Home वाराणसी विशेष प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी दौरे पर करेंगे कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत

प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी दौरे पर करेंगे कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत

333
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 22 और 23 सितंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी का दौरा करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री के कार्यक्रमों में विविध रुप से बुनियादी सुविधाएं, रेलवे, वस्त्र, वित्तीय समावेश, पर्यावरण और स्वच्छता, पशुपालन, संस्कृति और आध्यात्मिकता शामिल है। प्रधानमंत्री बाड़ा लालपुर में देश को दीनदयाल हस्तकला संकुल- हस्तशिल्प के लिए एक व्यापार सुविधा केंद्र समर्पित करेंगे। वह संक्षिप्त रुप से संकुल में सुविधाओं का निरीक्षण करेंगे। 

वाराणसी यात्रा से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया कि मैं कल (शुक्रवार) से वाराणसी के दौरे पर रहूंगा और विकास से जुड़े कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करूंगा।

  • प्रधानमंत्री शहर में विभिन्न विकास कार्यों की आधारशिला की पट्टिकाओं को रखेंगे और शहर को विभिन्न विकास कार्य समर्पित करेंगे।
  • प्रधानमंत्री उत्कर्ष बैंक की बैंकिंग सेवाओं का उद्घाटन करेंगे, और बैंक के मुख्यालय की इमारत की आधारशिला के लिए एक पट्टिका का भी अनावरण करेंगे। उत्कर्ष बैंक को माइक्रो फाइनेंस के क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल है।
  • प्रधानमंत्री एक वीडियो लिंक के माध्यम से वाराणसी के लोगों को एक जल एम्बुलेंस सेवा और एक जल शव वाहन सेवा भी समर्पित करेंगे।
  • 22 सितंबर की शाम को, प्रधानमंत्री वाराणसी के ऐतिहासिक तुलसी मानस मंदिर का दर्शन करेंगे। वे “रामायण” पर डाक टिकट जारी करेंगे। बाद में, वे शहर के दुर्गा माता मंदिर का दर्शन करेंगे।
  • 23 सितंबर को, प्रधानमंत्री संक्षिप्त रूप से शहंशाहपुर गांव में एक स्वच्छता संबंधी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसके बाद वे एक पशुधन आरोग्य मेला जाएंगे।
  • प्रधानमंत्री, ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित करेंगे, और सभा को संबोधित करेंगे।

वाराणसी-वडोदरा महामना एक्सप्रेस को झण्डी दिखाएंगे

प्रधानमंत्री मोदी 22 सितम्बर, 2017 को वाराणसी में वीडियो कॉनफ्रेन्सिंग के जरिए वाराणसी और वडोदरा के बीच चलने वाली तीसरी महामना एक्सप्रेस को झण्डी दिखाकर रवाना करेंगे। इस अवसर पर रेल मंत्री पीयूष गोयल और गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन भाई पटेल वडोदरा स्टेशन पर तथा केंद्रीय रेल और संचार राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) सूरत रेलवे स्टेशन पर उपस्थित रहेंगे।

  • अपनी पहली यात्रा में यह रेलगाड़ी वडोदरा-वाराणसी स्पेशल ट्रेन (संख्या 09103) के नाम से चलेगी और वडोदरा से 22 सितम्बर, 2017 को प्रस्थान करके 23 सितम्बर, 2017 को वाराणसी पहुँचेगी।
  • इसी प्रकार वापसी में यह रेलगाड़ी, वडोदरा-वाराणसी स्पेशल ट्रेन (संख्या 09104) वाराणसी से 23 सितम्बर, 2017 को 22:00 बजे प्रस्थान करेगी और 25 सितम्बर, 2017 को 01.50 बजे वडोदरा पहुँचेगी।
  • पहली यात्रा के पश्चात् 27 सितम्बर, 2017 से इस ट्रेन की नियमित सेवा प्रारम्भ हो जाएगी। ट्रेन संख्या 20903 वडोदरा-वाराणसी साप्ताहिक सुपरफास्ट महामना एक्सप्रेस वडोदरा से प्रत्येक बुधवार को 19.40 बजे खुलेगी और अगले दिन 22.20 बजे वाराणसी पहुँचेगी।
  • इसी प्रकार वापसी में यह ट्रेन संख्या 20904 वाराणसी-वडोदरा साप्ताहिक सुपरफास्ट महामना एक्सप्रेस वाराणसी से प्रत्येक शुक्रवार को 06.10 बजे प्रस्थान करेगी और अगले दिन 9.40 बजे वडोदरा पहुँचेगी
  • रास्ते में ट्रेन भरूच, सूरत, अमलनेर, भुसावल, इटारसी, जबलपुर, कटनी, सतना और छिओकी स्टेशनों पर रुकेगी। ट्रेन में एसी-1, एसी-2, शयनयान श्रेणी और दूसरी श्रेणी के साधारण डिब्बे होंगे।
  • महामना एक्सप्रेस की पहली यात्रा के लिए टिकट की बुकिंग तत्काल प्रभाव से प्रारम्भ हो गई है। ट्रेन की नियमित सेवा के लिए टिकट बुकिंग 22 सितम्बर, 2017 से प्रारम्भ होगी।
  • दो अन्य महामना एक्सप्रेस ट्रेन-22163/64 भोपाल खजुराहो और 22417/18 वाराणसी दिल्ली पहले से ही चल रहे हैं।

महामना एक्सप्रेस की मुख्य विशेषताएं

  • बेहतर सुरक्षा के लिए मॉड्यूलर पैनल।
  • पैनल निर्माण के लिए उच्च श्रेणी के धातुओं का उपयोग।
  • सभी शयनयान डिब्बों में ऊपर की सीट के लिए विशेष रूप से डिजाइन की गई सीढ़ी का उपयोग।
  • सुन्दरता को ध्यान में रखते हुए विशेष रूप से डिजाइन किए गए शौचालय। यात्रियों की सुविधा के लिए बड़ा दर्पण, एलईडी लाइट, डस्ट बीन, एग्जॉस्ट फैन, दुर्गंध नियंत्रण व्यवस्था आदि।
  • विद्युत जंक्शन को यात्री क्षेत्र से स्थानांतरित करके गैर यात्री क्षेत्र में लाया गया है।
  • ई-बीम केबल का उपयोग।
  • बेहतर प्रकाश व्यवस्था के लिए एलईडी लाइट का उपयोग। यह बिजली की खपत कम करेगा और बेहतर रोशनी प्रदान करेगा।
  • सभी डिब्बों में मोबाइल/लैपटॉप चार्ज करने की सुविधा।
  • सभी डिब्बो में अग्नि शमन यंत्रों की सुविधा।
  • भोजन यान में विद्युत चालित चिमनी का उपयोग।
  • मालवाहक डिब्बे में स्टेनलैस स्टील के पैनल का उपयोग।

LEAVE A REPLY