Home समाचार पीएम मोदी के टीका लगाने के बाद एक दिन में टीकाकरण के...

पीएम मोदी के टीका लगाने के बाद एक दिन में टीकाकरण के टूटे सभी पुराने रिकॉर्ड्स, 5 मार्च को 15 लाख लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

468
SHARE

कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण एक मार्च से शुरू हुआ। प्रधानमंत्री मोदी खुद सुबह-सुबह नई दिल्ली स्थित एम्स पहुंचे और दूसरे चरण का पहला कोरोना का टीका लगवाया। प्रधानमंत्री मोदी के टीका लगवाने के बाद लोगों में टीकाकरण को लेकर काफी उत्साह और भरोसा देखा जा रहा है। पिछले 5 दिन में टीका लगवाने वालों की संख्या तेजी से बढ़ी है। सभी पुराने रिकॉर्ड्स को तोड़ते हुए 5 मार्च को 14.94 लाख लोगों ने टीके लगवाए। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 7 बजे तक के डेटा के मुताबिक, टीकाकरण के 49वें दिन कुल 14.94 लाख डोज दिए गए। इनमें 11.99 लाख पहले डोज थे, जबकि 2.92 लाख दूसरे डोज के तौर पर दिए गए। भारत में अब तक 1.94 करोड़ डोज दिए गए हैं। इसमें 1.59 करोड़ लोग पहला और 35.01 लाख लोग दूसरा डोज लगवा चुके हैं। बता दें कि 1 मार्च को 5.52 लाख डोज दिए गए थे।

1 मार्च से सरकार ने सीनियर सिटीजन और 45-59 साल के गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लोगों को टीकाकरण में शामिल किया। साथ ही निजी अस्पतालों को भी टीके लगाने के लिए अधिकृत किया। इसके बाद से आंकड़ों में तेजी आ रही है। पहली बार 24 घंटे में 5 लाख से ज्यादा सीनियर सिटीजन को टीका लगाया गया। इसके अलावा करीब 80 हजार ऐस लोग शामिल हैं, जो गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं।

देश में 16 जनवरी को हेल्थकेयर वर्कर्स को टीका लगाने के साथ कोरोना टीकाकरण की शुरुआत हुई थी। 2 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी वैक्सीन लगने लगी थी। 13 फरवरी से हेल्थकेयर वर्कर्स को दूसरा डोज दिया जा रहा है। फ्रंटलाइन वर्कर्स को दूसरा डोज देने की शुरुआत 2 मार्च को हुई।

गौरतलब है कि स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन की डोज लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कई संदेश देना का काम किया। दरअसल, इस वैक्सीन पर विपक्ष के कई नेताओं ने सवाल उठाया था। प्रधानमंत्री मोदी ने कोवैक्सीन की डोज लेकर विश्वसनीयता के संकट को दूर करने की कोशिश की। साथ ही आत्मनिर्भर भारत का नारा बुलंद किया और लोगों से बढ़-चढ़कर टीकाकरण कार्यक्रम में हिस्सा लेने की अपील की। अब इसका असर दिखाई दे रहा है।

Leave a Reply