Home समाचार जब कचरा बीनने वाली महिलाओं का हाथ बंटाने लगे पीएम मोदी

जब कचरा बीनने वाली महिलाओं का हाथ बंटाने लगे पीएम मोदी

499
SHARE

पीएम मोदी इन दिनों ‘प्लास्टिक मुक्त भारत’ का संदेश पूरे देश में फैला रहे हैं, इसी के तहत उन्होंने मथुरा से देश और दुनिया को ‘प्लास्टिक मुक्त भारत’ बनाने का संदेश दिया है। यहां कूड़ा बीनने वाली 25 महिलाओं के साथ बैठकर खुद पीएम मोदी ने कचरे से प्लास्टिक निकालीं। यही नहीं पीएम मोदी ने इस दौरान इन महिलाओं को सम्मानित भी किया और साथ ही उनके कार्यों में आने वाली दिक्कतों को भी जाना।

संतुलन बनाकर ही हो सकता है सशक्त और नए भारत के निर्माण

यहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि स्वच्छ भारत हो, जल जीवन मिशन हो या फिर कृषि और पशुपालन को प्रोत्साहन। प्रकृति और आर्थिक विकास में संतुलन बनाकर ही हम सशक्त और नए भारत के निर्माण की तरफ आगे बढ़ रहे हैं। आज स्वच्छता ही सेवा अभियान की शुरुआत हुई है, नेशनल एनीमल डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम को भी लॉन्च किया गया है। पशुओं के स्वास्थ्य, पोषण, डेरी उद्योग और कुछ अन्य परियोजनाएं भी शुरु हुई हैं। इसके अलावा मथुरा के इंफ्रास्ट्रक्चर और पर्यटन से जुड़े कई परियोजनाओं शुभारंभ भी हुआ है।

कचरा बीनने वाली महिलाएं बनेंगी ‘प्लास्टिक मुक्त भारत’ की ब्रांड एम्बेसडर

कचरा बीनने वाली इन 25 महिलाओं को प्लास्टिक मुक्त भारत का ब्रांड एम्बेसडर भी बनाया जाएगा। इससे पहले पीएम मोदी ने गायों की पूजा की और साथ ही गाय के पेट से प्लास्टिक निकालने के ऑपरेशन को लाइव देखा। वहीं कार्यक्रम के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सांसद हेमा मालिनी सहित तमाम नेता और अफसर मौजूद रहे।

आजादी के बाद पशुओं के लिए इतना बड़ा कार्यक्रम 

इसके साथ ही पीएम मोदी ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम की शुरुआत की। बता दें कि आजादी के बाद पहली बार पशुओं के लिए इतने बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पीएम राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम की भी शुरुआत करेंगे, जिसका उद्देश्य आगामी 5 साल में पशुओं में होने वाली घातक बीमारी को खत्म करना है। इसके साथ ही देशव्यापी कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम की भी शुरुआत होगी, जिसमें 600 जिलों में सौ-सौ गांव की 200-200 गायों का आगामी 6 माह में कृत्रिम गर्भाधान होगा। गायों की दशा सुधारने के लिए पहली बार देश में इतना बड़ा अभियान चलाया जा रहा है।

ब्रजभूमि ने पूरे विश्व और पूरी मानवता को प्रेरित किया

इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि ब्रजभूमि ने हमेशा से ही पूरे विश्व और पूरी मानवता को प्रेरित किया है। आज पूरा विश्व पर्यावरण संरक्षण के लिए रोल मॉडल ढूंढ रहा है, लेकिन भारत के पास भगवान श्रीकृष्ण जैसा प्रेरणा स्रोत हमेशा से रहा है जिनकी कल्पना ही पर्यावरण प्रेम के बिना अधूरी है। प्रकृति, पर्यावण और पशुधन के बिना जितने अधूरे खुद हमारे आराध्य नजर आते हैं उतना ही अधूरापन हमें भारत में भी नजर आएगा. पर्यावण और पशुधन हमेशा से ही भारत के आर्थिक चिंतन का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है।

Leave a Reply