Home नरेंद्र मोदी विशेष हम अलग मिट्टी के बने हैं, चुनौतियों को स्वीकार कर आगे बढ़ते...

हम अलग मिट्टी के बने हैं, चुनौतियों को स्वीकार कर आगे बढ़ते हैं: पीएम मोदी

145
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीरभूमि उदयपुर से देशवासियों को कई महत्वपूर्ण सड़क योजनाओं की सौगात दी। उन्होंने कई परियोजनाओं का लोकार्पण किया, साथ ही कई प्रोजेक्ट का डिजिटल भूमि पूजन भी किया। लोकार्पण और शिलान्यास वाली इन तमाम योजनाओं की लागत 15,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की है।  

चुनौतियों को स्वीकार कर आगे बढ़ने की आदत

इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी रैली में कहा कि उन्हें विरासत में अव्यवस्थाओं का भंडार मिला जिसे देखकर कोई ढीलाढाला इंसान होता तो शायद डर जाता, लेकिन हम जरा अलग मिट्टी के बने हैं। हमें चुनौतियों को चुनौती देने की आदत है, चुनौतियों को स्वीकार करके नये-नये रास्तों का निर्माण करते हुए हम देश को आगे ले जाने का काम करते रहेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि पुराने जमाने में सरकारें लंबी परियोजनाओं से भागती रहती थीं, लेकिन हम इस चैलेंज को कबूलकर काम कर रहे हैं, जिसका फायदा लंबे समय के बाद भी दिखेगा।

योजना शुरू करके उसे पूरा करने में विश्वास

पीएम मोदी ने कहा कि एक ही कार्यक्रम में 9000 करोड़ रुपए का काम शुरू करना एक ऐतिहासिक घटना है। उन्होंने कहा कि अगर यही काम कई हिस्सों में करते तो राजस्थान के अगले चुनाव तक राजनीति की रोटी सेंकते रहे, लेकिन उनकी सरकार योजनाओं को शुरू कर उसे तेजी में पूरा करने में विश्वास रखती है। प्रधानमंत्री ने उदाहरण के साथ बताया कि कैसे सरकार-सरकार में फर्क होता है। उन्होंने कहा कि कैसे एक सरकार के दौर में शुरू हुआ 300 करोड़ से भी कम के बजट का काम 11 साल ले लेता है और कैसे आज मौजूदा सरकार है जो महज तीन साल में 5600 करोड़ के बजट वाली परियोजनाओं को अंजाम तक पहुंचा देती है।

देश को बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर की जरूरत  

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राजस्थान की सड़कें पैसा उगलने की ताकत रखती हैं। दुनिया भर के लोग राजस्थान आना चाहते हैं, इसके लिए हमें बेहतर  इन्फ्रास्ट्रक्चर चाहिए। सड़कें बेहतरीन होंगी तो टूरिज्म को भी फायदा होगा और हमारे समाज का हर वर्ग भी इसका लाभ उठाएगा। उन्होंने कहा कि सड़कों के आधुनिकीकरण से किसान को भी बहुत फायदा होगा। बाजार तक उनके सामान की पहुंच तेज होगी। वक्त पर पहुंचने से किसानों की फसल, फल, फूल, सब्जी और दूध हर चीज की बरबादी रुकेगी। 

GST से दिख रहे कई सकारात्मक बदलाव

पीएम ने कहा कि मौजूदा सरकार अत्याधुनिक तरीकों के साथ देश को आगे ले जाने का संकल्प रखती है। उन्होंने कहा कि GST आया तो लोगों को लगा कि क्या होगा लेकिन आज लोग टैक्स की इस व्यवस्था के साथ सहज हैं। उन्होंने कहा कि GST की सफलता देश के सवा सौ करोड़ नागरिकों की क्षमता का परिचय दे जाती है। GST के कारण ट्रांसपोर्टेशन में भी काफी फायदा हुआ है, ट्रकों को गंतव्य तक पहुंचने में पहले अगर पांच दिन लगते थे तो अब नाके पर चुंगी का चक्कर खत्म होने से महज तीन दिन लगते हैं।

देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए हमारी व्यवस्थाओं को भी आधुनिक बनाना होगा। मौजूदा सरकार रेल, रोड, पानी की व्यवस्था और  पोस्टल कनेक्टिविटी जैसी सुविधाओं के साथ ही ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क बिछाने में भी लगी है। उन्होंने कहा कि ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से देश का भविष्य संवरेगा, सुविधाओं का अंतर मिटेगा और गांवों में भी शहर वाली सुविधाएं मिलेंगी।

LEAVE A REPLY