस्थापक, अमेरिका के मौजूदा...

फेक न्यूज फैलाते पकड़ी गई ‘ऑल्ट न्यूज’ की सह-संस्थापक, अमेरिका के मौजूदा विवाद से पीएम मोदी को जोड़ने की कोशिश

520
SHARE

वामपंथी एजेंडाधारी ‘ऑल्ट न्यूज़’ अक्सर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ प्रोपेगेंडा करता रहता है। हैरानी तब होती है जब फैक्ट चेकर वेबसाइट की संस्थापक ही फेक न्यूज फैलाते पकड़ी जाती है। ‘ऑल्ट न्यूज़’ की सह-संस्थापक सैम जावेद ने अमेरिका के मौजूदा विवाद से प्रधानमंत्री मोदी को जोड़ने की कोशिश की है। इसके लिए सैम जावेद ने प्रधानमंत्री के पुराने बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया और दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप का चुनाव प्रचार किया था।  

दरअसल अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने व्हाइट हाउस और कैपिटल बिल्डिंग के बाहर जमकर हंगामा किया। हिंसा के कारण वाशिंगटन डीसी में कर्फ्यू लगाना पड़ा। इस हंगामे की आलोचना पूरी दुनिया में हो रही है। इस घटनाक्रम से दुखी प्रधानमंत्री मोदी ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘वॉशिंगटन डीसी में दंगों और हिंसा के बारे में समाचार देखने के बाद परेशान हूं। सत्ता का व्यवस्थित और शांतिपूर्ण हस्तांतरण जारी रहना चाहिए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी विरोध प्रदर्शन के माध्यम से प्रभावित नहीं होने दिया जा सकता है।’


प्रधानमंत्री मोदी के इस ट्वीट के बावजूद ‘ऑल्ट न्यूज़’ की संस्थापक ने अमेरिकी घटनाक्रम को प्रधानमंत्री मोदी को बदनाम करने के अवसर के रूप में देखा और सितंबर 2019 के दौरान टेक्सस के ह्यूस्टन में हुए मेगा इवेंट की एडिटेड क्लिप साझा की। पूरी बारीकी से एडिट किए गए वीडियो के इस हिस्से में प्रधानमंत्री मोदी को कहते हुए सुना जा सकता है, “भारत के भीतर हम राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बहुत अच्छे से जुड़े हुए हैं। उम्मीदवार ट्रंप के शब्द, अबकी बार ट्रंप सरकार।” इस पर सैम जावेद ने ट्वीट करते हुए लिखा, “कभी भूलिएगा मत (never forget)।” 

सैम जावेद द्वारा किया गया यह दावा पूरी तरह गलत और भ्रामक है, क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी ने न तो डोनाल्ड ट्रंप का प्रचार किया था और न ही अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में हस्तक्षेप करने की कोशिश की थी। भारतीय प्रवासियों के सामने बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, “भारत में हम राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बहुत अच्छे से जुड़े हुए हैं। उनके शब्द, ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ आज भी हमारे आस-पास गूँजते हैं।”

गौरतलब है कि साल 2016 में अक्टूबर महीने में अमेरिकी चुनाव प्रचार के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका के भारतीय और हिन्दुओं के पास ह्वाइट हाउस में एक ‘दोस्त’ होगा। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी के प्रख्यात नारे (2014 आम चुनाव) ‘अबकी बार मोदी सरकार’ का उपयोग करते हुए ट्रंप ने कहा था, ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’।

Leave a Reply