Home झूठ का पर्दाफाश राहुल गांधी ने बोला दो सदियों का सबसे बड़ा झूठ, कहा- सिख...

राहुल गांधी ने बोला दो सदियों का सबसे बड़ा झूठ, कहा- सिख विरोधी दंगों में नहीं था कांग्रेस का ‘हाथ’

184
SHARE

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 1984 के सिख दंगों को लेकर सफेद झूठ बोला है। लंदन में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जब उनसे पत्रकारों ने सिख विरोध दंगों में कांग्रेसी रोल के बारे में पूछा तो उन्होंने उसमें कांग्रेस का हाथ होने से साफ इनकार कर दिया। राहुल गांधी के मुताबिक,” उसे (दंगों) लेकर मेरे दिमाग में कोई उलझन नहीं है। वह एक त्रासदी थी। एक दर्दनाक अनुभव था। (लेकिन) अगर आप कहें कि उसमें कांग्रेस पार्टी शामिल थी तो मैं सहमत नहीं हूं।” जबकि, यह ऐतिहासिक तथ्य है कि खुद उनके पिता पूर्व पीएम राजीव गांधी ने सिख विरोधी दंगे को उचित बताने की कोशिश की थी। हालांकि, राहुल गांधी के झूठे बयान के बाद उनके बचाव में कांग्रेस ने भी झूठ पर झूठ बोलना शुरू कर दिया है।

सबसे पहले राहुल गांधी के ऐतिहासिक झूठ वाला वीडियो देखिए-

राजीव गांधी ने कहा था- जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है
दरअसल, राहुल गांधी अपनी इस पलटबयानी से अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को ही झुठलाने में लगे हैं। जबकि, 1984 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उन्होंने सिख विरोधी हिंसा का यह कहकर बचाव किया था कि, ‘जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो आसपास की धरती हिलती है।’

सच्चाई ये भी है कि कांग्रेस की इस हरकत के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने माफी भी मांगी थी। 34 साल पहले दिए गए राजीव गांधी के उस बयान को हाल ही में उनकी जयंती पर पश्चिम बंगाल कांग्रेस ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर स्वीकार भी किया था। लेकिन विवाद होने के डर से बाद में उसे डिलीट कर दिया था।

राहुल गांधी के ऐतिहासिक झूठ पर भड़का अकाली दल
अकाली दल ने कहा है कि राहुल गांधी के बयान ने दंगा पीड़ित सिखों के जख्मों पर नमक डाला है। अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि उनके बयान से लगता है कि वे दंगाइयों के साथ हैं। जबकि केंद्रीय मंत्री और अकाली नेता हरसिमरत कौर ने कहा है कि अगर उनकी बातें मान लें कि सिखों का नरसंहार नहीं हुआ था तो क्या उनके पिता और दादी हार्ट अटैक से मरे थे?

राहुल के झूठ के बचाव में कांग्रेस का झूठ
कांग्रेस राहुल गांधी के झूठ पर यह कहकर बचाव में लग गई है कि उनपर सवाल थोपा गया था। कांग्रेस के आधिकारिक बयान के मुताबिक, ‘एक थोपे हुए और विरोधी सवाल, जिसमें कहा गया था कि कांग्रेस, 1984 के दंगों में आपराधिक रूप से शामिल थी। राहुल गांधी ने इस पर कहा कि यह बयान गलत है। कांग्रेस दंगों में आपराधिक रूप से शामिल नहीं थी।

LEAVE A REPLY