Home पोल खोल PM Modi के पलटवार के बाद बैकफुट पर तो आए CM Channi,...

PM Modi के पलटवार के बाद बैकफुट पर तो आए CM Channi, लेकिन यूपी-बिहार की जनता से घमंडी चन्नी ने ‘भइया बयान पर’ न खेद जताया न माफी मांगी

1002
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के बयान पर पलटवार करने के बाद यूपी-बिहार वालों को ‘भइया’ कहने वाले चन्नी अब बैकफुट पर आ गए हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के सामने यूपी-बिहार के लोगों का अपमान करते वक्त प्रियंका के तालियां बजाने से चन्नी को लगता है कि उन्होंने कोई अच्छा भाषण दिया है। इसी के चलते घमंडी चन्नी ने यूपी-बिहार के करोड़ों लोगों का अपमान करने के बावजूद सिर्फ सफाई दी है। सीएम चन्नी ने अपने बयान पर न खेद जताया है और न ही माफी मांगी है।यूपी-बिहार के भइये को यहां फटकने नहीं देना है
सीएम चन्नी ने कहा था, पंजाबियों की बहू हैं प्रियंका गांधी… पंजाबन हैं, पंजाबियों की बहू हैं, पूरी ताकत के कि एक साथ हो जाओ पंजाबियों। यूपी के, बिहार के, दिल्ली के भइये यहां आकर राज करना चाहते हैं न, उन्हें फटकने नहीं देना है । हाथों के इशारे से चन्नी के यह कहते ही नारे लगने लगे और खुद प्रियंका गांधी हाथ उठाकर ताली बजाने लगीं। चन्नी ही नहीं, प्रियंका गांधी को भी समझ नहीं आया कि सीएम ने यूपी-बिहार के लोगों को कितना अपमान कर दिया है।

कांग्रेस हमेशा से एक क्षेत्र के लोगों को दूसरे से लड़ाती रही है
कांग्रेस, प्रियंका और चन्नी की अकल तब ठिकाने आई, जब पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को पंजाब के अबोहर में रैली को संबोधित किया। उन्होंने पंजाब के सीएम चरणजीत चन्नी के उस बयान पर पलटवार किया, जिसमें चन्नी ने यूपी-बिहार के भइयों का जिक्र किया था। मोदी बोले कि कांग्रेस हमेशा से एक क्षेत्र के लोगों को दूसरे से लड़ाती रही है । कांग्रेस के सीएम ने बयान दिया और दिल्ली के परिवार के मालिक ने बगल में खड़े होकर तालियां बजाईं। यह पूरे देश ने देखा है। अपने इन बयानों से किसका अपमान किया जा रहा है?

गुरु गोविंद सिंह और संत रविदास का अपमान कर रहे: पीएम मोदी 
मोदी ने कहा, “पंजाब का कोई ऐसा गांव नहीं होगा, जहां हमारे उत्तर प्रदेश या बिहार के भाई-बहन मेहनत न करते हों। कल ही हमने संत रविदास जी की जयंती मनाई। संत रविदास जी भी उत्तर प्रदेश के बनारस में पैदा हुए थे। कांग्रेस कहती है कि उत्तर प्रदेश के भइयों को घुसने नहीं देंगे। क्या संत रविदास जी को भी निकाल दोगे। श्री गुरु गोबिंद सिंह जी का जन्म भी पटना बिहार में हुआ। कांग्रेस कहती है कि बिहार के लोगों को घुसने नहीं देंगे। क्या यह लोग श्री गुरू गोबिंद सिंह जी का अपमान कर रहे हैं?’सीएम चन्नी ने फिर भी खेद जताया न माफी मांगी
इसके बाद सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को ख्याल आया कि पंजाब में विधानसभा चुनाव से चार दिन पहले वो कितना गलत बोल गए हैं! उन्होंने मीडिया के सामने आकर सफाई तो दी, लेकिन इतना सब होने के बावजूद सीएम ने उत्तर प्रदेश और बिहार के करोड़ों लोगों से माफी मांगने की जरूरत नहीं समझी। मंच से साफ-साफ बोलने से बावजूद चन्नी से घिसा-पिटा तर्क दिया कि उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है। जितने भी प्रवासी हैं, वह खून-पसीना लगाकर पंजाब को विकास के रास्ते पर ले गए हैं।केजरीवाल जैसे लोग यहां अराजकता फैलाने आए
चन्नी ने सफाई दी कि उन्होंने सिर्फ पंजाब में अराजकता फैलाने के लिए आए आम आदमी पार्टी वालों के लिए यह बात कही थी। चन्नी ने कहा कि केजरीवाल जैसे लोग पंजाब में अराजकता फैलाने के लिए आए हैं। चन्नी ने कहा कि मैं फिर कहना चाहता हूं कि जो दुर्गेश पाठक, संजय सिंह, अरविंद केजरीवाल जैसे लोग बाहर से आकर पंजाब में खलल डालते हैं, मैंने उनके लिए यह बात कही है।यूपी की बेइज्जती पर यूपी की बेटी ही तालियां बजाती रही
दूसरी ओर अमृतसर दौरे पर पहुंचे केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और प्रियंका गांधी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वह तो यूपी की बेटी हैं और उन्हीं की नजरों के सामने प्रवासियों को बेइज्जत किया गया। अफसोस की बात है कि यूपी वालों की बेइज्जती होती रही और प्रियंका मंच से तालियां बजाती रहीं। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को एक ही पिच पर बैटिंग के लिए लड़ने वाला खिलाड़ी बताया। उन्होंने कहा कि पंजाब में एक ही क्रीज पर दो बल्लेबाज बैटिंग कर रहे हैं। राजनाथ सिंह ने कहा केजरीवाल पंजाब को नशा मुक्त नहीं कर सकते। उन्होंने तो दिल्ली में गली-गली में ठेके खुलवा दिए हैं।

 

Leave a Reply