Home समाचार विज्ञान में युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए वैज्ञानिक करें भारतीय भाषाओं...

विज्ञान में युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए वैज्ञानिक करें भारतीय भाषाओं में संवाद: पीएम मोदी

555
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के युवाओं को आगे बढ़ने के लिए हमेशा प्रेरित करते रहते हैं। इस बार पीएम मोदी ने विज्ञान संबंधी संवाद में बड़े पैमाने पर भारतीय भाषाओं का इस्तेमाल करने की वकालत की है ताकि युवाओं में विज्ञान के प्रति लगाव विकसित किया जा सके। कोलकाता में प्रोफेसर सत्येन्द्र नाथ बोस की 125वीं जयंती के समारोहों के उद्घाटन कार्यक्रम को वीडियो-कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “देश के वैज्ञानिकों और अनुसंधानकर्ताओं को अपने ज्ञान और अनुसंधान का इस्तेमाल जनता के फायदे और उनकी सामाजिक-आर्थिक जरूरतों के लिए करना चाहिए। युवाओं के बीच विज्ञान की समझ और उसके प्रति प्रेम बढ़ाने के लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम विज्ञान से जुड़े संवाद को बड़े पैमाने पर प्रोत्साहित करें। इस संबंध में भाषा को अवरोधक नहीं, बल्कि इसे वाहक बनाना चाहिए।’’

वीडियो-कांफ्रेंसिंग के जरिए वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आगे कहा, “केंद्र ने एक अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) परियोजना की शुरुआत की है जिसमें सौर ऊर्जा, हरित ऊर्जा, जल संरक्षण और कचरा प्रबंधन जैसे क्षेत्रों में काम कर रहे अलग-अलग विज्ञान संगठन शामिल हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग बहुस्तरीय परियोजनाओं पर काम कर रहा है। एक वैज्ञानिक ढांचा प्रणाली बनाने का काम हमारी प्राथमिकता में है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हमें स्टार्ट-अप इंडिया और कौशल विकास मिशन जैसी योजनाओं को भी ध्यान में रखकर काम करने की जरूरत है।”

LEAVE A REPLY