Home नरेंद्र मोदी विशेष देश के लिए एक पल भी आराम नहीं करते हैं पीएम मोदी

देश के लिए एक पल भी आराम नहीं करते हैं पीएम मोदी

606
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के प्रति समर्पण जगजाहिर है। प्रधानमंत्री बनने के बाद करीब साढ़े तीन साल में उन्होंने एक दिन भी छुट्टी नहीं ली। प्रधानमंत्री मोदी के जीवन के सिर्फ एक ही मायने हैं भारत माता के लिए काम ही काम। प्रधानमंत्री मोदी यह सब कर पाते हैं समय का सदुपयोग करके। भारी व्यस्तता के बीच प्रधानमंत्री मोदी समय का सदुपयोग किस तरह से करते हैं इसकी एक झलक आप 18 फरवरी को उनके कार्यक्रम से देख सकते हैं।

रविवार 18 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी का दिनभर व्यस्त कार्यक्रम रहा। सुबह सरकारी काम निपटाने के बाद 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर स्थित बीजेपी के नए हेडक्वार्टर का उद्घाटन किया। इस मौके पर उनके साथ पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, राजनाथ सिंह, और वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी मौजूद रहे। 

दिल्ली बीजेपी मुख्यालय से प्रधानमंत्री मोदी मुंबई रवाना हो गए। पीएम मोदी ने मुंबई में कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुंबई में मेगा ग्लोबल निवेशक सम्मेलन मैग्नेटिक महाराष्ट्र कन्वर्जेंस 2018 का उद्घाटन किया।

प्रधानमंत्री ने नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला रखी। इस दौरान उन्होंने कहा कि कई सरकारें आई होंगी, लेकिन हवाई अड्डा नहीं बन सका। उन्होंने कहा कि इसके पीछे सरकार के काम करने के तौर तरीके सबसे बड़ी बात है। इसके साथ ही पीएम ने जवाहर लाल नेहरु पोर्ट ट्रस्ट के चौथे कंटेनर टर्मिनल का लोकार्पण भी किया।

मैग्नेटिक महाराष्ट्र सम्मेलन के बाद प्रधानमंत्री ने वाधवानी इंस्टीट्यूट ऑफ आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, राष्ट्र को समर्पित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी मुंबई यात्रा के दौरान रविवार शाम लीलावती अस्पताल में भर्ती गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को देखने पहुंचे। पर्रिकर अग्नाशय से संबंधित समस्या से पीड़ित हैं, और उनका लीलावती अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मुंबई के बाद प्रधानमंत्री मोदी रविवार रात में कर्नाटक के मैसूर पहुंचे। प्रधानमंत्री सोमवार को यहां मैसूर और उदयपुर के बीच पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रैस ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के साथ ही कई अन्य परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे। श्री मोदी श्रवणबेलगोला में भगवान बाहुबली के महा मस्तकाभिषेक उत्सव में भी शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री मोदी स्वयं को राष्ट्रसेवक कहना पसंद करते हैं, वो स्वयं को राष्ट्रसेवक भले ही कहें, लेकिन वो असल राष्ट्रनायक हैं। वो एक बेहतरीन रिफॉर्मर हैं, जिनके सम्मान में अब सारी दुनिया सजदा करने को तैयार है। पिछले साढ़े तीन साल में प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने जो नीतियां अपनाई हैं उससे हर क्षेत्र में विकास को गति मिली है और यही है जो पीएम मोदी को रीयल लीडर बनाते हैं।

LEAVE A REPLY